वाहन न मिलने से भटकते रहे लोग

रुद्रप्रयाग:अधिकांशवाहनोंकेशादियोंकेलिएबुकहोजानेकेकारणहाईवेकेसाथहीग्रामीणक्षेत्रोंकोजानेवालेमोटरमार्गोंपरखासीदिक्कतकासामनाआमलोगोंकोकरनापड़ा।

शादी-विवाहकेसीजनमेंग्रामीणक्षेत्रोंसेलेकरशहरीक्षेत्रोंमेंअधिकांशटैक्सी-मैक्सीऔरबसशादी-विवाहकेलिएबुकहैं।इससेरूटीनमेंचलनेवालेवाहनसड़कपरउपलब्धनहींहैं।रुद्रप्रयागबाजारकेसाथहीतिलबाड़ा,अगस्त्यमुनि,गुप्तकाशी,ऊखीमठसमेतसभीछोटेबड़ेकस्बोंमेंजगह-जगहयात्रियोंकीभीड़लगीरही।वाहननमिलनेआमलोगसमयपरअपनेघरोंकोनहींपहुंचपाए।यात्रियोंकोघंटोंतकबाजारोंमेंरूकनापड़रहाहै।वहींजोमिलभीरहेहैं,उनमेंयात्रीठूंस-ठूंसकरभरेआरहेहैं।ग्रामीणक्षेत्रोंकोजानेवालेछोटेवबड़ेवाहनोंमेंछतपरभीबैठकरयात्रीजारहेहैं।

जनपदके76उपमार्गहैं,जिनमेंआमतौरपरतीनसौसेअधिकअधिकरूटीनमेंजातीहैं,लेकिनआजकलकईउपमार्गोपरपूरेदिनमेंएकबारभीबसनहींजारहीहै,छोटेवाहनभीयात्राकेलिएबुकहैं,जिससेउनकीसंख्याभीकमहै।वहीं,उपजिलाधिकारीदेवानंदशर्मानेबतायाकिबससंचालितकरनेवालीकंपनियोंकोरूटीनमेंउपमार्गोपरसंचालितहोनेवालीबसोंकोशादीकेसीजनमेंभीनियमितसंचालितकरनेकेनिर्देशदिएजाएंगे,ताकिआमयात्रियोंकोकिसीभीप्रकारकीदिक्कतनहो।