शशकासन और भुजंगासन का करें अभ्यास

शामली,जागरणटीम।योगकोदिनचर्याकाहिस्साबनानासेहतकेलिएवरदानहै।तमामऐसेआसनऔरप्राणायामहैं,जोहमारेस्वास्थ्यकोबेहतरबनाएरखसकतेहैं।शशकासनकेअभ्याससेभीशरीरमेंआक्सीजनकीमात्राबढ़तीहैऔरअन्यभीकाफीलाभहोतेहैं।

योगप्रशिक्षिकाअवंतिकावर्मानेबतायाकिशशकासनकेलिएपद्मासनश्रेष्ठहै।उक्तआसनकातीनसेपांचचक्रकाअभ्यासनियमितरूपसेकरें।फेफड़ेमजबूतहोतेहैंऔरश्वांससंबंधितदिक्कतेंदूरहोतीहैं।तनावसेमुक्तिऔरहृदय,शुगररोगियोंकेलिएभीयहबेहतरहै।साथमेंथोड़ीदेरभुजंगासनऔरगोमुखासनकरें।कुछदेरभस्त्रिका,अनुलोम-विलोम,कपालभाति,भ्रामरीकाअभ्यासकरें।अगरकोरोनासेसंक्रमितहैंतोप्राणायामकरसकतेहैं।कोरोनाकालमेंयोगकेप्रतिलोगोंकारुझानबढ़रहाहै।यहअच्छीबातहै।योगहमेंशारीरिकऔरमानसिकरूपसेस्वस्थरखताहै।

कोरोनासंक्रमणसेबचावकोदीधूनी

संवादसूत्र,कैराना:कोरोनासंक्रमणसेबचावकेलिएआदर्शग्रामतितरवाड़ाग्रुपनेगांवमेंजड़ी-बूटीमिश्रितसामग्रीकेसाथधूनीदी।

बुधवारकोक्षेत्रकेगांवतितरवाड़ामेंआदर्शग्रामतितरवाड़ाग्रुपकीओरसेकोरोनासंक्रमणसेबचावहेतुजड़ी-बूटीमिश्रितसामग्रीकेसाथधूनीकार्यक्रमकाआयोजनकिया,जिसकेबादगलियोंमेंघूमकरधूनीदीगई।इसदौरानमनोजनेकहाकिइसप्रकारकार्यक्रमसेवातावरणशुद्धहोताहै।हमेंकोरोनासंक्रमणसेबचावकेलिएसावधानीबरतनेकीजरूरतहै।उन्होंनेगाइडलाइनकापालनकरनेकीभीअपीलकी।इसदौरानसंदीप,कुलदीप,सोनू,संजयफौजी,हिमांशु,सलेक,गुरदासरोहिलाआदिमौजूदरहे।उधर,गांवपंजीठमेंभीवातावरणकीशुद्धिहेतुधूनीदीगई।इसदौरानडिपल,राजकुमारसैनी,श्रीनिवाससैनी,भूषणसैनी,जितेंद्रसैनीआदिमौजूदरहे।