साइकिल से करती हैं सेहत की सवारी, हल्‍के फुल्‍के व्‍यायाम से खुद को रखती हैं फिट Meerut News

[विवेकराव]मेरठ।असंतुलितभोजन,मिर्चमसालेकाअधिकसेवन,देररातभोजनकरनेसेलेकरअनावश्‍यकचिंता,तनाव,भयऔरक्रोधकरनेसेनचाहतेहुएहमखुदकोबीमारकरलेतेहैं।फिरएकबारबीमारहोनेकेबादजबडाक्‍टरकीदौड़शुरूहोजातीहै।कोविडकेबादलोगअपनेसेहतकोलेकरजागरूकहुएहैं,हालांकिएकबारफिरसेलोगोंकीदिनचर्यापटरीसेउतरनेलगीहै।होमियोपैथीकीडा.संजोलीअग्रवालकहतीहैंकिअगरबहुतअधिकव्‍यायामकरनेकीआदतनहींहैतोसुबहअगरकुछदेरकेलिएसाइकिलउठाकरचलाईजाएतोउससेभीसेहतकोसहीरखाजासकताहै।वहखुदभीहररोजकुछसमयसाइकिलकीसवारीजरूरकरतीहैं।

सुबहछहबजेउठजातीहैंसंजोली

डा.संजोलीसुबहछहबजेबिस्‍तरछोड़देतीहैं।सुबहउठनेकेबादवहआधेघंटेतकसाइकिलचलातीहैं।उसकेबाद15से20मिनटतकसूर्यनमस्‍कारकरतीहैं।फिरकुछहल्‍केफुल्‍केव्‍यायामभीकरतीहैं।वहबतातीहैंकिआजकलभौतिकताकेयुगमेंतनावनचाहतेहुएभीहमतनावग्रस्‍तहोजातेहैं।नियमितव्‍यायामकरनेसेपर्सनलऔरप्रोफेशनलदोनोतरीकेकीसमस्‍याओंकोबेहतरतरीकेसेसंभालनेकीशक्‍तिमिलजातीहै।नियमितव्‍यायामऔरसाइकिलचलानेसेरक्‍तचाप,मानसिकतनावजैसीसमस्‍यासेपूरीतरहसेमुक्‍तरहतीहैं।वहकहतीहैंकिकितनीभीजल्‍दीहो24घंटेमेंकमसेकम30मिनटस्‍वयंकोदेनाचाहिए,इसदौरानयोग,व्‍यायाम,साइक्‍लिंगकुछभीकरनाचाहिए।ऐसाकरनेसेएकसप्‍ताहमेंहीफर्कनजरआनेलगताहै।

यहसुनकररहजाएंगेदंग

एकसाइकिलचलाकरहमअपनीमांसपेशियोंकोमजबूतरखपातेहैं।वजनकोभीपूरीतरहसेनियंत्रितकरपातेहैं।विशेषज्ञोंकाकहनाहैकिसाइकिलदिलकोसेहतमंदऔरसुरक्षितरखनेमेंभीसहायकहोतीहै।शरीरकीरोगप्रतिरोधकक्षमताकोभीबढ़ानेमेंमददकरताहै।यहीनहींयाददाश्‍तकोबढ़ानेमेंसाइकिलचलानेसेलाभमिलताहै।साथहीरातमेंअच्‍छीनींदलानेमेंभीसाइकिलउपयोगीहोतीहै।