तेज रफ्तार जुनून नहीं ..मनोरोग

धर्मशाला,जेएनएन।यदिआपकाबच्चायाआपकेपड़ोसमेंकोईबाइकयागाड़ीतेजरफ्तारसेचलाताहोतोसंभलजाएं..यहकोईजुनूननहींबल्किमानसिकरोगकीनिशानीहोसकतीहै।प्रदेशमेंऐसेकईमामलेसामनेआरहेहैंजिनमेंतेजरफ्तारसेहादसेहोरहेहैंऔरकईयुवकोंकीजानजारहीहै।मनोचिकित्सकोंकीमानेंतोऐसेकईमामलेसामनेआरहेहैंऔरइसकेलिएएककारणजिम्मेदारहैऔरवहहैमानसिकउत्तेजना।इसतरहसेयुवकोंमेंअगरकोईसंकेतसामनेआरहेहैंतोउन्हेंआरामऔरकाउंस¨लगकीजरूरतहै।ऐसेयुवकोंकोनअपनीजानकीपरवाहहोतीहैऔरनहीदूसरोंकीजिंदगीसेकोईलेना-देनाहोताहै।मंगलवारकोधर्मशालामेंजिलासड़कसुरक्षासमितिकीबैठकमेंभीहादसोंपरकाफीचर्चाहुई।इसदौरानयहीबातसामनेआईकियुवाओंकोसंभालनेकीजरूरतहैऔरसड़कसुरक्षाकोदेखतेहुएपहलीकक्षासेहीसड़कसुरक्षाकोपाठ्यक्रममेंशामिलकियाजाए।

'मनोविज्ञानमेंअगरदेखाजाएतोइसकामुख्यकारणसकारात्मकऊर्जाकासहीप्रयोगनहींकरनाहै।इसेजुनूननहींमानाजासकताहैऔरनहीकोईगुस्सा।यहकेवलएकऐसाकार्यहै,जिसमेंयुवाबिनासोचेसमझेऊर्जाकोऐसेक्षेत्रमेंलगारहेहैं,जहांकेवलनुकसानहीहोगा।इसमेंसबसेअधिकवेयुवाशामिलहोतेहैंजोनपढ़ने-लिखनेमेंआगेबढ़पातेहैंऔरनहीखेलकूदयाअन्यअच्छीगतिविधियोंमें।ऐसेमेंउनकेअभिभावकोंकीजिम्मेदारीअहमहोजातीहै।

-डॉ.मोनिकामक्कड़,विभागाध्यक्ष,मनोविज्ञानविभाग,धर्मशालाकॉलेज।

तेजरफ्तारमेंगाड़ीचलानामानसिकउत्तेजनाहै।ऐसेलोगअपनीऔरदूसरोंकीजानकीपरवाहकिएबिनामस्तीकेलिएतेजरफ्तारसेगाड़ीचलातेहैं।किशोरअवस्थाऔरनशेकेआदीलोगोंमेंयहप्रवृत्तिज्यादादेखीजातीहै।ऐसेलोगोंकाउपचारकरवानाजरूरीहैऔरइसकेलिएयोग,ध्यानऔरकाउंस¨लगकीजरूरतहै।ऐसेलोगउपचारनहींकरवातेहैं।इन्हेंपताहोताहैकितेजरफ्तारस्वयंकेसाथ-साथदूसरोंकेजीवनकेलिएखतराकहैफिरभीआनंदकीअनुभूतिकेलिएतेजरफ्तारसेवाहनदौड़ातेहैं।

-डॉ.रविशर्मा,मनोरोगविशेषज्ञवप्रिंसिपलआइजीएमसीशिमला

वाहनतेजरफ्तारसेचलानावेबकूफीहै।इसेएकबीमारीभीकहाजासकताहै।इसकाकोईलाभनहींहोताबल्किइससेअपनेआपकोवपरिवारकोहीनुकसानपहुंचायाजाताहै।तेजरफ्तारकेकारणदूसरेआदमीकापूरापरिवारउजाड़जाताहै।ऐसेयुवकोंपरपुलिसकार्रवाईभीकरतीहै।जबतकअभिभावकऐसेयुवकोंकोजागरूकनहींकरेंगेतबतकइसमेंसफलतानहींमिलसकतीहै।

-संतोषपटियाल,जिलापुलिसप्रमुख,कांगड़ा।.

येबरतेंसावधानियां

-तेजरफ्तारमेंबाइकयास्कूटीनचलाएं।

-हमेशाहेलमेटपहनें।

-यातायातनियमोंकापालनकरें।

-बाइकचलातेसमयमोबाइलफोनकाइस्तेमालनकरें।

- 5माहमें107कीमौतजिलाकांगड़ामेंपांचमाहमेंसड़कहादसोंमें107लोगोंकीमौतहुईहै।इसमेंआधेहादसेऐसेहैं,जिनमेंतेजरफ्तारकेकारणहीजानगईहै।

कुछऐसेमामलेभीहैंजिसमेंकुछलोगोंकेघरहीउजड़नेकीकगारपरपहुंचगएहैं।2018मेंपहलीजनवरीसे31मईतक223सड़कहादसोंमें107लोगोंकीमौतहुईहैजबकि337घायलहुएहैं।सर्वाधिकहादसेनूरपुरथानाक्षेत्रमेंहुएहैं।यहां24सड़कदुर्घटनाएंहुईहैं।धर्मशालामें23हादसेहुएहैं।अकेलेनूरपुरमेंहीउक्तदुर्घटनाओंमें39लोगकालकाग्रासबनेऔर32घायलहुएहैं।धर्मशालामेंसड़कहादसोंमेंदोकीमृत्युहुईहैतो33घायलहुएहैं।बातइंदौराकीकरेंतोयहांअबतकहुईनौसड़कदुर्घटनाओंमेंसातकीमौततोतीनलोगघायलहुएहैं।