सुसाइड नहीं कर सकती मेरी बहन

जागरणसंवाददाता,उरई:कुठौैंदथानाक्षेत्रकेहुसेपुरासुरईकीअंजलीयादवकीमौतकहींपुलिसियापेंचमेंफंसकरपहेलीनबनजाए।पहलेदिनलोहेकेतारसेहाथ-पैरबांधजलाकरमारनेकीबातप्रकाशमेंआनेकेबादअबपुलिसखुदकशीकरारदेरहीहै।गुडवर्ककीजल्दबाजीमेंउसकेएकशिक्षकमित्रकोगिरफ्तारभीकरलिया।पुलिसपूरेमामलेकोप्रेमप्रसंगसेजोड़करआगलगाजानदेनेकीबातकहरहीहै।इधर,परिजनअंजलीकेसुसाइडकरनेकीबातकोसिरेसेखारिजकरतेहैं।उनकाकहनाहैकिअंजलीबहुतनिडरस्वभावकीथी।किसीभीपरिस्थितिसेडरनेवालीनहींथी।कईबारऐसेमौकेआए,जबउसनेहौसलाखोनेकेबजाएअपनेसाहसकापरिचयदिया।

हुसेपुरासुरईअजययादवकीपुत्रीअंजलीयादवसिद्धार्थनगरकेनौगढ़मेंशिक्षिकाथी।मोहानाकस्बेकेकिराएकेमकानमेंमंगलवारकीशामउसकाजलीहुईहालतमेंशवबरामदकियागयाथा।हाथ-पैरतारसेबंधेथेऔरजलकरउसकीमौतहोगईथी।धुआंनिकलतेदेखआसपासकेलोगपहुंचेतोबाहरसेकुंडीबंदथी।यहबातपहलेदिनप्रकाशमेंआईथी।अबपुलिसअंजलीकेसुसाइडकरनेकीबातकहरहीहै।सवालउठताहैकिअंजलीनेसुसाइडकियातोबाहरसेकुंडीकिसनेबंदकी?अंजलीनेआगलगाजानदी,तोहाथ-पैरकिसनेबांधे?हालांकिपुलिसकेपासइनसवालोंकेउत्तरनहींहैं।

वजह,खुदअपनेहाथ-पैरबांधकरकोईआगलगाजाननहींदेसकता।अबपुलिसउसकेचरित्रपरसवालियानिशानलगाएकशिक्षकसेप्रेमसंबंधकीबातकहरहीहै,आरोपितकोगिरफ्तारभीकरलियागया।पुलिसकीकहानीपरिजनोंकेगलेनहींउतररहीहै।

शुरुआतीदौरसेहीपुलिसमामलेकोसलटानेकीदिशामेंबढ़तीदिखाईदी।पहलेदिनमोबाइलकालडिटेलकेआधारपरकुछलोगोंकोसंदेहकेआधारपरहिरासतमेंलेनेवालीपुलिसकाअबदावाहैकिअंजलीकेएकशिक्षकसेप्रेमसंबंधथे।शिक्षकनेशादीशुदाहोनेकीबातछिपाईथीऔरशादीकरनेकाझांसादियाथा।बादमेंइनकारकरदियातोअंजलीनेसुसाइडकरलिया।

पुलिसयहांभीलचरकहानीपेशकरतीदिखाईदेरहीहै।बहनमनीषाबतातीहैकिअंजलीकीशादीतयहोचुकीथी।चुनावमेंड्यूटीलगजानेकीवजहसेतारीखआगेबढ़गई।अड़चननहींआईहोतीतोअंजलीकीशादीहोचुकीहोती,फिरशादीकीबातसेइनकारपरजानदेनेकीबातकहांसेआई।वहकहतीहैकिपुलिसऐसाक्योंकहरहीहै,वहनहींबतासकतीहै।

पितानेअज्ञातलोगोंपरजलाकरहत्याकाजतायाथासंदेह

अंजलीकीबड़ीबहनमनीषाबतातीहैंकिउसकीबहनकमजोरदिलकीनहींथी।हमेशाहमलोगोंकाहौसलाबढ़ायाकरतीथी।जैसेहीउसकीमौतकीखबरसुनीतोहमसबबदहवासहोगए।उसीहालतमेंपितारवानाहोगए।वहांजानेपरपुलिसनेपूछाथाकिकिसीपरसंदेहहै।तबपितानेकहाथाकिअनजानशहरमेंवहकिसीकोनहींजानतेहैं।उन्होंनेयहजरूरलिखकरदियाथाकिअज्ञातलोगोंनेजलाकरहत्याकीहै।

हमेंन्यायचाहिए

रुंधेगलेसेमनीषाकहतीहैकिचार-पांचदिनोंसेपितामानसिकरूपसेबहुतपरेशानहैं।हमेशाउसकीयादमेंरोतेरहतेहैं।तबियतभीबिगड़गईहै।हमलोगोंकोन्यायचाहिए।