यीशु विश्वासियों का बड़ा केंद्र भला गड़ेरिया चर्च

अशोकमहतो,बंडामुंडा

सुंदरगढ़जिलेकेबंडामुंडाडुमेरतास्थितभलागरेडियाकैथोलिकचर्चआसपासके19गांवोंकेकरीब1261परिवारोंकेआस्थाकाबड़ाकेंद्रहै।इनगावोंकेलोगचर्चमेंअपनेपापोंकीक्षमातथाजीवनकोउज्ज्वलबनानेकेलिएहररविवारकोप्रार्थनाकेलिएपहुंचतेहैं।यहांक्रिसमसकेसाथअन्यत्योहारकेमौकेसैकड़ोंकीसंख्यामेंलोगजुटतेहैं।भलागड़ेरियाचर्चबंडामुंडाराउरकेलाधर्मप्रांतके43पारिस(बड़ागिरिजाघर)मेंसेएकहै।1918से1968तकपचाससालतकयहहमीरपुरपल्लीकाअंशथा।1968मेंभलागड़ेरियाकैथोलिकचर्चबंडामुंडाकोपारिसकादर्जामिलाएवंइसकेपहलेपुरोहितफादरमरियनजेलाजेकएवीडीथे।जो21मार्च1950कोपोलैंडसेओडिशाआएथे।उन्होंनेअपने25सालकाजीवनहमीरपुरऔरबंडामुंडामेंहीगुजारा।

पारिसबननेसेपहलेडुमरेतास्कूलमेंथामिट्टीसेबनाचर्च

इसचर्चकेपारिसबननेसेइसक्षेत्रकेलिएपहलेमिट्टीसेनिर्मितगिरजाघरडुमेरतास्कूलमेंथा।वर्तमानपारिसगिरजाघरकोफादरमरियननेहीबनवाया।1975तकवेभलागड़ेरियाकैथोलिकचर्चबंडामुडापारिसकेपल्लीपुरोहितरहे।फादरमरियनकेप्रयाससे1973मेंपवित्रआत्मासमाजकेधर्मबहनोंकाआगमनहुआ।वर्तमानसिस्टरप्रार्थना,पारिसकेकामकेसाथसाथशिक्षा,महिलाएवंबच्चोंकेविकासकेलिएसमर्पणभावसेकामकररहीहैं।

लोगोंकीआर्थिकदशासुधारनेकेलिएकियासेवाकार्य

फादरमरियनकेप्रार्थनाऔरसेवामयजीवनसेबंडामुंडासेजराईकेलातककेसभीधर्म,जातिएवंसमाजकेलोगप्रभावितथे।उन्होंनेउनकीआर्थिकदशासुधारनेकेलिएकईतरहकेकामकिए।जिसकेफलस्वरूपक्षेत्रकेलोगभीफादरमरियनकोयीशुकोहमारेचरवाहाकीतरहमानतेथे।इनकाप्रभावबंडामुंडापारिसक्षेत्रमेंबढ़ताएवंफैलतागया।फादरमरियननेपल्लीकेलोगोंकोआध्यात्मिकजरूरतोंकोपूराकरनेकेलिएसंस्कारप्रदानकरने,धर्मएवंस्कूलीशिक्षा,विभिन्नप्रकारकीपरिस्थितिएवंआवश्यकताकेअनुसारसेमीनार,प्रशिक्षण,सलाहसुझावकेलिएकलिशियासेवापहुंचनेकेलिए15जनपल्लीपुरोहितएवं21सहायकपुरोहितोंकीनियुक्तिकी।जिनमेंफादरजोनजामरिक,फादरपिटर,फादरफ्रांसिसपेलजर,फादरपिटरडीकुन्हा,फादरजोमोन,फादरसेंटालियसबेडानयाग्याम,फादरफेडरिकसांथुम्योर,फादरवेलेंटाइनसोरेन,फादरहरमनमिज,फादरजोसफटोप्पो,फादररंजीतकेरकेटा,फादरइसिदोरकिडो,फादरहेरमनमिजशामिलहैं।वर्तमानमेंफादरहेरमनमिजऔरफादररेमेजियूससोरेंगपल्लीकाकार्यभारसंभालरहेहैं।

नौदिनतकविशेषप्रार्थनाकाआयोजन:

बंडामुंडाचर्चमें17दिसंबरसेनौदिनतकविशेषप्रार्थनाकाआयोजनकियाजारहाहै।क्रिसमसकेमौकेपरगिरजाघरकोखासतरहसेसजायाजारहाहै।24दिसंबरकोरात9.30बजेसेक्रिसमसकात्योहारधूमधामसेमनायाजाएगा।इसदिनचर्चकोफूलोंसेसजायाजाएगा।यीशुकेजन्मकेदृश्य,सुसज्जितचरनीकोभीझांकीकेजरिएदर्शायाजाएगा।

वर्तमानमेंदेशऔरसमाजतथाव्यक्तिगतजीवनमेंहरतरहकीबुराईएवंपापकोविनाशकरनेकेलिएहमप्रार्थनाकरतेहैं।अपनेजीवनऔरदुनियामेंशांतिकेलिएप्रार्थनाकरतेहैं।दयाऔरभलेकामोंसेअपनेदिलऔरआत्मामेंईश्वरकीजगहबनातेहैं।क्रिसमसमेंहमईश्वरमानवरूपधरतीमेंआतेहैं।उसेमानतेहैंयानिप्रभुयीशुºीस्टजन्मदिनमनातेहैं।येत्योहारप्रेम,शांतिएवंभाईचाराकापर्वहै।

-फादरहेरमनमिज,बंडामुंडाचर्च