रोड किनारे स्थायी दुकानें, सड़क पर सब्जी के ठेले, जाम में फंसते हैं राहगीर

गया।गयारेलवेजंक्शनकेडेल्हासाइडस्थितएकनंबरगुमटीकेपाससड़ककेदोनोंओरदर्जनोंसब्जी,फलवमछलीकीदुकानेंअवैधरूपसेलगाईजारहीहैं।इससेगयासेटिकारीजानेवालीसड़कअवरुद्धहोगईहै।इससेगयाजंक्शनपरहररोजट्रेनोंसेउतरकरशहरमेंजानेवालेलोगोंकोजामकीसमस्यासेगुजरनापड़ताहै।वहीं,स्कूलवकालेजजानेवालेछात्र-छात्राओंवकार्यालयजानेवालेलोगोंकोभीमुसीबतेंहोतीहैं।अक्सरआटोऔरदुपहियावाहनोंकेटकरानेसेझगड़ेकीनौबतभीआजातीहै।वहीं,डेल्हाबाजारमेंदुकानोंकेसामनेसड़कपरलगनेवालींसब्जीदुकानोंसेभीदिनभरजामकेहालातरहतेहैं।

सूत्रोंकाकहनाहैकिरेलप्रशासनवजिलाप्रशासनकीमिलीभगतसेएकनंबरगुमटीकेपाससड़ककेदोनोंओरदर्जनोंसब्जी,फलवमछलीकीदुकानेंअवैधरूपसेलगरहीहैं।स्थानीयलोगोंनेअवैधसब्जीदुकानोंसेहोरहीपरेशानीकीशिकायतकईबाररेलवजिलाप्रशासनसेकी,मगरसमस्याकासमाधाननहींहोसकाहै।अवैधदुकानोंसेरेलकर्मियोंकोभीड्यूटीआने-जानेमेंहोतीपरेशानी:

रेलवेपरिसरमेंभीसड़ककेदोनोंओरपरदर्जनोंठेले,खोमचेऔरसब्जीवमछलीदुकानलगरहीहैं।इसकारणहररोजसड़कजामकीसमस्यासेरेलवेकेविभिन्नविभागोंमेंकार्यरतअधिकारियोंवकर्मियोंकोड्यूटीजाने-आनेमेंपरेशानीहोतीहै।इसकेलिएभीरेलवेकेवरीयअधिकारियोंसेशिकायतकीगईहै,लेकिनअवैधरूपसेसंचालितदुकानोंपरकार्रवाईनहींहुई।कभीटीमजातीभीहैतोमहजदिखावेकेलिएही।क्याकहतेहैंलोग::

सब्जीवमछलीकीदुकानोंसेलोगोंकोकोईदिक्कतनहींहै,लेकिनसड़कपरअवैधरूपसेदुकानेंलगानाठीकनहींहै।इससेआमलोगोंकोहरदिनजामकीसमस्यासेगुजरनापड़ताहै।इसकास्थायीनिदानहोनाचाहिए।

-वंदनासिन्हा,शिक्षिका,गयासड़ककेकिनारेसब्जीकीदुकानेंलगनेसेपरेशानीलगातारबढ़तीजारहीहै।इसतरफनतोजिलाप्रशासनध्यानदेरहाऔरनहीरेलवेकेअधिकारी।अगरकार्रवाईकीजाएतोहालातसुधरसकतेहैं।

-मिथलेशकुमार,कार्यकारीअध्यक्ष,ईसीआरकेयू,पूर्व-मध्यरेलहाजीपुर