शुचिता जरूरी

शैक्षिकसंस्थानोंमेंकदाचारहोनेलगताहैतोविद्यार्थियोंकीमनोदशापरविपरीतअसरपड़ताहै।-----शिक्षाकेमंदिरोंमेंपिछलेकुछमहीनोंमेंऐसीघटनाएंहुईजिनसेउनकीसाखकोबेहदधक्कापहुंचाहै।बनारसहिंदूयूनिवर्सिटीमेंछात्राओंसेछेड़खानीकामामलाहोयाकानपुरआइआइटीमेंरैगिंगकरनेवाले22छात्रोंकोनिलंबितकरनेका,इनसवालोंकोहलकरनेकीगंभीरतापरप्रश्नचिह्नखड़ेहोगएहैं।लखनऊस्थितकिंगजार्जमेडिकलयूनिवर्सिटी(केजीएमयू)चिकित्साकेक्षेत्रमेंएकबड़ानामहै।हजारोंछात्र-छात्राएंयहांपढ़ाईतोकरतेहीहैं,नजानेकितनेमरीजोंकाइलाजभीकियाजाताहै।यहांइलाजकरानेआईदोमहिलाओंकेसाथरातमेंदुष्कर्मकाप्रयासकियागया।विरोधकरनेपरजानसेमारनेकीधमकीदीगई।नाराजपरिवारीजननेमिलकरआरोपितकोपीटाऔरपुलिसकेहवालेकरदिया।इसघटनानेकेजीएमयूकीसुरक्षाव्यवस्थापरसवालखड़ेकरदिएहैं।संदेशगयाकिपड़ोसीजिलोंसेलखनऊमेंआकरइलाजकरानेवालींमहिलाएंकेजीएमयूकैंपसमेंसुरक्षितनहीं।ऐसेमामलोंमेंपीडि़तमहिलाएंज्यादातरगरीबतबकेकीहीहोतीहैं,जिनकेपासहोटलयाधर्मशालामेंरुकनेकेलिएपर्याप्तपैसेनहींहोतेइसलिएवेअस्पतालपरिसरमेंहीफर्शपररातगुजारलेतीहैं।केजीएमयूमेंइसतरहकीकईघटनाएंहोचुकीहैं।प्रदेशकेसबसेबड़ेराजकीयअस्पतालबलरामपुरमेंभीऐसीकईघटनाएंहुईं।हरबारसंबंधितप्रशासनअपनेपरिसरकीसुरक्षाव्यवस्थाकोऔरबेहतरबनानेकादावाकरताहैलेकिन,बादमेंभूलजाताहै।प्रदेशमेंजितनेभीबड़ेशैक्षिकसंस्थानहैं,उन्हेंअपनीसाखऔरविश्वसनीयताबनानेमेंलंबासमयलगाहै।छात्र-छात्राएंयहांप्रवेशलेकरअपनाभविष्यसंवारनेआतेहैं।वेयहांपरिसरमेंरहकरजीवनकेऐसेसबकसीखतेहैंजोआगेउन्हेंबहुतकामआताहै।शैक्षिकसंस्थानोंमेंकदाचारहोनेलगताहैतोविद्यार्थियोंकीमनोदशापरविपरीतअसरपड़ताहै।अभिभावकबहुतभरोसेकेसाथअपनेबच्चोंकोपढ़नेकेलिएभेजतेहैं।मेडिकलयाइंजीनियरिंगपरिसरबहुतसुरक्षितमानेजातेहैंपरंतुजबवहांभीहिंसकघटनाएंहोतीहैंयारोगियोंकेसाथअमानवीयबरतावहोताहैतोबहुतलोगोंपरसवालखड़ेहोतेहैं।यहराज्यसरकारकोभीदेखनाचाहिएकिऐसीएकघटनाहोनेकेबादसंस्थाननेकार्रवाईक्याकी।

[स्थानीयसंपादकीय:उत्तरप्रदेश ]