Vegetable prices in Bihar: कोरोना काल में सब्जियों के दाम घटे, किसानों को हो रहा नुकसान

संवादसूत्र,बरियारपुर(मुंगेर)।कोरोनामहामारीनेसब्जीकीखेतीकरनेवालेकिसानोंकीकमरतोड़दीहै।कच्चामालरहनेकेकारणकिसानऔनेपौनेदाममेंअपनेफसलोंकोबेचनेकेलिएमजबूरहोरहेहै।किसानोंकीमजबूरीहैकिवहअपनीफसलकोखेतमेंभीनहींछोड़सकतेहैं।खेतसेसब्जीकीफसलकोतोड़करबाजारलानेपरइसकीउचितकीमतनहींमिलरहीहै।जिसकेकारणकिसानोंकोपिछलेवर्षकीतरहइसवर्षभीघाटाहोरहाहै।

किसानोंकाकहनाहैकिसरकारद्वारालॉकडाउनलगाएजानेकेकारणबाहरकेव्यापारीउनकीसब्जीखरीदनेनहींआतेहैं।जिसकेकारणवेलोगस्थानीयविक्रेताओंकेपासअपनीफसलकोऔनेपौनेदाममेंबेचदेतेहैं।पहलेजहांइसमौसममेंएककद्दूकीकीमतबाजारमें10से15रुपयेमिलजातीथी,उसे5से6रुपयामेंबेचनापड़ताहै।महामारीकेबादलगातारहोरहीबारिशभीउनलोगोंकोआफतबनकरआईहै।बारिशकेकारणफलसब्जीकेपौधोंपरलगेफूलगिरजारहेहैं।जिससेउपजकमहोजातीहै।किसानकोरोनाएवंप्रकृतिकीमारसेअपनेआपकोअसहायमहसूसकररहेहैं।

सब्जीकीखेतीकरनेवालेउपेंद्रसिंह,सीतारामसिंह,बबलूमंडल,बिंदेश्वरीशर्मा,सदानंदमंडलआदिनेकहाकिपहलेपरवलकीअच्छीकीमतमिलजातीथी।लेकिनअव500से600रुपयाप्रतिक्विंटलकीदरसेबिकतीहै।जिसकेकारणलोगोंकोकाफीघाटाहोरहाहै।खेतोंमेंफसललगानेकेबादसिंचाईतथासब्जीकोतोड़नेमेंकाफीलागतआरहीहैं।लेकिनबाजारमेंबेचनेकेबादमुनाफाकमहोरहाहै।जिसकेकारणवेलोगलाचारहैं।अगरयहीस्थितिलगातारबनीरहीतोअगलेसालसेकमसब्जीकीखेतीकरेंगे।

उन्होंनेकहाकिलगातारदोसालोंसेसब्जीकीफसलकोकाफीनुकसानहोरहाहै।लागतनिकलनाभीमुश्किलहोरहाहै।जिसकेकारणकिसानलाचारहैं।छोटे-मोटेसब्जीकीखेतीकरनेवालेकिसानसिरपरटोकरीलेकरअपनासब्जीबेचनेकेलिएविवशहोरहेहैं।जिससेकिकुछलागतनिकलसके।फसललगानेमेंलीगईकर्जकोचुकायाजासके।