सूरजकुंड मेला, संडे और हाउ इज द जोश..

सुधांशुत्रिपाठी,फरीदाबाद

सूरजकुंडअंतरराष्ट्रीयहस्तशिल्पमेलेकाआजतीसरादिनहै।संडेकीसर्दऔरअलसाईसुबहहै।मेलाग्राउंडमेंसुबहसेहीसैलानियोंकाआनाशुरूहोचुकाहै।सर्दहवाओंकेबीचगर्मकपड़ोंसेलदे-ढकेलोगमेलेमेंगेट-नंबरएक,दो,तीनऔरचारसेप्रवेशलेरहेहैं।पांचनंबरगेटतकवीआइपीजकेलिएबनाहै।सुबह11:30बजेतकसूरजकेकालेबादलोंकीओटमेंछिपेहोनेसेदुकानदारथोड़ेमायूसदिखरहेथे।वहसूरजकुंडमेलेकेआंगनमेंधूपखिलनेकेसाथहीमुस्करानेलगेहैं।चटकहोतीधूपकेसाथहीहरशख्समेलेमेंआनेकीखुशीऔरखुमारीसेलबरेजहै।अपनेपरिजनोंकेसाथमेलादेखनेआरहेबच्चोंकेअलावायुवाओंकाउत्साहदेखतेहीबनताहै।यहदेखकरसबकादिलयहीकहताहै,हाऊइजदजोश..।अफ्रीकीलोकनृत्योंपरथिरकेदर्शक

मेलेकीमुख्यचौपालपरअफ्रीकीमहाद्वीपकेदेशोंजिम्बाब्वे,इथियोपियावसूडानकेकलाकारअपनेपारंपरिकगीत,संगीतऔरनृत्योंसेमेलेमेंआएदेशी-विदेशीआगंतुकों,जनप्रतिनिधियोंऔरप्रशासनिकअधिकारियोंकामनोरंजनकररहेहैं।सदियोंतकनस्लीऔररंगभेदकेशिकाररहेइनदेशोंकेप्रतिभाशालीकलाकारअपनीसांस्कृतिकपहचानकोसंजोएरखनेकेलिएप्रतिबद्धदिखतेहैं।जिम्बाब्वेकेकलाकारगांबाऔरगयासीकाकहनाहैकियहदेशगांधीकाहै,जिन्होंनेहमकोआजादीऔरसाफ-सफाईकामहत्वसमझाया।हममेलेमेंआकरबहुतहीखुशहैं।सरकारकोऐसेआयोजनोंकोबढ़ावादेनाचाहिएजिससेलोककलाकारोंकाभीकुछभलाहोसके।बहुरूपियोंकेसंगसेल्फीकीहोड़

अरावलीकीपहाड़ियोंकेबीचकरीब40एकड़मेंफैलेसूरजकुंडमेलाग्राउंडमेंशायदहीऐसाकोईमोड़होजहांदेशकेविभिन्नराज्योंसेआएबहुरूपियाकलाकारोंकीमौजूदगीनहो।श्रीराम,कृष्ण,महादेव,गणेशजी,हनुमानजैसेदेवताओंकेअलावाजिन्न,दीन-ए-इलाहीअकबर,आदिवासीसमाजकारूपधरेइनकलाकारोंकेसाथसेल्फीलेनेकाजबर्दस्तक्रेजयुवाओंमेंसाफदिखरहाहै।इनकेसाथसेल्फीलेनेमेंबच्चेऔरबुजुर्गभीकहींसेपीछेनहींदिखरहेहैं।वहींदूसरीओरमेलेमेंआजसंडेकोदससेअधिकसेल्फीप्वाइंट्सपरभीयुवाओंकीलंबीकतारेंदिखरहीहैं।सांझीविरासतसंजोनेमेलेमेंआएं

33वेंसूरजकुंडमेलेमेंपहलीसंडेकीशामहोनेकोहै।औरअबदर्शकोंकीसंख्याकरीब50हजारतकपहुंचचुकीहै।यहांआएहजारोंसैलानीदेशकीमाटी,लोकसंस्कृतिऔरबहुरंगीकलाओंकीझलकइतनेकरीबसेदेखकरबेहदखुशनजरआरहेहैं।कुछलोगअपनेदोस्तोंऔररिश्तेदारोंकोमेलेकीविविधताकीजानकारीदेरहेहैं।वहींकुछऐसेलोगभीहैंजोअपनाअगलावीकेंडभीयहींप्लानकररहेहैं।वजहसाफहैंहमआमभारतीयअपनीजड़ोंसेजुड़नेमेंहीअपनाऔरसबकाकल्याणसमझतेहैं।सूरजकुंडमेलामानवसभ्यताकीविकासकीकहानीबताताहै।इसमेलेमेंहमारीसभ्यताहैं।इसमेलेमेंहमारीसंवेदनाएंहैं।इसमेलेमेंहमारेसरोकारहैं।इसमेलेमेंहिन्दुस्तानकीसांझीविरासतहै।इसकोदेखने,समझनेऔरजाननेकेलिएआपकोबसमेलेमेंआनाहोगा।