'विकास' के आंगन में पेंशन की 'टेंशन'

जागरण,संवाददाता,मथुरा:जिलेकेविकासकीसभीयोजनाएंयहींसेपरवानचढ़तीहैं।यहीकारणहैकिलड़खड़ातेहुएकदमोंसेगुरुवारकीसुबहकरीबग्यारहबजेसत्तरवर्षीयवद्धाशांतिदेवीराजीवभवनपहुंचीं।वहसमाजकल्याणविभागकेएकबाबूकेसामनेगिड़गिड़ाकरपेंशनकीमांगकररहीथीं।वृद्धासमाजवादीपेंशनकीलाभार्थीथीं,लेकिनअबउनकोपेंशननहींमिलरहीहै।

बाबूनेसमझाया,लेकिनवृद्धाकोबाबूकीबातपरयकीननहींहुआ।वहसमाजकल्याणअधिकारीसेमिलींऔरफिरअपनीबातदोहरातेहुएअपनीपीड़ाभीबताई।समाजकल्याणअधिकारीनेसमाजवादीपेंशनबंदहोनेकीबातकहीतोवृद्धाबोलीं,सरकारबदलगईतोहुजूरइसमेंहमारौकसूरक्याहै?मौयेतोपेंशनदिलवादो।

राजीवभवनकेगलियारेमेंअकेलीशांतिदेवीहीनहीं,औरभीगरीब-मजदूरपेशनकेलिएभटकरहेथे।पूजाएंक्लेवसेआएसाठवर्षीयबच्चू¨सहभीसमाजकल्याणविभागकार्यालयकीतरफउम्मीदभरीनिगाहोंसेदेखरहेहैं।वहयहांइसीआशाकेसाथआएहैंकिआजउनकोपेंशनमिलजाएगी।वहअप्रैल2017सेवृद्धापेंशनकेलिएसमाजकल्याणअधिकारीकार्यालयआरहेहैं।उनकोअभीतकपेंशननहींमिलीहै।बच्चू¨सहनेबतायाकिबाबूसेपूछतेहैंतोवहब्लॉकपरजानकारीकेलिएकहतेहैं,ब्लॉकपरजातेहैंतोवहांकहदियाजाताहैकिअभीउनकीपेंशनमंजूरनहींहुईहै।साठसालकीआयुमेंअपनेजेबखर्चेकेलिएपेंशनपानेकोदौड़-धूपकरतेचलेआरहेहैं।उनकीपेंशनकीकार्रवाईकिसस्तरपररुकी।यहजानकारीभीउनकोनहींमिलपारहीहै।सरकारनेसमाजवादीपेंशनकोबंदकरदियाहै।जिलेमें37हजारसेअधिकगरीबमजदूरोंकोसमाजवादीपेंशनमिलतीथी।

हमारेससुरदेवालालकी2015मेंमृत्युहोगई।उनकीपेंशनकीरकमबैंकमेंहैं।बैंकसेधनराशिनहींमिलरहीहै।उसनेअपनेससुरकीमृत्युकाप्रमाणपत्रभीदिखादिया।बैंककर्मीकोर्टकाआदेशलानेकीबातकहरहेहैं।विभागीयअधिकारियोंसेबातचीतकीतोवहभीकोईसुनवाईनहींकररहेहैं।

अप्रैल2017मेंवृद्धावस्थापेंशनकेलिएआवेदनकियाथा,लेकिनअबतकपेंशनशुरूनहींहोसकीहै।यहांपताकरनेकेलिएआताहूंतोबाबूकहदेतेहैंकिब्लॉकपरपूछो,ब्लॉकपरजबावमिलताहैकीविभागसेहीमंजूरीनहींमिलीहै।पतानहींयेकितनेचक्करऔरकटवाएंगे।

बच्चू¨सह,पूजाएंक्लेव

अप्रैल2017तक500रुपयेमासिकपेंशनमिलतीथी,लेकिनअबकईमहीनोंसेपेंशननहींमिलरहीहै।इंतजारकरते-करतेयहांआनापड़ा।अबकहाजारहाहैकिसमाजवादीपेंशनबंदहोगई।पेशनकेलिएनयाआवेदनकरनापड़ेगा।आयप्रमाणपत्र,आधारकार्डमांगाजारहाहै।समझनहींआरहाहै,आखिरअबक्याकरें।

शांतिदेवी,बिरलामंदिर

समाजवादीपेंशनयोजनाबंदकरदीगईहै।अबपेंशनकेलाभार्थीवृद्धावस्था,दिव्यांगऔरविधवापेंशनकीस्कीमचालूहै।इसकेआवेदनलिएजारहेहैं।आवेदकआधारकार्ड,आयप्रमाणपत्र,बैंकखाता,विधवाअपनेपतिकामृत्युकाप्रमाणऔरदिव्यांगअपनादिव्यांगहोनेकाप्रमाणकेसाथऑनलाइनआवेदनकरें।उनकीजांचकरपात्रपाएजानेपरपेंशनकीसंस्तुतिकररिपोर्टशासनकोभेजदीजाएगी।

डॉ.करुणेशत्रिपाठी,जिलासमाजकल्याणअधिकारीमथुरा