सिचाई के लिए किसान अपनाएं ड्रिप तकनीक, बचेगा पानी

जागरणसंवाददाता,संगरूर:केंद्रसरकारद्वाराशुरूकिएगएजलशक्तिअभियानकेतहतपानीकोसंयमसेप्रयोगकरनेसंबंधीपंजाबखेतीबाड़ीयूनिवर्सिटीकेकृषिविज्ञानकेंद्रखेड़ीवफार्मसलाहकारसेवाकेंद्रनेखेड़ीफार्मपरएकदिवसीयजलशक्तिकिसानमेलालगायागया।किसानमेलेमेंएकहजारसेज्यादाकिसानोंनेहिस्सालिया।मेलेमेंअतिरिक्तडिप्टीकमिश्नर(विकास)संगरूरसुभाषचंद्रनेमुख्यमेहमानकेतौरपरशिरकतकी।उन्होंनेकहाकिजलशक्तिअभियानकामुख्यउद्देश्यकिसानों,उद्योगपतियोंवआमलोगोंकोपानीकीमहत्तावपैदाहोरहेजलसंकटसंबंधीविचारचर्चाकरइसकाहलनिकालनाहै।डा.मनदीपसिंहएसोसिएटडायरेक्टरकृषिविज्ञानकेंद्रखेड़ीनेकेवीकेखेड़ीकीगतिविधियोंसंबंधीप्रकाशडाला।उन्होंनेकिसानोंकोपानीकीसंयमसेप्रयोगवपंजाबखेतीबाड़ीयूनिवर्सिटीकीओरसेविकसितकीगईतकनीकेंजैसेधानकीजल्दपकनेवालीकिस्में,सीधीबिजाई,खेतोंकालेवलबराबरकरनेकेलिएलेजरलेवलरकाप्रयोग,धानमेंलगातारपानीजमानकरना,टुपकासिचाईकाज्यादासेज्यादाक्षेत्रमेंप्रयोगकरनेसंबंधीबताया।उन्होंनेकिसानोंकोधानकीपूसा44वपीलीपूसाजैसीकिस्मोंकोनलगानेकोकहा।इंचार्जसलाहकारसेवाकेंद्रसंगरूरडॉ.बूटासिंहरोमाणानेकहाकिअगरकिसानोंनेपानीकेदुरुपयोगकोनरोकातोआनेवालीपीढि़योंकेलिएपानीबचानामुश्किलहोजाएगा।उन्होंनेकिसानोंकोपीएयूद्वारासिफारिशें,घरेलूबगीचीलगानेकोप्रेरितकियाताकिलोगअपनीसेहतकाख्यालरखसकें।इंजीनियरराकेशशारदानेकहाकिड्रिपसिंचाईसेकिसाननकेवल30-40प्रतिशतपानीबचासकतेहैंबल्किफसलकीपैदावारमें15-20प्रतिशतबढ़ोतरीकरसकतेहैं।उन्होंनेपीएयूद्वाराबरसातदौरानछतकापानीइकट्ठाकरनेवालेमॉडलसंबंधीजानकारीदी।डा.विनयसंधूफसलविज्ञानीपीएयूलुधियानानेकिसानोंकोविभिन्नफसलोंमेंपानीबचानेकेलिएखेतकोतैयारकरनेकेतरीकेवतक्नीकोंसंबंधीबताया।पौधसुरक्षामाहिरडॉ.गुरबीरकौरनेधानकीफसलमेंआनेवालीबीमारियोंवउनकीरोकथामसंबंधीजानकारीदी।गृहविज्ञानमाहिरडा.मोनिकाचौधरीनेघरेलूस्तरपरपानीबचानेकेनुक्तोंसंबंधीबताया।मुख्यखेतीबाड़ीअफसरसंगरूरडॉ.जसविदरपालसिंहनेपानीकेसंकटवइसकेहलसंबंधीबताया।मेलेदौरानप्रगतिशीलकिसाननिशानसिंहपन्नू,जयसिंहगिल,कुलदीपशर्मावगुरिदरसिंहनेकिसानोंकोपानीबचानेकीअपीलकी।मुख्यमेहमानद्वाराप्रगतिशीलकिसानोंवसेल्फहैल्पग्रुपोंकोईनामदेकरसम्मानितकियागया।मेलेमेंविभिन्नकंपनियों,विभागों,ग्रुपोंवखेतीबाड़ीमशीनेंबनानेवालीफार्मोद्वाराप्रदर्शनीलगाईगई।किसानोंकीसुविधाकेलिएसर्दीकेमौसमकीसब्जियोंकेबीज,पानीचैककरनेवालीकिटेवखेतीसाहित्यकीस्टॉलेलगाईगई।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!