शहर में नहीं कोई अधिकृत पार्किंग, पल-पल लगता है जाम

कासगंज,संवादसहयोगी:जिलेमेंवाहनोंकोखड़ाकरनेकेलिएकोईअधिकृतपार्किंगनहींहै।इतनाहीनहीं,आटोरिक्शा,ई-रिक्शाकेलिएकोईअधिकृतस्टैंडतकनहींहैं।बाजारोंएवंकार्यालयोंमेंभीलोगजहां-तहांवाहनोंकोखड़ाकरतेहैं।हालांकि,जिलान्यायालयऔरतहसीलपरिसरमेंसाइकिलस्टैंडकाठेकाहै।

शहरकेमुख्यबाजारनदरईगेट,बिलरामगेट,सहावरगेट,सोरोंगेटकेअलावाउपबाजारलक्ष्मीगंज,सब्जीमंडी,तहसीलरोड़,मीनाबाजार,सूतकीमंडीमेंपार्किंगनहोनाएकबड़ीसमस्याहै।शहरभरमेंपालिकाकीकोईअधिकृतपार्किंगनहींहै।बाजारोंमेंचालकदुकानोंकेहीबाहरअथवाजहां-तहांवाहनखड़ाकरदेतेहैं।पार्किंगनहोनेसेवाहनोंकोजहां-तहांखड़ाकरनाचालकोंकीमजबूरीहै।इसकेचलतेबाजारोंमेंजामलगजाताहै।इससेलोगोंकावहांसेगुजरनामुश्किलहोजाताहै।त्योहारोंपरतोहालातबदसेबत्तरहोजातेहैं।वाहनोंकादबावइतनाबढ़जाताहैकिबाजारोंसेलगेगलीकूंचेभीजामसेजूझतेहैं।शहरकेमुख्यबाजरोंमेंयदिअधिकृतपार्किंगकीव्यवस्थाहोतोलोगोंकोपरेशानीकासामनानकरनापड़ेऔरनगरपालिकाकेलिएभीआयकासाधनहो।शहरमेंकोईअधिकृतपार्किंगनहींहैऔरनहीआटोरिक्शा,ई-रिक्शाकाकोईस्टैंडठेकाहै।हालहीमेंशासनकानयाआदेशभीआयाहै।इसमेंपालिकाअबस्टैंडकेलिएकोईठेकानहींउठाएगीऔरनहीपार्किंगठेकाउठासकतीहै।

-धर्मराजसिंह,ईओ