सर्दी की आहट के साथ आने लगे विदेशी मेहमान, अजमतगढ़ का ताल सलोना विदेशी पक्षियों का बना ठिकाना

आजमगढ़,जेएनएन।सगड़ी तहसीलक्षेत्रकेअजमतगढ़स्थिततालसलोनाअपनेप्राकृततिकसौंदर्यकेलिएजानाजाताहै।एकहजारएकड़मेंफैलातालसलोनाघनीआबादीकेबीचअपनीपुरातनछापवइसक्षेत्रकेलोगोंकासिरमौरहै।सर्दमौसममेंविदेशीपक्षीइसकीसुंदरतामेंचारचांदलगातेहैं।इनपक्षियोंकाआगमनसर्दीकीसूचनादेतेहैं।अभीसेविभिन्नप्रजातियोंकेविदेशीपक्षियोंनेडेराडालनाशुरूकरदियाहैतोवहींशिकारियोंनेभीजालबिछानाशुरूकरदियाहै।इनपक्षियोंकाशिकारतोप्रतिबंधहैलेकिनआजतकइसरपररोकनहींलगसकी।आसपासकेलोगोंकोइनपक्षियोंकेआनेकाइंतजाररहताहै।कारणकिदिनडूबनेऔरनिकलनेकेसाथइनकाकलरवलोगोंकोआनंदितकरदेताहै।

सुबह-शामपानीमेंअठखेलियावकलरवतालकीसुंदरतामेंचारचांदलगारहाहै।उधरसेगुजरनेवालेबरबसहीरुकजातेहैं।पक्षियोंकेलिएप्रचुरमात्रामेंआहारकेरूपमेंतालमेंतिन्नीऔरकवलगट्टाकेसाथमछलियांउपलब्धहै।उधरप्रतिबंधकेबादभीपक्षियोंकेआगमनकेसाथशिकारियोंनेभीअपनीतैयारीशुरूकरदीहै।कारणकिइनकेबदलेग्राहकअच्छीकीमतदेतेहैं।शिकारियोंकोदिनडूबनेकाइंतजाररहताहै।पक्षियोंकीकीमतबाजार500सेलेकर1000तकलगरहीहै।इसकेशौकीनशिकारियोंकोअपनीपसंदकेसाथएडवांसमेंरुपयेभीदेतेहैं।फिलहालअभीशिकाररोकनेकेलिएकोईकदमनहींउठायाजारहाहै।