तीन साल से स्टोर रूम में चल रहा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र

संवादसूत्ररायवाला:राजधानीमेंस्वास्थ्यसेवाओंकेनामपरभलेहीबड़ी-बड़ीबातेंहुईहों,लेकिनदेहरादूनसेमहज30किलोमीटरकीदूरीपरस्थितराजकीयसामुदायिककेंद्रछिद्दरवालाकासूरतेहालदेखकरकहाजासकताहैकिसरकारीस्वास्थ्यसेवाएंसिर्फभगवानभरोसेहैं।हाईवेचौड़ीकरणकीजदमेंआनेसेजून2019मेंअस्पतालकाभवनजमीदोंजकरदियागया।क्षेत्रकीआठग्रामसभाओंकीजनताकीसुविधाकेलिएबनेइसअस्पतालकेपासकेवलस्टोररूमवकर्मचारीआवासबचाहै।इसीस्टोररूममेंकिसीतरहओपीडीचलाईजारहीहै।वहींएककक्षमेंअस्पतालकाकीमतीसामानठूंसकररखाहुआहै।कक्षनहोनेकीवजहसेसभीकर्मचारीस्टोररूमकेबरामदेमेंबैठतेहैं।डिलीवरीसिस्टमतोबंदहीहोगयाहै।लिहाजाप्रसवकेलिएशहरकेअस्पतालोंमेंजानापड़ताहै।जनप्रतिनिधिअस्पतालकेलिएथोड़ीसीभूमिउपलब्धनहींकरापाएजबकिगांवमेंतमामसरकारीजमीनेंखुर्द-बुर्दहोरहीहैं।क्षेत्रीयविधायकनेकभीइसमुद्देपरगंभीरतानहींदिखाई।इसअस्पतालकीहालतसेप्रदेशकीबीमारूव्यवस्थाकाअंदाजालगायाजासकताहै।इसबारविधानसभाचुनावमेंनेताओंकोसबकसिखायाजाएगा

-उत्तममंद्रवाल,चकजोगीवाला

अस्पतालकेलिएप्राथमिकतासेभूमिउपलब्धकराईजानीचाहिएथी,लेकिनउच्चपदपरबैठेजिम्मेदारप्रतिनिधियोंनेइसबातकोकभीगंभीरतासेनहींलिया।प्रसवकक्षनहोनेसेगर्भवतीमहिलाओंकोइसअस्पतालकाकोईलाभनहींमिलपारहाहै।

-सपनारौथाण,छिद्दरवाला

गरीबोंकीकोईसुननेवालानहींहै।सरकारीअस्पतालगरीबोंकेलिएहोतेहैंलेकिनछिद्दरवालाअस्पतालमेंकोईसुविधानहींहै।मरीजोंकेबैठनेकेलिएतककाइंतजामनहींहै,कोरोनाटीकाकरणकेलिएग्रामीणोंकोपरेशानहोनापड़ा।

-नीरूथापा,साहबनगर

जबअस्पतालकेपासभवनहीनहींहैतोचिकित्सकओपीडीकहांचलाएंगे।प्रसवसुविधाबंदहोनेसेमहिलाएंप्राइवेटअस्पतालमेंजानेकोमजबूरहैं।इसबारेमेंनेताओंनेकतईनहींसोचा।इसबारवोटमांगनेवालोंसेयहसवालजरूरपूछाजाएगाकिउन्होंनेअस्पतालकोभूमिदिलानेकेलिएउन्होंनेप्रयासक्योंनहींकिए।

-शांतिबहादुरराई,साहबनगर