सहालग पर फिर लगी कोरोना की नजर, पाबंदियों के बीच बजेगी शहनाई

आगरा, जागरणसंवाददाता। तीनबारसेकोरोनामहामारीकेसंक्रमणनेहरकिसीकीआयकोप्रभावितकियाहै।खासकरवैवाहिककार्यक्रमोंसेजुड़ेव्यवसायी।अबलगनकामौसमशुरूहोगयाहै,लेकिनसंक्रमणबढ़नेसेहोटलसेलगायतटेंटवस्टेजसजावटकरनेवाले,हलवाईऔरअन्यव्यवसायियोंकीचिंताबढ़गईहै।सबसेअधिक70फीसदग‍िरावटकपड़ाबाजारमेंआईहै।सराफा,होटल,किरानासमेतकईअन्यट्रेडकीबिक्रीमेंभीबड़ाअंतरआयाहै।गर्मवस्त्र,शूट,शेरवानी,लहंगा,होजरीसमेतसभीबाजारडाउनहुएहैं।कारोबारियोंकेचेहरोंकीरौनकगायबहै।करीब200शादियोंकेआर्डररद़दहोगएहै।होटलबंदीकेकगारपरहै।कोविड,ठंडवविसचुनावकीप्रक्रियाकेचलतेेबाजारमेंकारोबारपूरीतरहप्रभावितहै।ऐसेमेंंसहालगमेंकरीब600करोड़काकारोबारप्रभावितहोनेकीउम्मीदहै।

कोरोनामहामारीकीपिछलीदोलहरमेंव्यवसायचौपटहोनेसेव्यापारीपहलेसेचिंतितहैं।अबउनकीपरेशानीऔरबढ़सकतीहै।क्योंकिकहींभीभीड़नजुटे,इसपरप्रशासनकापूराजोररहेगा।जिनकेघरोंमेंबेटे-बेटियोंकीशादीहै,उन्होंनेभीविवाहकेखर्चेकमकरदिएहैं।लोगोंनेशुभमुहूर्तमेंबेटे-बेटियोंकीशादीमहीनोंपहलेतयकरदीथी।क्योंकिजिसतरहसेइससालहालातसामान्यहुएथे,ऐसालगरहाथाकिसंक्रमणथमगयाहै।लिहाजाशादियोंकीतैयारीभीशुरूकरदीगईथी।विवाहघरों,होटलोंकीबुकिंगकरलीगई।इसीतरहटेंट,कैटरिंग,स्टेजसजावट,हलवाईसेबुकिंगहोगई।इसकेअलावाअन्यतैयारियांकीजारहीथीं,लेकिनअचानककोरोनाकीतीसरीलहरफिरआगई।संक्रमितोंकीसंख्यामेंतेजीसेइजाफाहोरहाहै।ऐसेमेंपाबंदियांबढ़नेपरसीधाअसरशादियोंसेजुड़ेकारोबारपरपड़ा।

आगरासराफाएसोसियेशनकेअध्यक्षनिलेशअग्रवाल,मंत्रीअशोककुमारअग्रवाल,उत्तरप्रदेशकपड़ाव्यापारसंगठनकेमहामंत्रीटीएनअग्रवाल,आगरारेडीमेडगारमेंटसंगठनकेअध्यक्षसंजीवअग्रवालऔरसचिवअशोकमाहेश्वरीकीमानेतोशनिवारकोबाजारठंडारहा।मंगायागयामालइससहालगमेंपहलेकीतरहउठेगायाफिरगोदामोंऔरशोरूममेंहीडंपरहेगा,यहचिंंताभीसतानेलगीहै।चिंताइसबादकीभीहैकिवहमालमंगाएंयानहीं।सीमितसंख्यामेंहोनेवालीशादियोंमेंमालबिकेगायानहीं,इसेलेकरबाजारमेंसंशयकीस्थितहै।कारोबारमेंलगातारगिरावटबाजारकीरफ्तारकोकमरहीहैवस्त्रोंऔरकंबलकीबिक्रीलगातारप्रभावितहोतीजारहीहै।यहांतकसर्दियोंमेंबिकनेवालेकंबलतककाकारोबारइसबारआधेसेभीकमरहाहै।सहालगहोनेकेबावजूदसाड़ी,लहंगा,सराफाआदिकाकामलगातारघटरहाहै।सराफाबाजारनौदिनचलअढा़ईकोसवालीहालतपरफिरसेआगयाहै।होटलऔरलानकारोबारपरकाेरोनाकाग्रहणलगगयाहै।कोरोनाकालमेंकाढ़ाकेआइटमकालीमिर्च,लौंग,दालचीनी,हल्दीआदिचीजोंकीबिक्रीजरूरथोड़ाबढ़ीहैलेकिनअन्यआइटमशांतहैं।बाजारमेंअन्यमसालेकेआइटमजरूरतकेमुताबिकहीलोगलेरहेहैं।पहलेकीतरहरोजअन्यजिलोंकोहोनेवालीचारसेपांचट्रककिरानाआइटमकीआपूर्तिघटकरआधीरहगईहै।शनिवारकोकरीब30करोडकाकारोबारप्रभावितहुआहै।

ज्यादातरशादियांरातमें

वेडिंगइंडस्ट्रीकीपचासप्रतिशतआयरातकोहोनेवालेकार्यक्रमोंसेहोतीहै।शादीसमारोहमेंइसशहरकीयहपरंपराहैकिअधिकांशमांगलिककार्यरातमेंहीहोतेहैं।रातकेकर्फ्यूसेशादीकेघरोंवालेपरिवारोंकेकाफीआर्डररद्दहोरहेहै।इससेइंडस्ट्रीकोनुकसानउठानापड़रहाहै।साथहीमेहमानोंकीसंख्याकाफीकमहोजाएगी।

300अतिथियोंकीसंख्यासीमा

डीएमप्रभुएनस‍िंंहनेबतायाक‍ि बंदस्थानपरएकसमयमेंअधिकतम300सेअतिथियोंकोमास्ककीअनिवार्यताकेसाथरहसकतेहैं।प्रवेशद्वारापरकोविडहेल्पडेस्ककीस्थापना,खुलेस्थानोंमेंएकसमयमेंग्राउंडकीक्षमताके50प्रतिशतआमंत्रितअतिथियोंकोमास्ककीअनिवार्यताहोगा।अतिथियोंकोदोगजकीदूरीकापालनकरनाहोगा।सैनिटाइजररखनाभीअनिवार्यहै।