सरकारी आवासों में बगैर किराया रह रहे वेतनभोगी

सरकारीआवासोंमेंबगैरकिरायारहरहेवेतनभोगी

संवादसहयोगी,जालौन:क्षेत्रपंचायतकार्यालयमेंअधिकारियोंवकर्मचारियोंकेलिए22आवासबनेहुएहैं।विभागकेस्थायीकर्मचारियोंकेलिएबनेतीनआवासोंमेंबगैरआंवटनकेदैनिकवेतनभोगीकर्मचारीअपनाकब्जावर्षोंसेजमाएहुएहैंतथाबगैरकिरायादिएसरकारीआवासकामजालेरहेहैं।यहराजफाशआरटीआईमेंहुआहै।

जालौनकेनिवासीसंतोषकुमारनेआरटीआईकेजरिएयहजानकारीमांगीथी।बीडीओसंतरामद्वारादीगईजानकारीसेपताचलाहैकिस्थानीयक्षेत्रपंचायतकार्यालयमेंअधिकारियोंवकर्मचारियोंकेआवासबनेहुएहैं।खंडविकासअधिकारीकेलिएटाइपचारकाएकआवासबनाहुआहै,जिसकाकिराया13320रुपयेहै।इसकेसाथहीटाइपतीनके10आवासहैं,जिनकाकिराया7560रुपयेहै।इनमेंलेखाकार,ग्रामविकासअधिकारियोंकोआवंटितकिएगएहैं।कार्यालयमेंटाइपदोकेसातसरकारीआवासबनेहुएहैंजिनमेंएकआवासक्षतिग्रस्तहोनेकेकारणखालीपड़ाहै।छहआवासोंमेंकार्यालयकेकर्मचारियोंकोआवंटितहैजोदिनमेंरुककरसरकारीकामनिपटातेहैं,इनकाकिराया5400रुपयेहै।कार्यालयपरिसरमेंचतुर्थश्रेणीकर्मचारियोंकेलिएटाइपएककेचारआवासबनेहुएहैं,इनकाकिराया3600रुपयेप्रतिवर्षहै।कार्यालयमेंचतुर्थश्रेणीकर्मचारीकीनियुक्तिनहोनेकेकारणएकआवासखालीपड़ाहै।शेषतीनआवासोंपरतीनपरिवारबगैरआंवटनकेसरकारीआवासोंमेंकब्जाकिएहुएहैं।पहाड़पुरामेंनियुक्तसफाईकर्मीवर्षोंसेबगैरआवंटनकेनिवासीबनेहुएहैं।इसीतरहदोआवासमेंदैनिकवेतनभोगीकर्मचारीश्यामूवसुमितकब्जाकिएहैं।आवासकेसाथमिलनेवालीबिजलीवपानीकेरंगाई-पुताईकीसुविधाभीनिश्शुल्कपारहेहैं।विभागीयअधिकारियोंकीमेहरबानीपरसरकारीआवासोंकेसाथसुविधाओंकालाभलेरहेहैंतथासरकारकोकिराएकेनामएकसिक्कातकनहींदियाहै।