वायरस चर्चा दो रास

शर्मानेस्वास्थ्यमंत्रीकेबयानमेंकिएगएइसदावेपरहैरतजतायीकिलॉकडाउनकेफैसलेकेकारण14लाखसे79लाखतकसंक्रमणकेमामलोंकोरोकनेतथा37हजारसे78हजारलोगोंकीइससंक्रमणकेकारणमौतकोरोकनेमेंमददमिली।उन्होंनेप्रश्नकियाकिसरकारकेइसआंकड़ेतकपहुंचनेकाक्याकोईवैज्ञानिकआधारहै?उन्होंनेकहाकिइसमहामारीनेइसबातकोउजागरकियाकिहमारेदेशमेंस्वास्थ्यकाआधारभूतढांचाकितनाकमजोरहै।उन्होंनेकहाकिदेशमेंआक्सीजनसुविधावालेसघनचिकित्साकेन्द्रके70प्रतिशतबिस्तरनिजीअस्पतालोंऔर30प्रतिशतसरकारीअस्पतालोंमेंहैं।शर्मानेकहाकिकेन्द्रकोराज्यसरकारोंसेबातकरसरकारीअस्पतालोंमेंआधारभूतढांचेकोमजबूतकरनाचाहिएक्योंकिइसमहामारीकेदौरानजिनसरकारीअस्पतालोंमेंदेशकेमहज30प्रतिशतआईसीयूबिस्तरहैं,उन्होंनेदेशके70प्रतिशतकोविड-19मरीजोंकाउपचारकिया।उन्होंनेकहाकिलॉकडाउनकीघोषणासेपहलेयदिसमुचिततैयारीकरलीजातीतोप्रवासीमजदूरोंनेजोपीड़ाएंझेली,उससेबचाजासकताथा।उन्होंनेप्रवासीमजदूरोंकेलिएएकराष्ट्रीयडाटाबेसबनायेजानेकाभीसुझावदिया।भाजपाकेविनयसहस्रबुद्धेनेचर्चामेंभागलेतेहुएकहाकिप्रधानमंत्रीऔरगृहमंत्रीनेकोरोनावायरससेनिबटनेकेप्रबंधोंकोलेकरकमसेकम15बारराज्योंकेमुख्यमंत्रियोंऔरमुख्यसचिवोंकेसाथबैठककी।उन्होंनेकहाकिइनबैठकोंमेंकभीभीकिसीमुख्यमंत्रीनेयहनहींकहाकिलॉकडाउननहींलगायाजानाचाहिएथा।उन्होंनेकहाकिप्रधानमंत्रीनरेन्द्रमोदीकेनेतृत्वमेंदेशनेकोरोनावायरसमहामारीकेदौरानवैश्विकस्तरपरएकमहत्वपूर्णभूमिकानिभायी।उन्होंनेकहाकि150देशोंकोहाइड्रोक्लोरोक्वीनदवाभेजीगयीतथाकईदेशोंमेंपीपीईतथामास्ककीआपूर्तिकीगयी।सहस्रबुद्धेनेकहाकिसरकारनेदेशकेभीतरइसमामलेमेंएकसमन्वितरुखअपनाया।उन्होंनेकहाकिसरकारकायहीमाननाहैकिसंवादकेअभावमेंकोईआवश्यककार्यनहींरूकनाचाहिए।उन्होंनेडिग्रीपाठ्यक्रममेंअंतिमवर्षमेंपरीक्षाकरानेकेसरकारकेनिर्णयकासमर्थनकरतेहुएकहाकिउच्चतमन्यायालयनेभीइसेसहीठहरायाहै।उन्होंनेकहाकिहमें‘‘उपहासकीराजनीति’’केबजाय‘‘जिम्मेदारीकीराजनीति’’करनीचाहिए।उन्होंनेकहाकिसुरक्षाकर्मियोंऔरस्वास्थ्यकर्मियोंकेलिएजबदीपजलानेकीलोगोंसेअपीलकीगयीतोकुछलोगोंनेसोशलमीडियापरइसकामजाकउड़ाया।भाजपासदस्यनेकहाकिदिल्लीमेंबहुतकमसमयमेंकोविड-19मरीजोंकेलिएबड़ाअस्पतालबनायाजोसराहनीयहैऔरअन्यराज्योंकोइसकाअनुसरणकरनाचाहिए।जारी