राजधानी में 15 सौ से ज्यादा क्वारेंटाइन, हर वार्ड में दो दर्जन होम आइसोलेशन में

अमिताभअरुणदुबे|राजधानीरायपुरमेंपिछलेतीनमाहमेंअधिकांशवार्डोंमेंअधिकतमएकाधलोगहोमक्वारेंटाइनकिएजारहेथे,लेकिनअबहालातयेहोगएहैंकिहरवार्डमें25से30घरोंकेबाहरहोमक्वारेंटाइनकापर्चाचिपकानजरआनेलगाहै।राजधानीमें1500सेज्यादालोगहोमक्वारेंटाइनमेंहैं।यहीनहीं,प्रवासीमजदूरोंकेलौटनेकेबादसेकोरोनासंक्रमणहीनहीं,क्वारेंटाइनकेमामलेइतनीतेजीसेबढ़ेहैंकिअभीपूरेराज्यमेंडेढ़लाखसेज्यादालोगक्वारेंटाइनहैं।इनमें18हजारसरकारीक्वारेंटाइनसेंटरोंमेंसवालाखलोगहैं,और40हजारसेज्यादाहोमक्वारेंटाइनकाटरहेहैं।इनमेंचाहेराजधानीहोयाप्रदेश,महाराष्ट्रसेलौटेलोगोंकीसंख्यासबसेज्यादाहै।राजधानीऔरप्रदेशकेलिएयहआंकड़ेअबचौंकारहेहैं।राजधानीमेंइससेपहलेमार्चमेंहोमक्वारेंटाइनलोगोंकीतादादलगभगएकहजारपरपहुंचीथी।इनमेंअधिकांशलोगविदेशसेलौटेथे।उसकेबादलोगोंकाक्वारेंटाइनखत्महोनेलगा,लेकिनमईमेंअचानकयहसंख्याउछलीहैऔरअबतकडेढ़हजारसेज्यादालोगसिर्फरायपुरमेंक्वारेंटाइनहोचुकेहैं।शहरकेहरजोनमेंइससमयलगभग200लोगक्वारेंटाइनचलरहेहैं।येवोलोगहैंजोलॉकडाउनकेदौरानयात्रामेंमिलीरियायतकेबादअन्यराज्योंसेलौटकरआएहैं।रायपुरशहरमेंसबसेज्यादायात्रीमहाराष्ट्रसेलौटेहैं,इनकीतादादढाईसौसेज्यादाहै।इसकेबादगुजरात,ओडिशा,मध्यप्रदेश,राजस्थानऔरदिल्लीजैसेराज्योंसेलोगयहांलौटेहैं।नियमोंकेमुताबिकजिला,पुलिसऔरनगरीयप्रशासनकेद्वाराइनकीसततमॉनिटरिंगकीजारहीहै। मानाजारहाहैआनेवालेदिनोंमेंशहरमेंभीक्वारेंटाइनलोगोंकीतादादबढ़सकतीहै।

क्वारेंटाइनसंख्या

क्वारेंटाइनवेस्टपरमांगीरिपोर्ट

इसबीच,पर्यावरणविभागनेनगरीयक्षेत्रोंमेंक्वारेंटाइनकिएगएलोगोंकेकचरेकेकलेक्शनऔरडिस्पोजलकीस्थितिकोलेकरसभीनगरीयनिकायोंसेरिपोर्टमांगीहै।क्वारेंटाइनकचराकितनानिकलरहाहैऔरकिसतरहडिस्पोजकररहेहैं,यहजानकारियांमंत्रालयनेपूछीहैं।

रोजाना10फीसदीतकसैंपल

क्वारेंटाइनकिएगएपंद्रहसौसेज्यादालोगोंमेंसेप्रतिदिनपांचसेदसफीसदीलोगोंकेसैंपललिएभीलिएजारहेहैं।हेल्थविभागकीमोबाइलटीमघरोंमेंजाकरभीसैंपलकलेक्टकररहीहै।वहींऐसेलोगजोसर्दीखांसीबुखारजैसेलक्षणबतारहेहैं,उनकेसैंपलभीलिएजारहेहैं।

कंटेनमेंटजोनकीजदमें448घर,इनमेंगर्भवतीवबुजुर्गभी

राजधानीकीसड्डूबीएसयूपीकालोनीमेंकोरोनापीड़ितमिलनेकेबादआसपासकी6बड़ीकालोनियोंकोकंटेनमेंटजोनमेंलेकरसीलकरदियागयाहै।इसदायरेमें448मकानआएहैं,जिसमेंकुल1792लोगनिवासकरतेहैं।हेल्थविभागकीजांचमेंपताचलाहैकिवर्तमानमेंयहां270मकानोंमें1018लोगरहरहेहैं।इसमें10गर्भवतीमहिलाअोंसमेत135बुजुर्गव20610सालसेकमउम्रकेबच्चेभीहैं।सीएमएचओ डॉ.मीराबघेलनेबतायाकिगुरुवारकोपीड़ितकेमिलनेकेबादहेल्थकी81लोगोंकीटीमउसएरियाकेसर्वेमेंलगगई।आंकड़ेजुटाएगए,जिसमेंजानकारीमिलीकिअभीवहांऐसे3लोगहीहैं,जिनमेंबुखार,सूखीखांसी,सांसलेनेमेंपरेशानीकेलक्षणहैं।इसकंटेनमेंटएरियामेंजोपाजिटिवमिला,उसकेसंपर्कमेंरहनेवालेकेवल15लोगोंकाहीपताचलाहै।इनकेसैंपललेलिएगएहैं।वहांके11लोगोंकोहोमक्वारेंटाइनकरदियागयाहै।दोदिनमेंपूरेइलाकेकेलोगोंकीहेल्थरिपोर्टअपडेटलेलीजाएगी।

रायपुरमेंपहलीबारएकदिनमें4016लोगोंकीजांचरिपोर्टआई

एम्सनेगुरुवारको3539सैंपलोंकीजांचकानयारिकार्डबनायाहै।स्वास्थ्यविभागकेबुलेटिनसेइसकीपुष्टिहोरहीहै।बुधवारकोएम्ससे24घंटेमें1142सैंपलोंकीरिपोर्टआईथी।प्रदेशमेंपांचसरकारीलैबहैं,जहांगुरुवारको4016लोगोंकीरिपोर्टआई।इसमें17पॉजीटिवव3999सैंपलनेगेटिवरही।मंगलवारकोप्रदेशभरके2324सैंपलोंकीरिपोर्टबाकीथी,जोबुधवारकोबढ़कर3837होगईथी।गुरुवारकोयहसंख्याकमहोकर2776होगईहै। एम्सकेडायरेक्टरडा.नितिनएमनागरकरनेबतायाकिएम्समेंरायपुरसंभाग(रायपुरशहरकोछोड़कर)वदुर्गसंभागकेसैंपलोंकीजांचकीजारहीहैं।दाेनाेंसंभागाेंमें10जिलेहैं।इनमेंबालाेद,राजनांदगांव,दुर्ग,बलौदाबाजार,कवर्धावगरियाबंदसेलगातारपॉजीटिवकेसआरहेहैं।हरमरीजकेसंपर्कमेंऔसतन30-35मरीजभीआएतोसभीकासैंपललियाजाताहै।लिहाजा,10मरीजमिलेतोसैंपलकीसंख्या350होजातीहै।इसीलिएज्यादासैंपलकलेक्टरहेहैंऔरजांचभीतेजीसेहोनेलगीहै।

डॉक्टर-नर्सोंकी10से14दिनकोरोनाअस्पतालमेंलगेगीड्यूटी

स्वास्थ्यविभागनेकोरोनाअस्पतालमेंडॉक्टरोंकीड्यूटीवक्वारेंटाइनकेलिएनईगाइडलाइनजारीकीहै।स्वास्थ्यसचिवनिहारिकाबारीकनेसभीकलेक्टरों,डीनवसीएमचओकोलिखेपत्रमेंडॉक्टरों,नर्सिंगवपैरामेडिकलस्टाफकीड्यूटीकेदिनतयकरदिएहैं।उनकीड्यूटी10से14दिनोंकेलिएलगाईजाएगी।इसकेबादउन्हें14दिनोंतकक्वारेंटाइनकरनाहै।कोरोनाकेलिएस्वाबकलेक्शनटीम,108केईएमटीवपायलेट,कांटेक्टट्रेसिंगटीम,एक्टिवसर्विलेंसटीमसमेतअधिकारियों-कर्मचारियोंकाकामकादिनतयकरनाजरूरीहोगा।जिनअस्पतालोंवअस्पतालोंमेंसंक्रमितमरीजनहींमिलेहैं,उन्हेंक्वारेंटाइनमेंरखनेकीजरूरतनहींहै।वेरूटीनमेंअपनाकामकरतेरहेंगे।कोरोनाअस्पतालमेंड्यूटीकरनेवालेसभीकोपीपीईकिट,ग्लब्स,फेसशील्डकेअलावाविशेषचश्मापहननेहोंगे।क्वारेंटाइनसेंटरमेंजरूरीसुविधाएंरखीजाएंताकिउन्हेंपरेशानीनहो।