शिखर पर चमक रहे खिलाड़ी, ओलंपिक पदक की तमन्ना

दिलशादसैफी,मुजफ्फरनगर।एथलेटिक्समेंप्रियंकापंवार,कुश्तीमेंअनुजकुमार,दिव्याकाकरान,निशानेबाजीमेंअनवरअली,मुरादअलीऔरकबड्डीमेंसंजीवबालियानजैसेहोनहारखिलाड़ियोंनेदेश-दुनियामेंअपनीप्रतिभाकीछापछोड़ीहै।खिलाड़ियोंनेपदकझटके।कईवरिष्ठखिलाड़ियोंनेअर्जुनअवॉर्डभीहासिलकियालेकिनओलंपिककापदकअभीख्वाबबनाहै।

खेलविभागकेपासकरीब34खिलाड़ियोंकीसूचीहै।इनमेंपांचअर्जुनअवॉर्डी,11अंतरराष्ट्रीयऔर18राष्ट्रीयस्तरपरधूममचाचुकेहैं।वहीं,चौधरीचरणसिंहस्पो‌र्ट्सस्टेडियममेंभीखेल,खिलाड़ियोंकेलिएबजटऔरसंसाधनोंकाटोटाहै।

कुश्तीमेंदिव्या,शूटिगमेंनेहाकाजलवा:कुश्तीमेंपुरबालियानकीदिव्याकाकराननेप्रतिभाकाडंकाबजायाहै।एशियनगेम्स,कॉमनवेल्थगेम्सकेसाथअन्यराष्ट्रीयस्तरोंपरप्रतिद्वंद्वीपहलवानोंकोपटखनीदेकर70सेअधिकपदकअपनेनामकिएहैं।शूटिगमेंनेहातोमरनेअंतरराष्ट्रीयस्तरपरनिशानेलगाएहैं।दिव्याबतातीहैंकिअबउनकालक्ष्यभारतकेलिएओलंपिकमेंपदकजीतनाहै।दिल्लीकेसाथगांवमेंभीआकरवहकुश्तीकीबारीकियोंकोऔरअधिकपुख्ताकररहीहैं।नेहातोमरभीफिलहालघरपरहीनिशानेबाजीकाअभ्यासकररहीहैं।

ओलंपिकमेंपदककेलिएजीतोड़मेहनत:नईमंडीकेकंबलबागनिवासीपैरालंपिकखिलाड़ीविजयतोमरइंडोनेशियाकेजकार्तामेंहुएएशियाडगेम्समेंलंबीकूदमेंरजतपदकजीतचुकेहैं।विजयबतातेहैंकिउनकासपनाओलंपिकमेंगोल्डमेडलजीतनाहै।इसकेलिएशहरमेंरहकरअभ्यासकररहेहैं।

फरवरी2020तकस्टेडियममेंखिलाड़ियोंकीमौजूदगी

खेलऔरखिलाड़ियोंकेलिएसमय-समयपरबजटमिलताहै।खिलाड़ियोंकोअभ्याससेतराशाजारहाहै।लॉकडाउनमेंखेलबंदहैं।खेलोंमेंमुजफ्फरनगरकाइतिहासकाफीरोचकहै।यहांकेखिलाड़ियोंनेदेश-विदेशमेंप्रतिभादिखाईहै।

-हरफूलसिंह,उपक्रीड़ाअधिकारी,मुजफ्फरनगर