संक्रमण से उबरने के बाद भी बना रहता है खतरा, ब्रिटेन के स्वास्थ्य विभाग के अध्ययन में सामने आई बात

लंदन,प्रेट्र।यदिआपसोचरहेहैंकिएकबारसंक्रमितहोनेकेबादआपदोबारासंक्रमितनहींहोंगेयासंक्रमणनहींफैलासकतेतोआपगलतहैं।ब्रिटेनमेंकोरोनावायरस(कोविड-19)कोलेकरहुएएकआधिकारिकअध्ययनमेंयहबातसामनेआईहैकिएकबारकोरोनाकेसंक्रमणसेउबरनेकेबादमरीजमेंलगभगपांचमाहतकइम्युनिटी(प्रतिरक्षा)बनीरहतीहै।लेकिनउसकेवायरसकेसंवाहकहोनेकाखतराबनारहताहै।

दपब्लिकहेल्थइंग्लैंड(पीएचई)द्वाराजारीकिएगएअध्ययनमेंपायागयाहैकिपिछलेसंक्रमणोंकेपरिणामस्वरूपस्वाभाविकरूपसेइम्युनिटीहासिलहोतीहैऔरयहपुन:संक्रमणकेखिलाफ83फीसदसुरक्षाप्रदानकरतीहै।यहसंक्रमणकेबादकमसेकमपांचमहीनेतकबनीरहतीहै।हालांकि,विशेषज्ञोंनेचेतावनीदीकिइम्युनिटीवालेलोगोंकेनाकऔरगलेमेंवायरसहोनेकीसंभावनाकाफीज्यादारहतीहै।ऐसेमेंवेवायरसकेसंवाहकहोसकतेहैं।इसलिएसंक्रमणसेउबरनेकेबादभीसतर्कताबरतनाबेहदजरूरीहै।खासतौरपरऐसेलोगोंकोमास्ककाइस्तेमालकरनाछोड़नानहींचाहिए।

पीएचईकेवरिष्ठचिकित्सासलाहकारऔरसार्स-सीओवी-2इम्युनिटीएंडरीइंफेक्शनइवेल्यूएशन(सीआइआरईएन)नामकइसशोधकीनेतृत्वकर्ताप्रोफेसरसुसैनहॉपकिंसनेकहा,‘इसअध्ययननेहमेंकोविड-19केखिलाफएंटीबॉडीसंरक्षणकीप्रकृतिकीएकस्पष्टतस्वीरदीहै,लेकिनयहमहत्वपूर्णहैकिलोगइनशुरुआतीनिष्कर्षोकोगलतनहींसमझतेहैं।’

उन्होंनेकहा,‘अबहमजानतेहैंकिजिनलोगोंमेंएंटीबॉडीजविकसितहोचुकीहैं,उनमेंसेअधिकांशकोपुन:संक्रमणसेबचायाजाताहै,लेकिनबातयहींखत्मनहींहोजाती।हमअभीतकनहींजानतेहैंकिएंटीबॉडीजकितनेदिनोंतककामकरेंगी।इसलिएयहदौरबेहदसचेतरहनेकीसलाहदेताहै।

सतर्कताबरतनाहैजरूरी

प्रोफेसरसुसैननेजोरदेकरकहा,हमारेनिष्कर्षोकामतलबयहहैकियदिआपसोचरहेहैंकिएकबारसंक्रमितहोनेकेबादअबहमसुरक्षितहैंऔरबेरोक-टोककहींभीआजासकतेहैंतोशायदआपगलतहोसकतेहैं।इम्युनिटीविकसितहोनेकेबादभीखतराटलानहींहै।वर्तमानमेंसतर्कताबेहदजरूरीहै।हां,आपकेदोबारासंक्रमितहोनेकीआशंकाथोड़ाकमजरूरहोजातीहैपरआपकिसीस्वस्थ्यव्यक्तिकेलिएआफतखड़ीकरसकतेहैं।इसलिएलोगोंकीजानबचानेकेलिएयहबेहदजरूरीहैकिआपहरसंभवघरकेभीतरहीरहें।

खतरनाकहैनयावैरियंट

पीएचईनेकहा,पिछलेवर्षजूनसेहीपूरेब्रिटेनमेंहजारोंस्वास्थ्यकर्मीहरदिनकोरोनासंक्रमितोंऔरएंटीबॉडीकीमौजूदगीकापतालगारहेहैं,जिससेसंक्रमणकीरफ्तारकमहुईहै।लेकिनवायरसकेनएस्ट्रेनकेमिलनेकेबादयहांस्थितिकाफीगंभीरहोगईहै।नयावैरियंटवीओसी202012/01बहुततेजीसेफैलरहाहै।इसलिएअतिरिक्तसतर्कताकीजरूरतहै।