शहर डूबने पर ही हुजूर मानते हैं आई है बाढ़

खगड़िया।जिलेमेंबांध-तटबंधोंकीलंबीश्रृंखलाकेबावजूदलगभगतीनदर्जनऐसीपंचायतेंहैं,जोसाल-दोसालबादबाढ़केपानीसेघिरजातीहैं।परंतु,सरकारकीओरसेवहांराहतकार्यनहींचलाएजातेहैं।बहुतहुआ,तोदो-चारनावदेकरकर्तव्यकीइतिश्रीकरलीजातीहै।इनपंचायतोंकेलोगभगवानभरोसेबाढ़-बरसातकासमयकाटतेहैं।सरकारबांध-तटबंधटूटनेकेबादपानीआनेकोहीबाढ़मानतीहै।येपंचायतेंबाढ़सेहैंप्रभावित

गंगाऔरबूढ़ीगंडककीबाढ़सेअभीसदरप्रखंडकीरहीमपुरउत्तरी,मध्यतथारहीमपुरदक्षिणीपंचायतघिरीहुईहै।जबकिपरबत्ताप्रखंडकेतेमथाकरारीपंचायतकीशर्माटोला,अरगल्लाटोला,सौढ़दक्षिणीकेविकासनगर,भरतखंडड्योढ़ी,सौढ़उत्तरीकेकोरचक्का,कबेलाकेजागृतिटोला,भरसों-कुल्हड़ियापंचायतकीसलारपुरगांवबाढ़कीचपेटमेंहै।गोगरीप्रखंडकीसंपूर्णबौरनापंचायतबाढ़ग्रस्तहै।गोगरीपंचायतकीइमादपुर,लतामबाड़ीऔरफतेहपुरछोड़संपूर्णरामपुरपंचायतबाढ़प्रभावितहै।इटहरीपंचायतभीबाढ़कीचपेटमेंहैऔरकईग्रामीणसड़केंध्वस्तहोचुकीहै।आवागमनकोलेकरपरेशानियोंकासामनापीड़ितकररहेहैं।गोगरीनगरपंचायतकीवार्डआठऔर11भीगंगाकेपानीसेघिरेहैं।जबकिकोसीऔरकालीकोसीकीबाढ़सेबेलदौरप्रखंडकीइतमादी,कुर्बन,दिघौनऔरकंजरीपंचायतप्रभावितरहीहै।बाढ़पीड़ितोंकीसुनें

सौढ़दक्षिणीपंचायतकीभरतखंडड्योढ़ीकेकैलाशमंडल,विलासमंडलनेबतायाकिआठदिनोंसेबाढ़केपानीसेघिराहूं,परंतुकिसीभीप्रकारकीराहतमुहैयानहींकराईगईहै।प्रशासनशहरडूबनेपरहीबाढ़मानतीहै।सलारपुरकेसुलेखाखातून,ज्योतिखातूनऔरसदानंदपासवाननेबतायाकिबाढ़केकारणनारकीयजीवनजीनेकोविवशहैं,परंतुअधिकारीझांकनेतकनहींआएहैं,राहततोदूरकीबातहै।सौढ़दक्षिणीस्थितविकासनगरकेरामबरणमंडल,विनोदमुनि,पृथ्वीमुनी,खोखामुनीआदिनेबतायाकिलगभगदोसप्ताहसेबाढ़कापानीहै।एकभीअधिकारीहालचालभीजाननेनहींआएहैं।विकटस्थितिमेंहमलोगरहरहेहै।

'बाढ़प्रभावितक्षेत्रमें31नावेंचलाईजारहीहै।23गोगरीऔरआठपरबत्ताप्रखंडमें।राहतकोलेकरविचारकियाजारहाहै।'

सुभाषचंद्रमंडल,एसडीओ,गोगरी।