विद्यापीठ चौक किऊल नदी घाट गहरा पानी व दलदल से हुआ खतरनाक

नगरपरिषदद्वारापोकलेनमशीनसेघाटकोकियाजारहादुरुस्त,छठमेंइसघाटपररहतीहैसर्वाधिकभीड़

जिलाप्रशासननेघाटपरवॉचटॉवरऔरचेंजिगरूमबनानेकादियाहैआदेश,घाटपरपैदलचलनामुश्किलसंवादसहयोगी,लखीसराय:दीपावलीपर्वसमाप्तहोनेकेबादनगरपरिषदछठघाटोंकोदुरुस्तकरनेमेंलगाहुआहै।लेकिनकिऊलनदीकेघाटोंपरदलदलऔरकीचड़रहनेसेघाटकोसमतलीकरणकरनेमेंकाफीपरेशानीहोरहीहै।मंगलवारकोनगरपरिषदद्वारानयाबाजारऔरपुरानीबाजारमेंअलग-अलगपोकलेनमशीनसेघाटोंकेसमतलीकरणकरनेकाकार्यशुरूकियागया।किऊलनदीकेघाटोंकीस्थितिअभीयहहैकिजहांपानीहैवहांतकपैदलपहुंचनाजोखिमभराहुआहै।क्योंकिवहांकाफीदलदलऔरकीचड़है।शहरकेविद्यापीठचौकस्थितछठघाटजहांवार्डनंबर2,3,4कीकरीब20हजारसेअधिककीआबादीछठपर्वमेंइसघाटपरपहुंचतीहै।विद्यापीठचौकघाटपरसर्वाधिकभीड़जमाहोनेकेकारणजिलाप्रशासनद्वाराहरवर्षइसघाटपरविशेषनिगरानीरखीजातीहै।गतमाहमेंकिऊलनदीमेंपानीभरजानेकेकारणछठघाटभीपूरीतरहपानीमेडूबगयाथा।अबजबकिनदीसेपानीनिकलातोपूरेघाटपरकीचड़औरदलदलकीस्थितिबनीहुईहै।मुख्यमार्गएनएच80सेइसघाटकीदूरी500मीटरपरहैलेकिनश्रद्धालुओंकोअ‌र्घ्यदेनेकेलिएकरीब200मीटरऔरनदीमेंपैदलजानापड़ेगा।यहरास्ताफिलहालकीचड़औरदलदलसेभराहुआहैजोपूरीतरहखतरनाकहै।इसघाटपरपानीभीकाफीगहराहै।इसलिएयहांबेरिकेडिगभीजरूरीहै।मंगलवारकोनगरपरिषदकेकार्यपालकपदाधिकारीडॉ.विपिनकुमारकीनिगरानीमेंपोकलेनकोविद्यापीठचौकघाटपरभेजागया।वहांनगरप्रबंधकअमितकुमारसिन्हा,स्थानीयवार्डपार्षदचंदनकुमार,शंकररामकीदेखरेखमेंदिनभरपोकलेनसेमिट्टीकाटकरदलदलऔरकीचड़कोभरकरघाटतकसुरक्षितजानेकारास्ताकिसीतरहबनायागया।घाटकेचारोंओरफैलेदलदलऔरकीचड़अगरपूरीतरहनहींसूखजाताहैतोश्रद्धालुओंकोकाफीपरेशानीउठानीपड़ेगी।कार्यपालकपदाधिकारीडॉ.विपिनकुमारनेबतायाकिविद्यापीठचौकघाटपरकाफीभीड़रहतीहै।इसकोदेखतेहुएपोकलेनमशीनसेघाटकोठीककियाजारहाहैताकिश्रद्धालुओंकोकिसीतरहकीपरेशानीनहींहो।उन्होंनेबतायाकिइसघाटपरवॉचटॉवरकानिर्माणकरायाजाएगा।साथहीचेंजिगरूमभीबनायाजाएगा।नदीसेपानीनिकलनेकेबादकाफीकीचड़औरदलदलकीस्थितिबनीरहनेकेकारणकार्यकरनेमेंपरेशानीहोरहीहै।नपईओनेकहाकिपुरानीबाजारऔरनयाबाजारकेसभीघाटोंकासमतलीकरणकार्यशुरूकरदियागयाहै।