संशोधित : किनारे आने से पहले ही डूब जाती है जल संचय अभियान की कश्ती

जिलेमेंजलसंरक्षणकीनीतियोंकोअमलीजामापहनानेकीकश्तियांअक्सरकिनारेतकआते-आतेडूबजायाकरतीहैं।अबबढ़तीगर्मीवगिरतेभूजलस्तरकोदेखतेहुएबारिशकेपानीकोसहेजेजानेकीजरूरतमहसूसहोनेलगीहै।प्राकृतिकजलस्त्रोतोंकेसाथ-साथकृत्रिमजलाशयोंकीअहमियतअबलोगोंकीसमझमेंआनेलगीहै।विशेषज्ञसेलेकरअधिकारीतकइसबातकोस्वीकारकररहेहैंकिमानसूनकीशुरुआतमेंपर्याप्तबारिशहोनेकेबावजूदउसकादीर्घकालीनउपयोगनहींहोपारहाहै।जिससेइसतरहकीस्थितिउत्पन्नहोगईहै।जिलेकेदक्षिणीक्षेत्रमेंसिचाईकेलिएनहरसेपानीनहींमिलनेकीसमस्याआमहोगईहै।हरसालगर्मीआतेहीशुरूहोजातीहैचर्चा:

हरवर्षकीतरहइसबारभीगर्मीकेदस्तकदेनेकेसाथहीजलसंचयपरचर्चाशुरूहोगईहै।मार्चकेअंतिमसप्ताहसेशुरूहुईचर्चाअमूमनजुलाई-अगस्ततकचलतीहै,लेकिनअधिकतरकवायदसिर्फफाइलोंमेंहीउलझकररहजातीहै।गतवर्षभूमिवजलसंरक्षणविभागद्वाराजलसंचयकेलिएप्राकृतिकजलस्त्रोतोंकेपुनरूद्धारवनएजलस्त्रोतकेनिर्माणकीकवायदशुरूकीगईथी।लेकिनअबतकबारिशकेपानीकासंचयकरनेकीदिशामेंचलाईजारहीप्रभावकारीयोजनाएंआधी-अधूरीहीधरातलपरउतरपाईहै।दुर्गावतीजलाशयवितरणीनहींबननेसेपरेशानी:

दुर्गावतीजलाशयपरियोजनासेजुड़ीवितरणीकानिर्माणनहींहोनेसेजिलेकेसासाराम,तिलौथू,रोहतास,चेनारीवशिवसागरप्रखंडक्षेत्रकादक्षिणीहिस्सेमेंसूखेजैसेहालातहैं।सैकड़ोंगांवोंकेकिसानअबभीबारिशकेभरोसेखेतीकोमजबूरहैं।नहरसेपानीनहींमिलनेकेचलतेवे71रुपयेप्रतिलीटरकीदरसेडीजलखरीदकरधानकाबिचड़ाडालनेकेलिएखेतकीतैयारीमेंलगेहैं।किसानउपेंद्रसिंह,विद्यासागरतिवारी,जयनाथप्रसादसमेतअन्यनेकहाकियदिपहलेकीतरहबधारमेंतालपोखरहोतेतोआजयहनौबतनहींआती।जलसंरक्षणकेलिएकामकररहेसंगठनभीफिसड्डी:

वर्तमानसमयमेंपूरेजिलेमेंजलसंरक्षणकीअधिकतरयोजनाएंजैसे-तैसेसंचालितहोरहीहैं।जलसंरक्षणकेनामपरकामकरनेकाढिढोरापीटनेवालेस्वयंसेवीसंगठनोंकाकामभीधरातलपरनहींदिखरहाहै।हालांकिजिलाप्रशासननेभूगर्भजलस्तरबरकराररखनेकोलेदोवर्षपूर्वहरविद्यालयवआंगनबाड़ीकेंद्रोंमेंसोख्तानिर्माणकरानेकोलेअभियानचलायाथा,लेकिनहालकेदिनोंमेंयहभीकमजोरपड़गयाहै।लेदेकरभमिसंरक्षणविभागद्वारापहाड़ीक्षेत्रमेंचलाईजारहीआहर,तटबंध,चेकडैमवतालाबोंकानिर्माणकार्यहीचलरहाहै।कहतेहैंअधिकारी:

जिलेमेंजलसंरक्षणकोलेकईयोजनाएंचलरहीहैं।पहड़ीक्षेत्रोंमेंचेकडैम,तालाब,आहरआदिनिर्माणकाकार्यभीहुआहै।इससेनसिर्फजरूरतकेवक्तलोगोंकोपानीकीउपलब्धताहोगी,बल्किभूमिगतजलस्तरभीबरकराररहेगा।

लालजीप्रसादचौधरी,भूमिसंरक्षणपदाधिकारी