'उत्तराखंड की पहाड़ियों पर आ सकता है बड़ा भूकंप'

नईदिल्ली।।वैज्ञानिकोंकोउत्तराखंडमेंकाफीअलगतरहकीढांचागतआकृतियांमिलीहैं,जोबड़ेभूकंपकाकारणबनसकतीहैं।येआकृतियांधरतीकेअंदरहोरहीहलचलकीवजहसेपैदाहुईएनर्जीरिलीज़नहोपानेकीवजहसेबनीहैं।गृहमंत्रालयकेआपदाप्रबंधनविभागकेएकसीनियरअधिकारीनेकहाकिरिसर्चरोंकोपिछलेअनुमानकीतुलनामेंउत्तराखंडकीपहाड़ियोंपरकाफीअलगतरहकीढांचागतआकृतियांमिलीहैं।येआकृतियांआगेचलकरउसजगहपरतनाव(ऊर्जा)पैदाकरसकतीहैं।वहांजमाऊर्जाकेबाहरनिकलनेकीएकसंभावनाबड़ेभूकंपकेतौरपरहोसकतीहै।साइंसऐंडटेक्नॉलजीविभागकेरिसर्चडिपार्टमेंटकेतहतनैशनलजियोफिजिकलरिसर्चइंस्टिट्यूटकेवैज्ञानिकोंनेबीते3सालमेंउत्तराखंडइलाकेमेंभूकंपसेजुड़ीडिटेलजांचकी।प्रॉजेक्टकामकसदभूकंपकेबारेमेंइलाकेकेलिएविस्तृतढांचागतरूपरेखाउपलब्धकरानाथा।एकअधिकारीनेकहाकिराष्ट्रीयआपदाप्रबंधनप्राधिकरणनेभूकंपकेप्रबंधनपरदिशानिर्देशजारीकिएहैं।भूकंपकेलिहाजसेभारतसंवेदनशीलहै।इनदिशानिदेर्शोंकेजरिएयहसुनिश्चितकरनेकीजरूरतहैकिसभीनएढांचेभूकंपरोधीइमारतनियमोंऔरकानूनकेमुताबिकबनें।एकसाललगेगाठीकहोनेमेंजूनकीबेतहाशाबारिशऔरबाढ़सेहुईतबाहीसेउबरनेमेंउत्तराखंडकोएकसालसेज्यादाकासमयलगजाएगा।डिजास्टरमैनेजमेंटसेंटरकेचीफपीयूषरौतेलानेबुधवारकोयहजानकारीदी।उन्होंनेकहाकिपुनर्वासऔरपुनर्निर्माणकेकामकोकिसीटाइमफ्रेममेंबांधकरपूराकरलेनेकादावाकुछज्यादाहोजाएगा।