साहिबजादों के मार्ग पर चलने को किया प्रेरित

तरनतारन:भाईगुरदासअकादमीमेंनिक्कियाजिंदावड्डासाकासमागमहुआ।स्कूलकेडायरेक्टरबलजिंदरसिंहकीअगुआईमेंबच्चोंद्वाराशब्दगायन,कविताएंऔरलेक्चरपेशकियागया।बच्चोंकीहौसलाअफजाईकरनेकेलिएउनकेअभिभावकविशेषतौरपरउपस्थितरहे।स्कूलकेचेयरमैनज्ञानीकेवलसिंहनेबच्चोंकेमातापितासेसाहिबजादोंकीशहीदीसंबंधितविचारविमर्शकिया।प्रिंसिपलवरदीपकौरनेबच्चोंकोसंबोधितकरतेकहाकिजैसेचारसाहिबजादोंनेछोटीउम्रमेंधर्मप्रतिबड़ेबड़ेकार्यकिएवैसेहीआपभीउनकेबताएमार्गपरचले।मौकेपरवाइसप्रिंसिपलजोधबीरसिंह,आलमबीरसिंह,अमनप्रीतकौर,कर्मबीरकौरआदिमौजूदथे।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!