सेल्‍फी से हुई मौतों के मामले में नंबर वन पर है भारत, कहीं आप भी इसमें न हो जाएं शामिल

नईदिल्‍ली,जागरणस्‍पेशल।दिल्‍लीकेसिग्‍नेचरब्रिजपरदोडॉक्‍टरोंकीमौतसेएकबारफिरसेयहपु‍लसुर्खियोंमेंहै।हालांकिइसमौतकेपीछेजोवजहबताईजारहीहैउसमेंएकसेल्‍फीभीहै।जहांतकइसपुलकीबातहैतोजनताकेलिएखोलेजानेकेबादसेहीयहपुलसुर्खियोंमेंहै।यहअपनीतरहकादिल्‍लीहीनहींबल्किभारतमेंहीएकअनोखापुलहै।शायदयहीवजहहैकिलोगयहांपरसेल्‍फीलेनेकोलेकरकुछज्‍यादाहीपागलहैं।हालांकियहपहलाऐसामामलानहींहैजिसमेंमौतकीवजहसेल्‍फीबनीहो,इसतरहकेकईमामलेआपकोमिलजाएंगे।इतनाहीनहींआपकोजानकरहैरतहोगीकिसेल्‍फीकेदौरानहुईमौतोंमेंभारतनंबरवनपरहै।यहझूठनहींबल्कियहबातएकरिसर्चमेंसामनेआचुकीहै।

सामनेआयाएकशोधअमेरिकाकीकार्नेगीमिलानयूनिवर्सिटीऔरइंद्रप्रस्‍थइंस्‍टीट्यूटऑफइंफॉर्मेशनटेक्‍नोलॉजी,दिल्‍लीद्वाराकिएगएशोधमेंयहदावाकियागयाहै।आपकोबतादेंकिमीमाइसेलफएंडमाईकिलफीनामसेपिछलेवर्षनवंबरमेंआईथी।इसरिपोर्टमेंमार्च2014सेसितंबर2016केबीचमेंविश्‍वमेंसेल्‍फीलेनेकेदौरानहुईमौतकीघटनाओंकोशामिलकियागयाथा।इसअवधिकेदौरानविश्‍वमेंकरीब127लोगमारेगएजिसमेंअकेले76लोगभारतीयहैं।यहकुलमौतोंकाकरीब60फीसदहै।इससूचीमेंभारतकेबादपाकिस्‍तानकादूसरानंबरहै।वहांइसअवधिमेंनौमौतेंहुईं।वहींअमेरिकाकीबातकरेंतोवहतीसरेनंबरपरहै।इसअवधिमेंवहांपरआठमौतेहुईं।इसतरहकीमौतोंकेलिएसीधेतौरपरहमखुदहीजिम्‍मेदारहोतेहैं।इसकीवजहकहींनकहींहमारालापरवाहहोनाभीहैजोहमेंमौतकेमुंहमेंधकेलदेताहै।

सोशलमीडियाभीएकवजहसेल्‍फीकोलेकरकईतरहकेशोधसामनेआएहैं।सोशलमीडियापरअपनेकोअपडेटरखनेकापागलपनभीइसकाएकबड़ाकारणहै।आपनेभीलोगोंकोरेलवेलाइन,बसस्‍टेंडयाएयरपोर्टपरसेल्‍फीखींचतेजरूरदेखाहोगा।यहइसबातकासाफसंकेतहैकिहमअपनेऔरअपनेपरिवारकेप्रतिपूरीतरहसेलापरवाहहोचुकेहैंऔरबनावटीदुनियामेंजीवनजीरहेहैं।जहांसोशलमीडियासबसेआगेहोगईहै।खासतौरपरयुवापीढ़ीतोइसकेपीछेपूरीतरहसेपागलहोचुकीहै।अबइसेलेकरकिएगएएकअध्ययनमेंइसकेदुष्परिणामकाभीजिक्रकियागयाहै।इसमेंबतायागयाहैकिबहुतज्यादासेल्फीपोस्टकरनेसेलोगोंमेंआत्ममुग्धताबढ़तीहै।लोगोंमेंयहबदलावअच्छासंकेतनहींहै।

ओपेनसाइकोलॉजीनामकजर्नलकीरिपोर्ट पिछलेदिनोंओपेनसाइकोलॉजीनामकजर्नलमेंएकरिसर्चप्रकाशितहुई।इसशोधमें18से34वर्षके74लोगोंकोशामिलकियागयाजिनपरपरनिगरानीरखकरउनकेव्यक्तित्वमेंआएबदलावकोदेखागया।ब्रिटेनस्थितस्वांजीयूनिवर्सिटीऔरइटलीकीमिलानयूनिवर्सिटीकेशोधकर्ताओंनेसंयुक्तरूपसेयहअध्ययनकियाहै।शोधकर्ताओंनेट्विटर,फेसबुक,इंस्टाग्रामऔरस्नैपचेटजैसीसोशलमीडियासाइट्सपरप्रतिभागियोंकीगतिविधियोंपरनिगरानीरखी।शोधकर्ताओंकाकहनाहैकिआत्ममुग्धताव्यक्तित्वकीएकविशेषताहै,जिसमेंव्यक्तिअपनेआपकोबहुतअधिकप्रदर्शितकरताहैऔरस्वयंकोहरचीजकेहकदारकेरूपमेंदिखाताहै।साथहीदूसरोंकोकमतरआंकताहै।

ऐसेकियाशोध शोधकर्ताओंनेसोशलमीडियापरप्रतिभागियोंकीगतिविधियोंपरचारमाहतकनिगरानीरखीऔरपायाकिजिनप्रतिभागियोंनेसोशलमीडियाकाबहुतअधिकइस्तेमालकियाऔरअत्यधिकसेल्फीपोस्टकींउनमेंआत्ममुग्धताकेलक्षणमें25फीसदकाइजाफादेखनेकोमिला।मापकपैमानेकाप्रयोगकरशोधकर्ताओंनेपतालगायाकिऐसेप्रतिभागियोंमेंइसलक्षणकायहस्तरविकारकेस्तरतकपहुंचगया।यहउनकेव्यक्तित्वकेसाथ-साथस्वास्थ्यकेलिएभीबुराथा।अध्ययनमेंयहभीसामनेआयाकिप्रतिभागियोंनेअपनीसेल्फीकोसबसेज्यादाफेसबुकपरपोस्टकिया।कुलसेल्फीकी60फीसदसेल्फीफेसबुकपर,25फीसदइंस्टाग्रामपरऔर13फीसदट्विटर,स्नैपचेटवअन्यसाइट्सपरपोस्टकीगईं। अमेरिकीजर्नलमेंछपीएकदूसरीरिपोर्टकेमुताबिकवर्ष2011-2017केबीचदुनियाभरमें259मौतेंहुईं।इसमें159मौतेंअकेलेभारतमेंहुईथीं।हालांकिइसदौरानदूसरेनंबरपर16मौतोंकेसाथरूसऔरतीसरेनंबरपर11मौतोंकेसाथअमेरिका,चौथेपरपाकिस्‍तानहैजिसमेंइसअवधिमें11मौतेंहुईहैं।

सेल्‍फीलेनाचिकित्‍सीयसमस्‍या इसकेअलावाशोधकर्ताओंनेअध्ययनमेंयहभीपतालगायाकिजोलोगट्विटरजैसीमाइक्रोब्लॉगिंगसाइटकाअपनेविचारयाशब्दोंकोपोस्टकरनेकेलिएअधिकप्रयोगकरतेहैं,उनमेंइसतरहकेलक्षणदिखाईनहींदिए।यानीआत्ममुग्धताकेलक्षणकेवलबहुतअधिकसेल्फीपोस्टकरनेवालोंमेंहीसामनेआए।इंटरनेशनलजनरलऑफमेडिकलहेल्‍थमेंएकशोधकोप्रकाशितकियागयाजिसकेमुताबिकसेल्‍फीलेनाएकचिकित्‍सीयसमस्‍याहै।शोधमेंसेल्‍फीलेनेवालोंकोतीनचरणोंमेंबांटागया।इसमेंपहलेचरणमेंवहलोगशामिलथेजोलोगसेल्‍फीलेतेथेलेकिनउसकोसोशलमीडियापरनहींडालतेथे।दूसरेचरणमेंवहलोगथेजोहररोजतीनसेल्‍फीलेतेथेऔरउसकोसोशलमीडियापरअपलोडकरतेथे।तीसरेचरणमेंवहलोगशामिलथेजोदिनमेंछहबारसोशलमीडियापरअपनीसेल्‍फीकोपोस्‍टकरतेथे।यहइसबीमारीकीलास्‍टस्‍टेजहै।

सेल्‍फीकोमानबैठेहैंप्रमाणिक बार-बारसेल्फीलेनाऔरसुंदरदिखनेकेलिएफिल्टर्सकाप्रयोगकरफोटोकीएडिटिंगकरना,अबयेशौकनहींदिमागीबीमारीबनताजारहाहै।शोधकर्ताओंनेअध्ययनकेआधारपरपतालगायाकिफोटो,खासकरसेल्फीमेंसुंदरदिखनेवालेयुवाशारीरिककुरूपतासंबंधीमानसिकविकारकेशिकारहोरहेहैं।युवापहलेसेल्फीलेतेहैंऔरफिरउन्हेंफोटोपसंदनआएतोएडिटिंगकेजरियेअपनेलुककोबेहतरबनानेकाप्रयासकरतेहैं।बार-बारफोटोमेंसुंदरनदिखनेपरलोगप्लास्टिकसर्जरीऔरअन्यथेरेपीकीओररुखकररहेहैं।कुलजनसंख्यामेंकरीबदोप्रतिशतलोगइसबीमारीकेशिकारहैं।शोधमेंसामनेआयाहैकिबार-बारअपनीफोटोबदलनेवालीऔरहाव-भावबदलफोटोअपलोडकरनेवालींलड़कियांमानतीहैंकिसोशलमीडियापरहीसुंदरदिखनावास्तवमेंसुंदरहोनाहै।शोधमेंशामिलकिएकिएगए55प्रतिशतप्लास्टिकसर्जनकाभीयहीकहनाहैकिउनकेपाससबसेज्यादाऐसेमरीजआरहेहैंजोसेल्फीमेंसुंदरदिखनाचाहतेहैं।