सुंदर ब्रांच में पानी छोड़ने में हो रहा सौतेला व्यवहार : जगदीश

संवादसहयोगी,बवानीखेड़ा:सुंदरब्रांचनहरजलसंघर्षसमितिकेअध्यक्षजगदीशचंद्ररतेरानेआरोपलगायाकिक्षेत्रकीसुंदरब्रांचनहरमेंपानीछोड़ेजानेकेमामलेमेंसरकारक्षेत्रसेसौतेलाव्यवहारबरतरहीहै।उन्होंनेआरोपलगायाकियहांकेजनप्रतिनिधिभीकमजोरहोनेकेसाथ-साथअपनीजिम्मेवारीकासहीढंगसेनिर्वाहनहींकररहाहै।यहआरोपउन्होंनेबृहस्पतिवारकोलोकनिर्माणविश्रामगृहमेंआयोजितपत्रकारोंसेबातचीतकरतेहुएलगाया।अध्यक्षजगदीशचंद्रनेआरोपलगायाकियहसरकारपिछलेपांच-छहवर्षोंसेनहरीपानीकेबंटवारेमेंभेदभावकररहीहै।इसइलाकेकाहककेअनुसारपानीनहींदियाजारहाहै।नहरमेंपर्याप्तपानीछोड़ेजानेकीमांगकोलेकरवेसिचाईविभागसेलेकरप्रशासनकेउच्चअधिकारियोंतकमिलचुकेहैंलेकिनउनकीकोईभीसुनवाईनहींहोरहीहै।हालतयहहैकि50-60दिनमेंहीएकदोदिनकेलिएपानीछोड़ाजारहाहै।जबकिअन्यनहरोंमेंपर्याप्तपानीआरहाहै।उन्होंनेकहाकियहांके38गांवोंकेकिसान22फरवरीकोट्रैक्टर-ट्रालीलेकरपहलेबवानीखेड़ाकीअनाजमंडीमेंएकत्रितहोंगेइसकेबादभिवानीकेउपायुक्तकोज्ञापनसौंपनेकेलिएकूचकरेंगे।उन्होंनेकहाकिसभीगांवोंमेंइसबारेमेंजनजागरणअभियानपूराकरलियागयाहै।इसअवसरपरउपप्रधानधर्मबीरफौजी,लीलाधनाना,ओम,राजेन्द्र,बलवान,दिलबाग,उमेद,करतार,शेरसिंह,एडवोकेटबलवानसांगवान,जयभगवान,मेवासिंह,अनिलनहरा,राजेशशर्मा,जोगेन्द्रसूरजमल,लक्ष्मणदास,हवासिंह,राजारामसहितअनेककिसानउपस्थितरहे।