स्पेशल रिपोर्ट: दम तोड़ रही है आगरा की जीवन रेखा 'यमुना', स्नान तो दूर आचमन लायक भी नहीं है पानी

आगरा,नितिनउपाध्याय।जोकालिंदीआगराकेलोगोंकीजीवनरेखाकहीजातीहै,आजउसेहीऑक्सीजनकीजरूरतहै।मकरसंक्रांतिनजदीकहैऔरइसपर्वपरपवित्रनदियोंमेंस्नानकरकेदानपुण्यकरनेकीपरंपराहै।लेकिनआगरामेंयमुनानदीकाजोहालहै,उसेदेखकरआचमनकरनाभीदूरकीबातहै।सरकारीतंत्रकीलापरवाहीसेकालिंदीकीकालिखगंगाजलभीनहींधोपारहाहै।

यमुनाकीसफाईकेलिएजलनिगमकीयमुनाएक्शनप्लानइकाईनेकरोड़ोंरुपयेपानीकीतरहबहादियेलेकिनहालातनहींसुधरे।यमुनाएक्शनप्लान1993मेंशुरूकियागयाथा।इसकेबाद2003मेंप्लानकादूसराफेजशुरूकिया।इनदोनोंफेजमेंकरोड़ोंरुपयेखर्चकरदिएगएहैं।इसकेबादभीयमुनामेंनालेधड़ल्लेसेगिररहेहैं।जलनिगमकेअधिकारियोंकीमानेंतोशहरमें90नालेनिकलतेहैं।इनमेंसेमहज28नालोंकोटेपकियागयाहै।62नालेनदीमेंसीधेगिररहेहैं।जलनिगमनेनमामिगंगामिशनकेतहतकरीब1400करोड़रुपयेकीडीपीआरतैयारकीहै।

गंगाजलपरियोजनासेभीनहींबदलीतस्वीर

जलनिगम130किलोमीटरदूरबुलंदशहरकेपालड़ाफालसेगंगाजललेकरआयाहै।2887करोड़रुपयेकेइसप्रोजेक्टकेतहत150क्यूसेकगंगाजलमिलरहाहै।इसमेंसे10क्यूसेकमथुराकोदियाजारहाहै।कुल140क्यूसेकपानीआगरामेंआरहाहै।जलनिगमनेसिकंदरातकपानीलादियाहैलेकिनसिकंदरावाटरवर्क्समेंफिलहालकरीब40क्यूसेकगंगाजलप्रयोगमेंलियाजारहाहै।100क्यूसेकगंगाजलयमुनामेंबहायाजारहाहैलेकिनगंगाजलभीनदीकाप्रदूषणकमनहींकरपारहाहै।

स्नानकरनेसेपीछेहटरहेहैंलोग

मकरसंक्रांतिपरयमुनामेंकैसेस्नानहोगा,यहसोचकरलोगपरेशानहैं।जिनकोपताहैकिसिकंदरामेंकैलाशमंदिरकेपाससेगंगाजल,यमुनामेंमिलायाजारहाहै,वेलोगवहांपहुंचजातेहैं।यदिपोइयाघाट,बल्केश्वरघाट,हाथीघाटयादशहराघाटकीबातकरेंतोपानीस्नानकरनेलायकनहींहै।जगहजगहभयंकरगंदगीकाआलमहैऔरखुलेनालेइन्हींघाटोंकेपासनदीमेंगिररहेहैं।

नगरनिगमनेकीखानापूर्ति

हरसालकीतरहमकरसंक्रांतिसेपहलेनगरनिगमकेकर्मचारीयमुनाआरतीस्थलकेपाससफाईकरतेनज़रआये,क्योंकिहरसालयहांपतंगबाज़ीकाकार्यक्रमबड़ेस्तरपरहोताहै,लेकिनइसतरहकीसफाईसेयमुनाकाभलानहींहोनेवालाहै।यमुनानदीसाफहोसकतीहैजबसरकारमज़बूतइच्छाशक्तिदिखाए,शहरकेनालेपूरीतरहटेपहोंऔरलोगयमुनामेंगन्दगीनाफैलाएं।