तहसील में कामकाज ठप अधिवक्ताओं का हंगामा

संवादसूत्र,लक्सर:इंटरनेटकीकमीकेचलतेतहसीलमेंकामकाजठपहोनेसेनाराजअधिवक्ताओंनेहंगामाकिया।साथहीव्यवस्थामेंसुधारनहोनेकीदशामेंआंदोलनकीचेतावनीदीहै।

तहसीलमेंअधिकांशकामऑनलाइनहोतेहैं।बीतेगुरुवारसेतहसीलमेंइंटरनेटसेवाबाधितहोनेकेकारणकोईभीकामकाजनहींहोपारहाहै।इससेनाराजसिविलबारकेसदस्यबुधवारदोपहरकोरजिस्ट्रीकार्यालयपहुंचेऔरहंगामाकरनेलगे।अधिवक्ताओंकाआरोपथाकिपिछलेदसदिनोंसेबैनामेवशादियोंकेपंजीकरणनहींहोरहेहैं।जाति,आयवस्थायीनिवासप्रमाणपत्रोंकेआवेदकभटकरहेहैं।किसानोंकोतमामकार्योंकेलिएखसरा,खतौनीकीनकलचाहिए।पर,ऑनलाइनहोनेकेकारणवेउन्हेंनहींमिलपारहीहैं।सबरजिस्ट्रारजेपीत्रिपाठीकाकहनाथाकिभूमिगतकेबिलमेंखराबीआनेकेकारणदिक्कतआरहीहै।भारतसंचारनिगमलिमिटेडनेइसेगुरुवारतकठीककरनेकीबातकहीहै।संभवत:गुरुवारसेकामकाजसुचारूहोजाएगा।इसपरहंगामाकररहेलोगवापसलौटगए।हंगामाकरनेवालोंमेंसिविलबारएसोसिएशनकेअध्यक्षअनूपसिंहकेसाथपूर्वअध्यक्षसहदीपसिंह,आनंदउपाध्याय,राजेशसैनी,मनोजसैनी,नवनीततोमर,राकेशवर्मा,सुभाषचौहान,अजीतसिंह,शौकीन,रमेशचंद,दीपककश्यप,सतीशकुमार,श्यामलालआदिथे।