उत्तराखंड त्रासदी में हसनपुर के पांच मजदूर लापता, स्वजन चितित

उझारी:उत्तराखंडत्रासदीमेंहसनपुरतहसीलकेगांवसौहतगढ़ीनिवासीपांचमजदूरलापताहैं।रविवारसुबहसेहीमजदूरोंकेफोनपरस्वजनोंकासंपर्कनहींहोपारहाहै।हालांकिउन्हेंकामपरलेजानेवालेठेकेदारकोअधिकारियोंद्वाराउनकेसकुशलहोनेकाआश्वासनदियाजारहाहै।

गांवनिवासीईश्वरसिंहतपोवनसेकुछदूरतोलकागांवमेंटावरपरकार्यकरानेकेलिएसौहतकेपांचमजदूरोंकोकरीबदोमाहपहलेलेकरगएथे।इनमजदूरोंमेंरोहितकुमार(25)पुत्रमहेंद्रगुर्जर,महीपालसिंह(38)वकावेंद्रसिंह(25)वर्षपुत्रजयपालसिंह,थानसिंह(45)पुत्ररामस्वरूप,सनीदत्त(24)पुत्रधर्मसिंहशामिलहैं।रविवारसुबहचमोलीमेंग्लेशियरटूटनेसेआईत्रासदीकेबादसेमजदूरोंसेउनकेस्वजनोंकासंपर्कनहींहोपारहाहै।त्रासदीकीखबरेंसुनकरमजदूरोंकेस्वजनहीनहींपूरेगांवकेलोगचितितहैं।मजदूरोंकेलापताहोनेकेचलतेउनकेपरिवारमेंचूल्हेतकनहींसुलगेहैं।रिश्तेदारभीकुशलताजाननेकोबेकरारहैं।

ठेकेदारबतारहेसबमजदूरहैंसुरक्षित

हसनपुर:मजदूरोंकोउत्तराखंडकामपरलेजानेवालेठेकेदारईश्वरसिंहगांवमेंहीमौजूदहैं।उनकाकहनाहैकिउनकीअधिकारियोंसेनिरंतरबातचलरहीहै।सभीमजदूरोंकेसकुशलहोनेकाआश्वासनमिलरहाहै।त्रासदीमेंफंसेहुएमजदूरोंकोहेलीकॉप्टरसेसुरक्षितस्थानपरलानेकीकवायदचलरहीहै।इसलिए,समयलगरहाहै।मजदूरोंकेस्वजनोंकोधैर्यबनाएरखतेहुएईश्वरसेप्रार्थनाकरनेकासमयहै।