रहमत और नेमतों का महीना है पवित्र रमजान

बगहा।पवित्ररमजानकामहीनारहमतवनेमतोंकामहीनाहै।महीनेमेंएतकाफकासबसेबड़ामहत्वहै।एतकाफकरनेवालाइंसानएकांतकमरेमेंबैठकरअल्लाहकीइबादतकरताहै।एतकाफकरनेवालेकेसाथपूरीबस्तीकेलोगोंकागुनाहमाफहोताहै।इसेजिम्मेवारलोगहीकरतेहैं।रोजाकोतीनआशरामेंबांटागयाहै।पहलारहमतकाहै।इसमेअल्लाहकीरहमतअपनेनेकबंदोंपरबरसताहै।ये10दिनतकरहताहै।दूसरामगफिरतकाहै।इसमेसभीकोअल्लाहगुनाहोंसेमगफिरतदेताहै।आखिरी10दिनआगसेनिजातकाहोताहै।इसमेंअपने-अपनेवालदैनसहितसभीलोगोंकेलिएदोजखकीआगसेनिजातकेलियेदुआमांगीजातीहै।उपरोक्तबातेंहाफिजकलीमुल्लाहनेकहीं।कहाकिइसमाहमेंएकएकपलअल्लाहकीइबादतमेंगुजरनाचाहिये।रमजानमेंअगरकिसीनेएकरोजाछोड़दियातोलगातारदोमाहरो•ारखनेकेबादभीरमजानकेरोजेकीभरपाईनहींहोगी।

तरावीहकाअलगहैमुकाम:-

नगरकेईदगाहमस्जिद,रत्नमाला,अंसारीटोला,पंवरियाटोला,दुमवालिया,मलकौली,नरवल,बरवल,कोल्हुआ,भैरोगंज,आदिसभीमस्जिदोंमेंतरावीहकानमाजपढ़ाजारहाहै।इमामजोहाफिजहोतेहैं,वेकुरानकोकंठस्थसुनतेहुएनमाजअताकरतेहैं।रोजामेंतरावीहकाबहुतआलामुकाममिलताहै।

रोजेदारोंकाहौसलादेखनेलायक:-

बड़ेभीषणगर्मीकेबावजूदरोजरखनेमेंकिसीसेपीछेनहीरहतेहै।शेखशफरूद्दीनके9वर्षीयपुत्रआसिफअलीसभीरोजारखतेआरहेहैं।गर्मीकोदेखमां,भाईवबहनमनाकरतेहैं।बावजूदवहकहताहैकिआपलोगसबनेकीकमानाचाहतेहैं।मैंभीअल्लाहकोराजीकरकेअपनेहीनहींदादा,दादी,अब्बू,अम्मीसभीकेलियेजन्नतमांगूंगा।

सैदुल्लाहअंसारीका10वर्षीयपुत्रसरफराजअंसारीलगाताररोजारखरहाहै।रोजारखनेकेसाथस्कूलभीजारहाहै।कहताहैकिघरकेसभीलोगरोजारखतेहैं।उनकेसाथसेहरीखाने,नमाजपढ़नेकेबादएकसाथइफ्तारकरनाअच्छालगताहै।

शमशादअंसारीकी11वर्षीयापुत्रीसनुवरजहांअबतककेसभीरोजेपूरीपाबंदीकेसाथरखतीआरहीहै।कहतीहैकिअल्लाहकोरोजाबहुतपसंदहै।रो•ामेंसबगुनाहअल्लाहमाफकरताहै।एकनेकीकीजगह70नेकीदेताहै।मैंसभीरोजारखूंगी।अल्लाहसेसबकेलियेजन्नतमांगूंगी।

शमसादअंसारीकीपुत्रीशुंबुलपरवीनसभीरोजारखतीआरहीहै।रोजाकेसाथनमाजभीपांचवक्तकीपढ़तीहै।कहतीहैकिअल्लाहकोरोजाकेसाथनमाजबहुतपसंदहै।रमजानकेपवित्रमहीनेमेंहीकुरानधरतीपरआयाथा।अल्लाहएकनेकीपर70नेकीदेताहै।अल्लाहसेबहुतकुछइफ्तारकेसमयमांगतीहूं।