शलेरा स्कूल में गहराया पेयजल संकट

संवादसहयोगी,गुशैणी:बंजारविकासखंडकीचनौनपंचायतकीराजकीयप्राथमिकपाठशालाशलेरामेंपेयजलकीसमस्यापेशआरहीहै।स्कूलमेंपीनेकेलिएपानीनमिलनेकेकारणस्कूलीछात्रवछात्राओंकेसाथ-साथअध्यापकोंकोकाफीपरेशानियोंकासामनाकरनापड़रहाहै।

शुक्रवारकोआयोजितएसएमसीकीमासिकबैठकमेंपेयजलकीसमस्याकोलेकरविस्तृतचर्चाकीगईऔरइससमस्याकाकोईसमाधाननिकालनेपरभीविचारकियागया।बैठककीअध्यक्षताकरतेहुएएसएमसीअध्यक्षचंद्रमणिनेबतायाकिस्कूलमेंपेयजलसमस्यागहरानेकेकारणबच्चोंकोसबसेअधिकपरेशानीहोरहीहै।काफीवर्षोंसेजलवाहककापदखालीहोनेकेकारणस्कूलीबच्चेआधाकिलोमीटरदूरसेपैदलपानीढोकरलानेकोमजबूरहैं।एसएमसीकेसदस्यनरोत्तम¨सह,यशवंत¨सह,वीनादेवी,रजनीदेवी,गंगा,भीमावललितचौहानवबच्चोंकेअभिभावकोंकेअनुसारइससमस्याबारेआइपीएचविभागकोभीकईबारलिखिततौरपरशिकायतदर्जकरवाईगईहै।लेकिनउसकेबावजूदभीविभागकेअधिकारियोंकेकानमेंजूंतकनहींरेंगरहीहै।अभिभावकोंकाकहनाहैकिपेयजलस्त्रोतमेंपानीकीमात्राउपलब्धहै।लेकिनकुछशरारतीतत्वबीचमेंलाइनकोखोलकरपानीकादुरूपयोगकररहेहैं।जिसकारणस्कूलकेबच्चेपानीसेवंचितरहरहेहैं।उक्तसभीलोगोंनेप्रशासनसेइसबारेमेंकोईउचितकार्रवाईकरनेकीमांगकीहै।

उधर,विभागकेसहायकअभियंताएमएसधामीकाकहनाहैकिजल्दहीविभागकेकर्मचारीकोपेयजलस्त्रोतसंबंधितपूरीजानकारीएकत्रितकरकेरिपोर्टसौंपनेकाकहागयाहै।