यूक्रेन युद्ध ने कई गरीब देशों की अर्थव्यवस्था के लिए तबाही का खतरा पैदा किया : संरा

संयुक्तराष्ट्र,14अप्रैल(एपी)यूक्रेनपररूसकेहमलेकेबादशुरूहुएयुद्धनेअनेकविकासशीलदेशोंकीअर्थव्यवस्थाकेलिएतबाहीकाखतरापैदाकरदियाहै।येदेशपहलेहीखाद्यान्नऔरईंधनकीबढ़तीकीमतोंकासामनाकररहेहैंसाथहीजटिलआर्थिकहालातसेजूझरहेहैं।संयुक्तराष्ट्रकार्यबलनेबुधवारकोयहचेतावनीदी।संयुक्तराष्ट्रमहासचिवएंतोनियोगुतारेसनेएकरिपोर्टजारीकीऔरकहाकियुद्धगरीबदेशोंमेंभोजन,ईंधनतथाआर्थिकसंकटकोऔरगहराकररहाहै।येदेशपहलेसेहीमहामारी,जलवायुपरिवर्तनऔरआर्थिकसुधारकेलिएधनकीकमीसेनिपटनेमेंसंघर्षकररहेहैं।गुतारेसनेएकसंवाददातासम्मेलनमेंकहा,‘‘हमअबएकतूफानकासामनाकररहेहैंजोकईविकासशीलदेशोंकीअर्थव्यवस्थाओंकोतबाहकरनेकीचेतावनीदेताहै।लगभग1.7अरबलोगअबभोजन,ऊर्जाऔरवित्तप्रणालियोंमेंसंकटकीजदमेंआनेकेकरीबहैं।इनमेंसेएकतिहाईलोगपहलेहीगरीबीमेंजीरहेहैं।’’व्यापारऔरविकासकोबढ़ावादेनेवालीसंयुक्तराष्ट्रएजेंसीकीमहासचिवरेबेकाग्रिनस्पैननेकहाकियेलोग107देशोंमेंरहतेहैं,जिनकेकिसीनकिसीसंकटकीजदमेंआनेकाकाफीजोखिमहै।रिपोर्टकेअनुसार,इनदेशोंमेंलोगस्वस्थआहारनहींलेपारहेहैं,भोजनऔरऊर्जाकीजरूरतोंकोपूराकरनेकेलिएआयातआवश्यकहै,लेकिनकर्जकाबोझऔरसीमितसंसाधनअनेकवैश्विकवित्तीयस्थितियोंसेनिपटनेकीसरकारकीक्षमताकोसीमितकरतेहैं।एपीशोभनामनीषामनीषा