'सामान की हिफाजत नहीं कर पाते चले आते हैं रिपोर्ट लिखाने'

संवादसूत्र,तुलसीपुर(बलरामपुर):

शक्तिपीठदेवीपाटनमेलामेंश्रद्धालुओंकीभीड़लगातारबढ़रहीहै।इसदौरानचोर-उचक्कोंकीभीसंख्यामेंइजाफाहुआहै।जनपदमहाराजगंजसेआएपंचमलालकीपत्नीकेकानकाझुमकाचोरखींचलेगए।बस्तीकेसुंदरलालगुप्ताकेहाथमेंपहनीघड़ीभीड़मेंकिसीनेगायबकरदी।पंचमनेबतायाकिड्यूटीमेंलगेसिपाहीसेजबअपनीसमस्याबताईतो,उन्होंनेउसेहिदायतदेतेहुएकहाकिअपनेशरीरमेंपहनेसामानकीहिफाजतनहींकरसकतेहोऔरपुलिसकेपासदौड़ेचलेआतेहो।वहनिराशहोकरलौटगया।अपनीव्यथाउसनेमीडियाकर्मियोंकोबताई।यहदोघटनाएंतोमात्रबानगीहैं।मेलेमेंलाखोंकीसंख्यामेंश्रद्धालुआरहेहैं।मेलार्थियोंकेसाथपुलिसकर्मियोंकादु‌र्व्यवहारआमबातहै।मंदिरवमेलापरिसरमेंविभिन्नस्थानोंपरड्यूटीमेंलगेपुलिसकर्मीअपने-अपनेमोबाइलमेंव्यस्तदिखे।इसदौरानअगरभूलसेभीकोईश्रद्धालुमददकेलिएउनकेपासपहुंचताहैतोउसेझिड़कदेतेहैं।मंदिरपरिसरमेंजिनस्थलोंपरजानेकीअनुमतिहै।वहांभीश्रद्धालुओंकेसाथटोका-टाकीकीजातीहै।इससेदर्शनार्थीसकतेमेंरहतेहैं।पुलिसउपाधीक्षककुवंरप्रभातसिंहकाकहनाहैकिऐसीघटनाओंकीजानकारीनहींहै।किसीनेलिखितशिकायतभीनहींकीहै।जांचकरकार्रवाईकीजाएगी।

मुक्तेश्वरनाथमहादेवमंदिरसेनिकलीकलशशोभायात्रा

संवादसूत्र,जरवा(बलरामपुर):

नेपालसीमासेसटेजरवाकोयलाबासकेमुक्तेश्वरनाथमहादेवमंदिरजनकपुरमेंश्रीरामकथाकाआयोजनकियागयाहै।इसीकेउपलक्ष्यमेंशुक्रवारकोकलशशोभायात्रानिकालीगई।इसमेंशामिलमहिलाओंनेधोबाहानालासेजलभरकरमाताजीकेजयकारालगातेहुएजनकपुरमंदिरपहुंची।इसकेबादमंदिरमें108कलशस्थापितकियागया।देवीपाटनपीठाधीश्वरमहंतमिथलेशनाथयोगीनेशोभायात्रामेंशामिलमहिलाओंकोचुनरीभेंटकी।प्रभारीनिरीक्षकपवनकनौजियापुलिसटीमकेसाथमुस्तैदरहे।पुजारीप्रदीपपांडेय,अरुणगुप्त,देवेंद्र,संतोषकमलापुरी,विक्रमयोगी,सियाराम,लालेवनारायणमौजूदरहे।