शादियों के सावे खुलने से घूमेगा व्यापार का पहिया, होगा कोरोड़ों का लेनदेन

-देवउठनीएकादशीपर250सेअधिकजोड़ेबंधेंगेपरिणयसूत्रमें-शादियोंसेबाजारमेंलौटेगीरौनक,कोरोनाकालसेउभरनेकोमिलेगासहारा

फोटो:22जेएचआर5से8

जागरणसंवाददाता,झज्जर:देवउठनीएकादशीकेवलशादीवालेघरोंमेंनहींबल्किबाजारमेंभीखुशियांलेकरआईहै।देवउठनीएकादशीकेबादसेहीशादियोंकेसावेखुलजाएंगेऔरशादियांशुरूहोजाएंगे।जिससेव्यापारकापहियाभीघूमेगा।बाजारमेंभीकरोड़ोंरुपयेकालेनदेनहोनेकीउम्मीदहै।हालांकिइसबादकाफीकमसावेहैं।25नवंबरकोदेवउठनीएकादशीसेशुरूहोकरकरीबएकपखवाड़ेतकचलेंगे।आमतौरपरमध्यजनवरीकेबादसेफिरसावेशुरूहोजातेहैं,लेकिनइसबारगुरुवशुक्रअस्तहोनेकेकारणएकाधअबूझसावाकोछोड़करकोईअन्यसावानहींहै।इसकेबाद24अप्रैलसेफिरसावेशुरूहोंगे।इसबारशुभमुहूर्तकेसावेकमहैं।वहींकोरोनामहामारीकेकारणपिछलेकाफीसमयसेशादियांबहुतकमहोपारहीथी।इसकोदेखतेहुएदेवउठनीएकादशीकोजिलेभरमें250-300शादियांहोनेकाअनुमानहै।वहींबाजारभीखुशनजरआरहाहै,क्योंकिशादियोंकीशुरूआतहोनेसेलोगखरीददारीकेलिएबाजारमेंआएंगेऔरव्यापारबढ़ेगा।-देवउठनीएकादशीकोअबूझसावाहै।इसदिनजिलेमेंकरीब250-300शादियांहोनीहै।पिछलेवर्षोंकेमुकाबलेइसबारदेवउठनीएकादशीपरअधिकशादियांहोरहीहैं।क्योंकि11दिसंबरकेबादएकाधसावाकोछोड़कर24अप्रैलसेहीपुन:शादियांहोपाएंगी।इसकाकारणगुरुवशुक्रअस्तरहनाहै।वहींदेवउठनीएकादशीपरकोईभीशादीकरसकताहै,इसलिएइसदिनअधिकशादियांहोंगी।वहींइसकेलिएपंडितोंकीबुकिगभीएडवांसहोचुकीहै।लगभगसभीपंडितोंकेपासशादीकेलिएबुकिगहैं।

पं.पंकजशर्मा,झज्जर।-झज्जरशहरमेंकरीब15-20फूलविक्रेताहै।अभीसेगाड़ियांसजानेकीबुकिगआनीआरंभहोचुकीहै।इसबारदेवउठानीएकादशीपरहोनेवालीशादियोंसेअच्छाकाममिलनेकीउम्मीदहै।उनकेपासअभीतक4एडवांसबुकिगआचुकीहैं।औसतनलोग1500-2000रुपयेमेंगाड़ियांसजवातेहैंऔरडंडीवालेगुलाबोंकोहीअधिकपसंदकरतेहैं।इसकेलिएवेपहलेहीदिल्लीकीगाजीपुरमंडीसेफूलखरीदकरलातेहैं।

सतीश,फूलविक्रेता,झज्जर।

-झज्जरटैक्सीस्टैंडपरकरीब50गाड़ियांहैं।देवउठनीएकादशीकेदिनआयोजितशादियोंकेलिएलगभगसभीकीएडवांसबुकिगभीहोचुकीहै।अबूझसावाहोनेकेकारणलोगोंनेगाड़ियोंकीएडवांसबुकिगकरवाईहुईहै।वहींलोगऑडीववरनागाड़ीकीबुकिगकरनाहीपसंदकररहेहैं।देवउठनीएकादशीकोहोनेवालीशादियांगाड़ीचालकोंकेलिएभीअच्छीहैं।

धर्मपालयादव,प्रधान,टैक्सीस्टैंड,झज्जर।

-झज्जरमेंमुख्यरूपसे8बैंडव3ढोलवालेहैं।एकादशीकोलेकर2-3माहपहलेयाइससेभीअधिकसमयपहलेसेएडवांसबुकिगआरंभहोगईथी।सभीकोशादियोंसेअच्छाव्यापारहोनेकीउम्मीदहै।क्योंकिहरबैंडवालेवढोलवालेकोकाममिलेगा।फिलहाल15लोगोंकेबैंडकीअधिकमांगहै।एडवांसबुकिगआनेकोलेकरसभीनेतैयारियांभीकरलीहैं।

शैलेश,बैंडमास्टर,झज्जर।

-शहरमेंमुख्यरूपसे8-9वाटिकाहैं।देवउठनीएकादशीकेलिएलगभगसभीकीबुकिगहोचुकीहै।वहींअबूझसावाकोदेखतेहुएकईमहीनेपहलेसेहीएडवांसबुकिगहोनीआरंभहोगईथी।उनकीवाटिकाकीएडवांसबुकिगभीकरीब7-8महीनेपहलेहीहोगईथी।कोरोनामहामारीकोदेखतेहुएसैनिटाइजरकाछिड़कावकरवादियागयाहै।वहींकोरोनाकालकेचलतेकाफीकमसंख्यामेंलोगपहुंचनेकीउम्मीदहै।

सुभाषगुर्जर,संचालक,शहनाईगार्डन,झज्जर।-जिलेमेंकरीब160आभूषणोंकीदुकानहैं,जिनमेंसेकरीब60झज्जरशहरमेंहैं।देवउठनीएकादशीवशादियोंकेसीजनकोदेखतेहुएआभूषणोंकीखरीदारीबढ़ीहै।हालांकिपिछलेसालकेमुकाबलेअभीतककरीब60फीसदहीखरीदारीहुईहै।औसतनसामान्यपरिवार5तोले(50ग्राम)सोनेव250-300ग्रामचांदीकेआभूषणबनवारहेहैं।देवउठनीएकादशीवशादियोंकेसीजनसेव्यापारभीबढ़नेकीउम्मीदहै।

अनिलसेढ़ा,आभूषणविक्रेता,झज्जर।

-इसबारशादियोंकेसावेमेंदिनकमहैं।हालांकिदेवउठनीएकादशीवशादियोंकेसीजनकोदेखतेहुएइलेक्ट्रानिक्ससामानकीबिक्रीबढ़ीहै।कोरोनामहामारीसेजूझरहाइलेक्ट्रानिक्सबाजारकोकुछउभरनेकीउम्मीदहै।हालांकिपिछलेसालोंकेमुकाबले50-60फीसदहीबाजारहुआहै।वहींइसबादलोगोंनेसामानखरीदनेमेंकटौतीकरनाआरंभकरदियाहै।खासकरवाशिगमशीनवफ्रीजकीखरीददारीज्यादाप्रभावितहुईहै।क्योंकिलोगपहलेहीबातचीतकरकेफ्रीज,वाशिगमशीनआदिसामानदेनेकीबजाएइसकेपैसेदेरहेहैं।

नरेंद्रचावला,संचालक,चावलाइलेक्ट्रानिक्स,झज्जर।

-शादियोंकोलेकरकपड़ेकीमांगबढ़ीहै।लोगशादियोंकोलेकरबाजारमेंनिकलरहेहैंऔरकपड़ाखरीदरहेहैं।फिलहालकोट-पेंटकेप्रतिलोगोंकाअच्छाक्रेजहै।लोगथ्रीपीसकोट-पेंटकोअधिकखरीदरहेहैं।वहींदूल्हेकेलिएशेरवानीभीपसंदबनीहुईहै।हालांकिलोगकिरायेपरशेरवानीलेकरजारहेहैं।साथहीफेंसीकुर्ता-पैजामावमोदीकटभीपसंदकियाजारहाहै।पिछलीबारकेमुकाबलेभीअच्छाक्रेजहै।मनोजतलवारउर्फसंटी,कपड़ाविक्रेता,झज्जर।