सिनेमा की भाषा और साहित्य की लिपि

भारतीयसिनेमामें'प्यासा'फिल्मकोअबतककीसबसेबेहतरीनऔरखूबसूरतकवितामयीफिल्मकेरूपमेंदेखाजाताहै.फिल्ममेंएकगानाहै-'येमहलों,येतख्तों,येताजोंकीदुनिया'जबयेगानाफिल्मायाजारहाथाउसवक्तफिल्मकेलेखकअबरारअल्वीकिसीकारणसेसेटपरमौजूदनहींथे.साहिरलुधियानवीजोउसदौरकेयाहिंदीसिनेमामेंहरदौरकेसबसेउम्दागीतकारमानेजातेहैं,उन्होंनेयहगीतलिखाहै.'टेनइयर्सविदगुरुदत्त,अबरारअल्वीजजर्नी'-इसकिताबमेंअपनेअनुभवोंकोसाझाकरतेहुएअबरारबतातेहैंकिजबवोसेटपरपहुंचेतबतकसाहिरकेलिखेइसगीतकीपूरीशूटिंगहोचुकीथी.वोगीतकेबोलसेखुशनहींथे.जबगुरुदत्तनेउन्हेंअनमनादेखातोउनसेजाननेकीकोशिशकीकिआखिरमाजराक्याहै.

अबरारनेगुरुदत्तसेकहाकिहमपचासकेदशकमेंजीरहेहैंयेकोईराजघरानोंकावक्तनहींकिहमइसतरहकेबोलकाइस्तेमालकरें.आजनतोमहलहैऔरनहीतख्तऔऱताज.अबरारनेकहायेपूरीतरहअप्रासंगिकहै.लेकिनअबकुछकियानहीजासकताथाक्योंकिगानातोशूटहोचुकाथा.तोअबरारनेइसगानेसेपहलेफिल्ममेंप्रकाशककीभूमिकानिभारहेरहमानकेलिएएकसीनलिखाजिसमेंवोमंचपरखड़ेहोकरबोलतेहैंकिआजअगरविजयजिंदाहोतेतोदेखतेकिजिसजनतानेउन्हेंठुकरादियाथावोआजउन्हेंतख्तपरबैठानाचाहतीहै,उसकेसरपरताजपहनानाचाहतीहै.इसतरहसेगानेकेबोलकेसाथन्यायकियागया.

यहभीपढ़ें-हिन्दीदिवस:अंग्रेजीकीभीड़मेंगुमनहींहुईहैहिन्दी

यहभीपढ़ें-हिन्दीदिवस:अंग्रेजीकीभीड़मेंगुमनहींहुईहैहिन्दी

वोअबरारअल्वीजोभाषाकोलेकरइतनीबारीकसोचरखतेथेउन्होंनेहीगुरुदत्तकीएकबेहदसफलफिल्म'आर-पार'मेंअपनेकिरदारोंसेउनकेहिसाबसेसंवादबुलवाए.फिल्ममेंटैक्‍सीड्राइवरकीभूमिकानिभारहेगुरुदत्तजोकमपढ़ेलिखाहैऔरमध्यप्रदेशकेकिसीगांवमेंपलाबढ़ाहै,हीरोइनकेपितासेबोलताहै-'बखत-बखतकीबातहैलालाजी,आजयारोंकाबखतढीलाहै,इसलिएगरजकेबोलतेहैं.'यहांअबरारनेवक्तकीजगहबखतशब्दकाऔरमेराकीजगहयारोंशब्दकाइस्तेमालकिया.जोउससंवादकोखूबसूरतभीबनादेताहैऔरसहजभी.पारसीकीभूमिकानिभारहेजॉनीवॉकरएकजगहबोलतेहैं'मैंतुमसेपहलेइचबोलाथा,इधरसेचलोकरके'-यहां'करके'एकदममुंबइयाहिंदीहै.

अबरारअल्वीबतातेहैंकिअगरहमेंकिसीकिरदारकेलिएसंवादलिखनेहैतोउसकिरदारकेपूरेरहन-सहनकेबारेमेंसोचकरलिखनाहोताहैकिआखिरवोकिरदारआताकहांसेहैं,किसवर्गसेसंबंधरखताहै.अगरआपसहीलिखनाचाहतेहोतोकईबारउसकोगलततरीकेसेलिखनापड़ताहै.क्योंकियहांकिरदारकुछपढ़नहींरहाहैवोबोलरहाहै.

यहभीपढ़ें:आखिरक्योंहरसाल14सितंबरकोहीमनायाजाताहै'हिन्दीदिवस'

यहभीपढ़ें:आखिरक्योंहरसाल14सितंबरकोहीमनायाजाताहै'हिन्दीदिवस'

हिंदीएकऐसीभाषाहैजिसेसबअपनीतरहइस्तेमालकरतेहैंऔरवोहोतीजातीहै.उसकेइसउदाररवैयेनेहीइसेबचाकररखाहुआहै.लेकिनयहांयेसोचनाभीजरूरीहोजाताहैकिहमकिसमाध्यमकेलिएलिखरहेहैं.किसकेलिएलिखरहेहैं.कहींऐसातोनहींहैकिहमअपनीकमीछिपानेकेचक्करमेंहिंदीपरप्रहारकररहेहैं.बीतेदिनोंकईटीवीसीरियल्सबनानेवालेप्रोडक्शनहाउसकेसाथकामकरनेकामौकामिला.अलगअलगतरहकेकार्यक्रमबनानेवालेइनसभीलोगोंमेंएकबातएकजैसीथी.अगरआपइन्हेंकुछभीदेवनागरीमेंलिखकरदेंगेतोआपकेपासतुरंतफोनआजाएगाकिइसेदेवनागरीकीजगहरोमनमेंलिखदीजिए.विडंबनादेखियेकिकिसीएकटीवीसीरियलमेंकभीकृष्णकीभूमिकानिभानेवालेशख्सकेलिएभीजबआपसंवादलिखतेहैंतोउसेरोमन(अंग्रेजीलिपीमेंहिंदीलिखना)मेंलिखकरदेनाहोताहैक्योंकि'कृष्ण'हिंदीपढ़नानहींजानतेहैं.

एकबारएकविज्ञापनफिल्मकेलिएजिंगल(गाना)बनानेकेदौरानऐसाहीदिलचस्पवाक्याहुआ.विज्ञापनकेनिर्देशकनेबतायाकिउसएकमिनिटकेजिंगलमेंवोक्याचाहतेहैं.जिंगललिखेजानेकेबादकमसेकम20-25बारउसमेंसुधारकियागयालेकिनबातहीनहींजमरहीथी.समझमेंयेनहींआरहाथाकिजोवोनिर्देशदेरहेहैंलिखातोवैसेहीजारहाहैआखिरदिक्कतकहांहै.इसतरहकरते–करतेएकदिननिर्देशकमहोदयअपनीटीमकेसाथमुंबईसेदिल्लीपहुंचे.अबहमआमनेसामनेथे,उन्होंनेबड़ीसंजीदगीऔरनर्मलहज़ेमेंबतायाकिवोक्याचाहतेहैं.इसबारउनकेसामनेहीजिंगललिखाऔरजबवोउसेपढ़नेलगेतबसारामाजरासमझमेंआया.दरअसलवहहिंदीपढ़हीनहींपातेहैं.इस'खुलासे'केबादजबपुरानेजिंगलकोमैंनेरोमनभाषामेंलिखकरदोबारादिखायातोउनकाकहनाथायहीतोवहचाहतेथे.

यहभीपढ़ें:हिन्दीदिवस-रायनस्कूलकीअंग्रेजियतकोकहेंजापानीनमस्ते

यहभीपढ़ें:हिन्दीदिवस-रायनस्कूलकीअंग्रेजियतकोकहेंजापानीनमस्ते

देशकेकईचैनलोंपरआनेवालकार्यक्रमोंकेलिएलेखनकरनेकेदौरानएकबातसेहरबारदोचारहोनापड़ताहैकिभाषा'यूथ'सेजुड़ीहोनीचाहिए.जिस'यूथभाषा'कीयहांपरबातकीजातीहैउसकामतलबहोताहैएकऐसीस्क्रिप्टजिसमेंअंग्रेजीशब्दोंकीभरमारहो.यहांतककिकईबारउनहिंदीशब्दोंकाइस्तेमालभीवर्जितहोताहैजोचलनमेंहोतेहैं.इसकेपीछेउनकातर्कयहीरहताहैहमारेयुवादर्शकइसभाषाकोसमझनहींपाएंगे.वहींइसदेशकेहरबच्चेंकीज़बानपररहनेवालेडोरेमोनऔरशिनचेनकीभाषापरअगरगौरकरेंगेतोवोआपकोहैरतमेंडालदेगी.जहांथेंक्यूजैसेशब्दकीजगहभी'आपकाशुक्रिया'औरहेल्पकीजगहपर'मदद'जैसेशब्दोकाइस्तेमालबड़ीहीसहजताकेसाथकियाजाताहै.खासबातयेहैकियेकार्यक्रमचर्चितभीहैऔरबच्चेंइसेसमझभीलेतेहैं.

इनदिनोंएकजुमलाचलनिकलाहैनईवालीहिंदीयाफिरकूलहिंदी.येबहुतअच्छीबातहैकिहमहिंदीकोभीसहजकरनेमें,आमजनकोपाठकबनानेमेंलगेहुएहैं.लेकिनइसकाएकनुकसानभीहैयहांनईहिंदीमेंजोलिखाजारहाहैउसमेंदेवनागरीमेंअंग्रेजीलिपिकोघुसेड़ाजानेलगाहै.जोनासिर्फभाषाकेलिएहीनुकसानदायकहैबल्किलिपिपरभीचोटपहुंचाताहै.हिंदीकेलोकप्रियटीवीउद्घोषकशम्मीनारंगजिनकीआवाज़दिल्लीमेंचलनेवालीमेट्रोमेंभीआपकेकानोंमेंपड़तीहै,उन्होंनेएकइंटरव्यूमेंउदाहरणदेतेहुएकहाथाकिएकलेखककादायित्वहोताहैकिवोअपनेपाठककोसिर्फपठनसामग्रीहीनदेसाथमेंउसेशिक्षितभीकरे.उदाहरणदेतेहुएनारंगनेबतायाथा'जैसेहमेंअगरलगताहैकियूनिवर्सिटीशब्दविश्वविद्यालयसेज्यादाजानापहचानाशब्दहैतोइसेइस्तेमालकरतेवक्त'यूनिवर्सिटीयानिविश्वविद्यालय'लिखाजासकताहैताकिजोपाठकइसशब्दकाअर्थनहींजानताथावोभीजानजाएगा.लेकिनऐसानहींकरकेअबअंग्रेजीकेशब्दोंकोउसीलिपिमेंहिंदीसाहित्यमेंडालदियाजाताहै.अक्सरलोगएकशब्दकाइस्तेमालकरतेहैंशुद्धहिंदी.दरअसलशुद्धहिंदीजैसीकुछहोतीनहींहै.भाषायातोकठिनहोतीहैयासरलहोतीहैऔरयहनियमहरभाषापरलागूहोताहै.एकअंग्रेजीशेक्सपियरनेलिखीहैजोसमझनाहरकिसीकेबूतेकीनहींहोतीहै.

एकसहजऔरसरलअंग्रेजीहैजिसनेचेतनभगतकोभारतकेप्रसिद्धलेखकोंमेंशुमारकरदियालेकिनआपनेकभीकिसीअंग्रजीकीकिताबमेंकिसीदेवनागरीलिपिमेंलिखेहुएशब्दकोदेखाहै.दरअसलयहीवोबातहैजोहमारीभाषाकोकहींकानहींछोड़तीहै.येबातसहीहैकिजिसभाषामेंजितनीस्वीकार्यताहोतीहैवोभाषाउतनीज्यादासमृद्धहोतीहैऔऱजीवितरहतीहै.लेकिनइनदिनोंलेखनमेंखासकरसाहित्यमेंयेदेखाजारहाहैकिहमउनअंग्रेजीशब्दोंकाइस्तेमालभीधड़ल्लेसेकररहेहैंजिसकाएकसरलऔऱचर्चितपर्यायवाचीहिंदीमेंमौजूदहै.इसतरहसेहोयेरहाहैकिआनेवालीपीढ़ीजोअभीसीखनेकीप्रक्रियामेंहैउसेहमहिंदीकेउनशब्दोंसेदूरकरतेजारहेहैंजोवोआसानीसेजानसकतेहैं.जिसतरहसेबच्चेधीरेधीरेहिंदीकीगिनतीऔरबारहखड़ीबोलनेमेंअसहजहोतेजारहेहैंवैसेहीधीरेधीरेवोशब्दोंसेभीदूरहोतेचलेजाएगेऔरभविष्यमेंउनकेपासउनसरलहिंदीशब्दोंकाअभावहोजाएगाजोउनकीभाषाकोसमृद्धकरसकतेथे.

हिंदीफिल्मोंकाजानामानानामलेखकडॉराहीमासूमरजाअपनीकिताबसिनेमाऔरसंस्कृतिमेंलिखतेहैकि-पंजाबीभाषाऔरपंजाबीसाहित्ययहदोनोंहीइसबातकासबूतहैंकिधर्मऔरभाषामेंकोईदूरीयाकरीबीरिश्तेदारीनहींहै.पाकिस्तानीपंजाबकामुसलमानजोभाषापढ़तालिखताऔरबोलताहैउसकानामभीपंजाबीहै.हिंदुस्तानीपंजाबकासिखजोभाषालिखतापढ़ताऔरबोलताहैवहभीपंजाबीहै.मुसलमानपंजाबीभाषाकोउर्दूमेंलिखताहै,हिंदूपंजाबीकोदेवनागरीमेंलिखताहैऔरसिखगुरुमुखीमें.

अगरपंजाबीजोभाषागुरुमुखीमेंलिखताहै,हिंदूउसीकोदेवनागरीमेंलिखताहैऔरकोईउसेउर्दूमेंलिखताहैतोऐसेहीअंग्रेजीकोभीदेवनागरीमेंलिखाजासकताहै.वैसेभीहमनेअंग्रेजीसहितनजानेकितनीभाषाओंकेशब्दोंकोहिंदीमेंसमाहितकियाजातारहाहै.

डॉ.रजालिखतेहैंकि'हिंदीकोराष्ट्रभाषाबननेकेलिएसौबरसतोदीजिएऔरजबतककेलिएयासारीहिंदुस्तानीलिपियोंमेंलिखीजानेवालीहिंदीकोराष्ट्रभाषाबनाइयेयादेवनागरीकोराष्ट्रलिपिकहिएऔऱभारतकीसारीभाषाएंएकलिपिमेंलिखिए,लोगोंकोपासआनेकेलिएएकसड़कतोदेनीहोगी.यदिदेशकीसारीभाषाएंएकलिपिमेंलिखीजानेलगेंगीतोभाषाओंकोऔरउनकेभाषियोंकोघुलनेमिलनेकामौकामिलेगा.शब्दोंकालेनदेनहोगाऔरयूंसौसवासौबरसमेंएकराष्ट्रभाषाउगआएगी.इसनईभाषाकानामगांधीजीपहलेहीरखगएथे'हिंदुस्तानी'.

तबतकसिनेमागढ़नेवालेथोड़ाहिंदीपढ़नासीखेंऔरमैकबैथ,हैदर,लुटेरा,थ्रीइडियट्स,टूस्टेट्सकेसाथकभीहिंदीकेसाहित्यकीगलीमेंभीचक्करलगाएंयहांभीबननेलायकबहुतकुछहै.औरसाहित्यगढ़नेवालेभीयहसोचेंकीजोवोगढ़रहेहैंउसमेंभारततभीआयेगाजबवोयहींकीसोचकेसाथयहांकेअंदाज़मेंरचागयाहोगा.यहांयेसोचनेकीभीज़रूरतहैकिकहीवोसहजहोनेकेचक्करमेंसपाटतोनहींहोताजारहेहैं.

(डिस्क्लेमर:इसआलेखमेंव्यक्तकिएगएविचारलेखककेनिजीविचारहैं)

(डिस्क्लेमर:इसआलेखमेंव्यक्तकिएगएविचारलेखककेनिजीविचारहैं)