टुंडी में डैम बनाकर रोका जाएगा हाथियों का हमला

धनबाद:हाथियोंकेगावोंमेंप्रवेशसेरोकनेकेलिएवनविभागनेएकयोजनातैयारकीहै।टुंडीवनक्षेत्रकेपहाड़ीसेबहनेवालेनालोंझरनोंकापानीरोकनेकेलिएडैमबनायाजाएगा।गर्मीशुरूहोनेपरहरसालकरीब20से25हाथियोंकाझुंडजामताड़ा,दुमकाकेमसलियाहोतेहुएटुंडीपहुंचताहै।करीबपाचमाहकेदौरानहाथियोंकाझुंडआबादीवालीबस्तीवगावोंकोनिशानाबनातेहैं।फसलोंकोनष्टकरतेहैऔरइसीक्रममेंप्रतिवर्षकरीबएकआधादर्जनजानेंचलीजातीहै।पिछलेवर्षइसीहाथियोंकेझुंडनेएकवृद्धकोमारडालाथा।जिसकेबादवनविभागनेइनहाथियोंकीप्रवृतिकाअध्ययनकराया।इसमेंसामानेआयाकिहाथियोंकाझुंडभोजनऔरपानीकेलिएटुंडीवनसेबाहरनिकलताहै।गर्मीकेदिनोंमेंइसवनक्षेत्रमेंपानीकीकिल्लतहोजातीहै।भोजनकाआधारघटजाताहै।वनविभागनेहाथियोंकेइसझुंडकोटुंडीवनमेंहीसालोंरोकनेकेलिएप्रर्याप्तपानीऔरभोजनउपलब्धकरानेकीयोजनाबनाईहै।

1.5करोड़रुपयेकीयोजनामंजूर

टुंडीवनक्षेत्रमेंमानसूनकेदौरपहाड़ोंपरनालेझरनेबहकरनदीकारूपलेलेतेहैं।यहा49लाखरुपयेकीलागतसेडैमबनाकरपानीकोरोकाजाएगा।इससेजगह-जगहतालाबकानिमार्णहोसकेगा।हाथियोंकोकाफीपानीचाहिए।इससेउन्हेंपानीउपलब्धहोसकेगा।

मानवऔरहाथीकेसंघर्षकोकमकरनेलिएवनविभागकईयोजनाओंपरकामकररहाहै।हाथियोंकेपानीसेलेकरभोजनतककीव्यस्थाकीजारहीहै।इसमेंडैमसेलेकरअंडरपासतकशामिलहै।

पीकेवर्मा,प्रधानमुख्यवनसंरक्षक