सिमी के संदिग्‍ध आतंकियों ने कबूला; मुजफ्फरनगर दंगों का लेना चाहते थे बदला, जानें क्‍या था प्‍लान

इनपांचोंसेभुवनेश्‍वरस्‍थ‍ितस्‍पेशलऑपरेशनग्रुपकेएंटीमाओइस्‍टसेंटरमेंपूछताछचलरहीहै।पुलिसकेमुताबिक,इनलोगोंनेजांचकर्ताओंसेबतायाकिवेउनदंगोंकाबदलालेनाचाहतेथे,जिसमेंकमसेकमसाठलोगोंकीमौतहोगईथीऔरहजारोंकोघरछोड़नापड़ाथा।पुलिससूत्रोंकेमुताबिक,इनलोगोंकीयोजनाथीकिमोटरसाइकिलोंमेंबमलगाकरआईईडीकेजरिएधमाकाकियाजाए।वेभीड़भाड़भरेइलाकोंमेंयेधमाकेकरनाचाहतेथे।पुलिसकेमुताबिक,इन्‍होंनेकईजगहोंकीरेकीभीकी।येलोगबिजनौरमेंआईईडीबनानेकीकोशिशकररहेथे,लेकिनइसमेंधमाकाहोगया।धमाकेमेंमहबूबबुरीतरहसेघायलहोगया।इसकेबाद,इनकेमुजफ्फरनगरमेंधमाकेकरनेकीयोजनाठहरगई।इसकेबाद,येसंदिग्‍धदक्षिणभारतकेकईशहरोंमेंधमाकाकरनाचाहतेथे।

पुलिसनेबतायाकिकुछमहीनेतकभागनेकेबादइनलोगोंनेपिछलेसालओडिशाकेभद्रककस्‍बेमेंपनाहली।इन्‍होंनेएकमवेशीकेव्‍यापारीसे1400रुपएमहीनेकेहिसाबसेएकमकानकिराएपरलिया।इनलोगोंनेखुदकोलकड़ीऔरखादकाकारोबारीबताया।येलोगयहांकिसीसेबातनहींकरतेथे।सभीसुबहहीघरसेनिकलजातेथेऔररातकोघरलौटतेथे।इसदौरानमहिलाघरपरहीरहतीथी।येचारोंएकसाथकहींनहींजातेथे।पुलिसकेमुताबिक,घरमेंजांचकेदौरानसिमीसेजुड़ीएकमैगजीन,जिहादछेड़नेके44तरीकेनामकीकिताब,दोमोबाइलफोन,एकडोंगल,एकपेनड्राइवऔरकुछतारबरामदहुए।कमरेमेंकुछऐसेदस्‍तावेजभीमिले,जिसमेंबतायागयाथाकिआईईडीकैसेबनाएजातेहैं।इनलोगोंनेएकस्‍थानीयकोएकलैपटॉपभीबेचाथा,जिसेबरामदकरलियागयाहै।