राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति से मिले जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा, घाटी में ताजा हालात की दी जानकारी

जागरणब्यूरो,नईदिल्ली।नएउपराज्यपालकेरूपमेंजम्मू-कश्मीरकीबागडोरसंभालनेकेबादमनोजसिन्हाअबदिल्लीदौरेपरहैं।सोमवारकोउन्होंनेराष्ट्रपतिरामनाथकोविंदऔरउपराष्ट्रपतिएमवेंकैयानायडूसेमुलाकातकरकेंद्रशासितप्रदेशकेताजाहालातकीजानकारीदी।मानाजारहाहैकिसिन्हाजल्दहीप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीऔरगृहमंत्रीअमितशाहसेभीमुलाकातकरसकतेहैं।

मंजेहुएराजनीतिज्ञमनोजसिन्हाकोजम्मू-कश्मीरकाराज्यपालबनाकरमोदीसरकारनेवहांनईराजनीतिकप्रक्रियाशुरूकरनेसंकेतदियाथा।मानाजारहाहैकिसिन्हाइसमामलेमेंकेंद्रीयनेतृत्वसेचर्चाकरसकतेहैं।चर्चातोयहांतकहैकिसिन्हाराजनीतिकप्रक्रियाकोसुनिश्चितदिशाऔरठोसआधारदेनेकेलिएएकराजनीतिकसलाहकारपरिषद(पॉलिटिकलएडवाइजरीकौंसिल)कागठनभीकरसकतेहैं।जोउपराज्यपालकेअन्यसलाहकारोंसेअलगस्वतंत्ररूपमेंकामकरेगा।इसराजनीतिकसलाहकारपरिषदमेंजम्मू-कश्मीरकेविभिन्नवर्गोऔरक्षेत्रोंकेलोगोंकोप्रतिनिधित्वदियाजासकताहै।

घाटीमेंनजरबंदऔरगिरफ्तारराजनेताओंकोकियागयारिहा

ध्यानदेनेकीबातहैकिअनुच्छेद370और35एनिरस्तहोनेऔरजम्मू-कश्मीरकेविभाजनवकेंद्रशासितप्रदेशबननेसेबादसेराज्यमेंराजनीतिकगतिविधियांबिल्कुलठपहैं।वैसेतोपिछलेसालपांचअगस्तकोनजरबंदऔरगिरफ्तारकियेगएअधिकांशराजनेताओंकोरिहाकरदियागयाहै,लेकिनपूर्वमुख्यमंत्रीमहबूबामुफ्तीसमेतकुछराजनेताअबभीहिरासतमेंहैं।मानाजारहाहैकिजम्मू-कश्मीरऔरलद्दाखकेबीचनौकरशाहीकेबंटवारेकेबादसीटोंकीपरिसीमनकीप्रक्रियाभीशुरूहोजाएगी।परिसीमनकेबादराज्यमेंविधानसभाकाचुनावहोगा।लेकिनराष्ट्रीयकांफ्रेंसऔरपीडीपीपूर्णराज्यकादर्जादियेजानेऔरअनुच्छेद370कोवापसलानेकीमांगपरअड़ेहैं।जाहिरहैराजनीतिकप्रक्रियाकीशुरूआतआसाननहींहोगा।ऐसेमेंमनोजसिन्हास्थापितदलोंकेअलावानएराजनीतिकविकल्पोंकीतलाशकरसकतेहैं।