UP में 7 दिन में 10% बढ़े एक्टिव केस, मगर 368 ही अस्पताल में, राज्य में 98% बेड ख़ाली

राज्यमेंकोरोनाकेकेसनएसालकेपहले7दिनोंमें1000%बढ़गएहैं।एक्टिवकेसभी10गुनाबढ़गएहैं।हालातखतरनाकहैं,मगरसुकूनकीबातयेहैकिसंक्रमितोंकेअस्पतालमेंभर्तीहोनेकीदरअभीबहुतनीचेहै।7जनवरीकेआंकड़ेबतातेहैंकिअभीराज्यमेंसिर्फ368मरीजहीअस्पतालोंमेंभर्तीहैं।यानी,सिर्फ2.9%मरीजहीअस्पतालमेंहैं।

कोरोनाकीदूसरीलहरकेदौरानराज्यमेंहॉस्पिटलाइजेशनकीदर9%तकपहुंचगईथी।दूसरीसुकूनकीबातयेहैकिराज्यस्वास्थ्यविभागकापोर्टलबताताहैराज्यके98%अस्पतालोंमेंबेडखालीपड़ेहैं।राजधानीलखनऊमेंउपलब्धबेडमेंसेसिर्फ2हीउपयोगमेंहैं,बाकीखालीपड़ेहैं।

टेस्टपॉजिटिविटीरेट1.83%,रिकवरीरेट98%

राज्यमेंअभीटेस्टपॉजिटिविटीरेट1.83%बनीहुईहै।रिकवरीरेट98%परहै।इसमें1जनवरीकेमुकाबलेमामूलीगिरावटआईहै।1जनवरीकोरिकवरीरेट98.6%थी।

एक्टिवकेसबढ़े,मगरज्यादातरहोमआइसोलेशनमें

विशेषज्ञोंकाकहनाहैकिकोरोनाकेनएवैरिएंटओमिक्रॉनकेज्यादातरसंक्रमितोंमेंलक्षणनहींदिखतेहैं।ऐसेमरीजोंकोअभीहोमआइसोलेशनमेंहीरखाजारहाहै।राज्यमें7दिसंबरकोएक्टिवकेसतो12327थे,मगरइनमेंसे11959मरीजहोमआइसोलेशनमेंहैं।यानी,सिर्फ368मरीजहीफिलहालअस्पतालमेंहैं।

राजधानीमेंसिर्फ2बेडपरहीमरीज

स्वास्थ्यनिदेशालयकेपोर्टलकेमुताबिकराजधानीलखनऊमेंकोविडबेडउपलब्धकरानेवाले36अस्पतालोंमेंसेसिर्फदोअस्पतालोंमेंएक-एकबेडपरहीमरीजहैं।बाकीबेडखालीपड़ेहैं।सबसेबड़ेदोअस्पतालोंबलरामपुरहॉस्पिटल(320बेड)औरइरामेडिकलकॉलेज(400बेड)मेंसभीबेडखालीहैं।