तिहाड़ की महिला जेल के स्थिति पर महिला आयोग ने प्रकट की चिंता, दिए कई सुझाव

नईदिल्ली,गौतममिश्रा।तिहाड़परिसरस्थितएकमात्रमहिलाजेलकेएकसेलमेंतीनतीनमहिलाकैदियोंकोरखेजानेपरदिल्लीमहिलाआयोगकीअध्यक्षस्वातिमालीवालनेचिंताप्रकटकीहै।हालहीमेंस्वातिमालीवालनेजेलसंख्याछहकादौराकियाथा।इसदौरानमहिलाजेलमेंशौचालयकीस्थितिपरभीउन्होंनेचिंताप्रकटकरतेहुएकहाकियहअमानवीयस्थितिहै।उधर,जेलमहानिदेशकसंदीपगोयलकाकहनाहैकिएकबड़ेआकारकेसेलमेंतीनमहिलाओंकोरखाजानाकोईचिंताकीबातनहींहै।हालांकि,उन्होंनेमहिलाआयोगद्वारादिएगएसुझावपरविचारकरनेकीबातकहीहै।

जेलमेंकुलकैदियोंकीसंख्या400

जेलसूत्रोंकाकहनाहैकितिहाड़जेलसंख्याछहतिहाड़परिसरकीएकमात्रऐसीजेलहैजहांकैदियोंकीसंख्याक्षमतासेभीकमहै।इसजेलमेंकुलकैदियोंकीसंख्या400है,जबकिमहिलाआयोगकीतरफसेकहागयाहैकिअभीइसजेलमें276कैदीहैं।सेलमेंकैदियोंकीसंख्यासेलकेआकारपरभीनिर्भरकरताहै।यदिसेलकाआकारछोटाहोतोइसमेंएककैदीकेरहनेकीजगहहोतीहैलेकिनबड़ेसेलमेंकैदीखुदनहींचाहतेकिवेअकेलेरहें।

महिलाआयोगनेजतायीचिंता

सेलमेंबनेशौचालयपरभीमहिलाआयोगनेचिंताप्रकटकीहै।आयोगकाकहनाहैकिसेलकेभीतरजोशौचालयहै,उसमेंदरवाजावदीवारनहींहै।इसबावतजेलअधिकारियोंकाकहनाहैकिजेलमेंकैदियोंकेलिएसेलसेबाहरअलगसेशौचालयकीव्यवस्थाहोतीहै।अंदरबनेशौचालयकाइस्तेमालकेवलआपातकालकेदौरानहीकियाजाताहै।बावजूदआयोगकीचिंताओंकानिराकरणकियाजाएगा।

आयोगकीओरसेजेलमेंकैदियोंवस्वजनोंकेबीचमुलाकातकीप्रक्रियाकोफिरसेशुरूकिएजानेकेबावतजेलप्रशासनसेविचारकरनेकोकहाहै।जेलप्रशासनकाकहनाहैकिकोरोनामहामारीकीदूसरीलहरसेउबरनेकेबादनईस्थितियोंकोदेखतेहुएअभीइसबावतसमीक्षाकीजारहीहै।उचितसमयआनेपरइसप्रक्रियाकोफिरसेशुरूकियाजासकताहै।इसकेअलावाकैदियोंकेलिएजेलपरिसरमेंचलाएजारहेविभिन्नव्यवसायिककोर्सकेलिएअभीकोरोनामहामारीकेदौरानशिक्षककीसुविधाउपलब्धनहींहोपारहीथी।अबशिक्षककीउपलब्धतापरविचारकियाजारहाहै।