उत्‍तर प्रदेश और मध्‍य प्रदेश सीमा पर ऐसे होता है आवागमन, बरन नदी में पुल न होने से दुर्गम हैं रास्ते

सोनभद्र,जागरणसंवाददाता।प्रशासनऔरजनप्रतिनिधियोंकीउदासीनताकेकारणयूपीकेबॉर्डरक्षेत्रकेबरननदीमेंपुलनबनाएजानेसेग्रामीणोंकोआवागमनमेंकाफीमुश्किलोंकासामनाकरनापड़रहाहै।उफनाईबरननदीकोबरसातकेमौसममेंपारकरग्रामीणबीजपुरपरियोजनामेंड्यूटीकरनेआतेहैं।इतनाहीनहींसैकड़ोघरोंकीआबादीवालेगांवसेलोगोंकारोजीरोटीसेजुड़ाकारोबारजैसेदूध,जलावनीलकड़ी,राशन,दवाइत्यादिकेलिएलोगबीजपुरनजदीकहोनेसेयहींपरआतेजातेहैं।

सिंगरौलीजिलामुख्यालयसेमहज25किलोमीटरऔरबीजपुरसे8किलोमीटरकीदूरीयूपीएमपीसीमापरबरननदीपरपुलबनानेकेलिएग्रामीणसांसद,विधायकसहितकलेक्टरकोकईबारमांगपत्रसौंपकरध्यानदिलायेलेकिनजनप्रतिनिधियोंऔरअधिकारियोंकीउदासीनताकेकारणसबरद्दीकीटोकरीमेंडालदियागया।गांवकेलोगकईबारजनसुनवाईकलेक्ट्रीऔरसीएमहेल्पलाइनपरभीशिकायतदर्जकराईलेकिनसबबेकारसाबितहुआ।जानजोखिममेंडालकरमरीजोंसहितबच्चोंकोस्कूलतकबीजपुरहीआनाजानाहोताहै।नदीकेदोनोतरफकेवलपगडंडीरास्ताभीबरसातकेकटानसेबर्बादहोगयाहै,जिसकोअबग्रामीणखुदफावड़ाऔरगैतालेकरनिर्माणकार्यकरआनेजानेकारास्ताबनारहेहैं।ग्रामीणविद्यानाथपाल,अवधेश,चन्द्रमोहन,दूधनाथ,आनन्द,विहारी,शम्भू,दयाराम,सजीवनसहितअनेकनेमुख्यमंत्रीसहितकलेक्टरकोपत्रभेजजनहितमेंतत्कालसर्वेकराकरपुलनिर्माणकीमांगकीहै।

इनकेलिएदुरूहहैरास्ता: मध्यप्रदेशकीसीमासेननियागढ़,महूगढ़,जमहर,बेल्दहगांवके200सेअधिकमजदूरपरियोजनाओंमेंकामकरनेआतेहैं।आदिवासीमहिलाएंलकड़ीबीननेआतीहैं।बच्चोंकोस्कूलजानेकायहीरास्ताहै।इसझंझावतकोझेलतेहुएवेतीनकिमीदूरबीजपुरकीदूरीतयकरतेहैं,अन्यथाउन्हें30किलोमीटरकासफरतयकरनापड़ताहै।