तीन महीने संभलें, सताएगा वायु प्रदूषण

-हिमाचलमेंतीनमहीनेउच्चस्तरपरहोताहैप्रदूषण

-कृषिअवशेषजलानेसेहीनहींउद्योगोंसेभीबढ़ताप्रदूषणकास्तर

यादवेन्द्रशर्मा,शिमला

लोगपहलेहीवैश्विकमहामारीकोविड19सेजूझरहेहैं।अबमौसममेंआनेवालाबदलावभीदिक्कतेंबढ़ासकताहै।जरूरीहैकिलोगप्रदूषणसेबचनेकेउपायकरें।हिमाचलप्रदेशमेंअक्टूबर,नवंबरऔरदिसंबरमेंवायुप्रदूषणउच्चस्तरपरहोताहै।उद्योगोंमेंअधिकउत्पादन,फसलोंकेअवशेषकोजलाना,कच्चीसड़कोंसेउड़नेवालीधूलवत्योहारीसीजनमुख्यकारकहैं।दशहरावदिवालीपरचलनेपटाखेभीप्रदूषणबढ़ातेहैं।

प्रदूषणपरनियंत्रणकेलिएराज्यप्रदूषणनियंत्रणबोर्डऔरकृषिविभागनेफसलोंकेअवशेषजलानेपररोकलगारखीहै।पड़ोसीराज्यपंजाबवहरियाणामेंधानकीपरालीजलानेसेसाथललगतेप्रदेशकेकईक्षेत्रोंमेंभीप्रदूषणबढ़जाताहै।प्रदेशमेंधानकीखेती74हजारहेक्टेयरक्षेत्रमेंहोतीहैऔरकरीब1.34लाखटनधानकाउत्पादनहोताहैलेकिनयहांपरबहुतकमलोगहीपरालीजतातेहैं।

बेशककोरोनावायरसकेकारणलोगोंकीदिक्कतेंबढ़ीहैंलेकिनक‌र्फ्यूऔरलाकडाउनकेकारणवायुप्रदूषणकमहुआहै।राज्यमेंइसबारजंगलभीजलनेसेबचेरहे।इससेप्रदूषणकाफीहदतकनियंत्रणमेंरहा।

परालीकाढींगरीउत्पादनवपशुचारेमेंइस्तेमाल

परालीकाउपयोगपशुचारेकेसाथढींगरी(मशरूम)केउत्पादनकेलिएहोरहाहै।ठूंठऔरअवशेषअवश्यखेतोंमेंजलाएजातेहैं।सर्दियांमेंघासणीमेंलगाईजानेवालीआगसेभीप्रदूषणबढ़ताहै।ऐसाकरनेवालोंकेखिलाफमामलेदर्जकरनेकेनिर्देशजारीकिएगएहैं।हवामेंधूलकेकण60माइक्रोग्रामप्रतिघनमीटरतकसामान्य

हवाकीगुणवत्ताकीजांचमेंआरएसपीएम(रिस्पयरेबलसस्पेंडिडपार्टिकुलेटमेटर)कास्तरमापाजाताहै।यदिहवामेंहवामेंधूलकेकणोंकीमात्रा60माइक्रोग्रामप्रतिघनमीटरहोतोयहसामान्यमानीजातीहै।अगरमात्राइससेऊपरहुईतोवहहवास्वास्थ्यकेलिएहानिकारकमानीजातीहै।

अक्टूबरसेदिसंबरतककाआरएसपीएमका

स्थान,2017,2018,2019,सितंबर2020

बद्दी,191-222,189-227,152-165,119

नालागढ़,148-154,149-172,89-117,83

कालाअंब,150-160,101-144,115-146,71

धर्मशाला,26-35,35-48,30-45,30

पांवटासाहिब,80-110,62-112,66-96,87

परवाणू,65-75,66-76,56-76,--------------------प्रदूषणकास्तरबढ़नेसेकोरोनाकेअलावाअन्यवायरसभीबढ़सकतेहैं।कोरोनासंक्रमणसेफेफड़ेप्रभावितहोतेहैं,ऐसेमेंयदिवायुप्रदूषणबढ़ताहैतोमरीजोंकेलिएघातकसिद्धहोसकताहै।वायुप्रदूषणकीसमस्यागंभीरहोनेसेबच्चोंऔरबुजुर्गोकेफेफड़ेकमजोरहोजातेहैं।ऐसेमेंउनकेलिएभीकोरोनाजानलेवासाबितहोसकताहै।जिनक्षेत्रोंमेंफसलोंकेअवशेषजलनेसेधुआंउठताहैवहांलोगमास्ककाइस्तेमालजरूरकरेंऔरअनावश्यकघरोंसेबाहरननिकलें।

-डा.मलायासरकार,विभागाध्यक्षचेस्टएंडटीबीआइजीएमसी----------------

हिमाचलमेंकृषिअवशेषकाफीकमजलाएजातेहैं।किसानोंकोऐसानकरनेकेभीनिर्देशदिएगएहैं।पराली(पुआल)काउपयोगपशुचारेकेसाथढींगरीउत्पादनकेलिएकियाजारहाहै।

-एनकेबधान,निदेशककृषिविभाग।

वायुप्रदूषणरोकनेकेलिएकृषिऔरबागवानीविभागोंकोनिर्देशदिएगएहैंकिकिसानोंकोजागरूककरें।प्रदेशकेकिसीभीसूरतमेंकृषिअवशेषोंकोनजलायाजाए।

-आदित्यनेगी,सदस्यसचिव,प्रदूषणनियंत्रणबोर्ड।