पत्रकार राजीव शर्मा के खिलाफ जासूसी का मामला 'झूठा', ' गढ़े गए हैं सबूत': वकील

नयीदिल्ली20सितंबर(भाषा)जासूसीकेआरोपमेंगिरफ्तारकिएगएस्वतंत्रपत्रकारराजीवशर्माकेवकीलनेरविवारकोदावाकियाकिउनकेमुवक्किलकेखिलाफसरकारीगोपनीयताकानूनकेतहतदर्जमामला"झूठा"हैऔरपुलिसने"सबूतोंकोगढ़ा"है।दिल्लीपुलिसनेशनिवारकोकहाथाकिपीतमपुराकेरहनेवालेशर्माकथितरूपसेभारतकीसीमारणनीति,सेनाकीतैनातीऔरखरीदतथाविदेशनीतिसेसंबंधितसंवेदनशीलजानकारीचीनीखुफियाएजेंसियोंकोदेरहेथे।दिल्लीपुलिसकेविशेषप्रकोष्ठनेउन्हेंसरकारीगोपनीयताकानूनकेतहतगिरफ्तारकियाहैऔरबतायाहैकिउनकेपाससेकथितरूपसेरक्षासेसंबंधितगोपनीयदस्तावेजमिलेहैं।पत्रकारकीपैरवीकररहेवरिष्ठवकीलआदिशअग्रवालनेआरोपलगायाकिपुलिसकायहदावा"सचनहींहै"किउनकेपाससेदोषसाबितकरनेवालेसबूतमिलेहैं।अग्रवालनेपीटीआई-भाषासेकहा,"हमइसबातसेइनकारनहींकररहेहैंकिवहचीनकेसमाचारसंस्थानकेलिएकामकररहेथे।विवादसिर्फपुलिसकेइसदावेकोलेकरहैकिउन्हेंदोषसाबितकरनेवालेसबूतमिलेहैं,जोसचनहींहै।"अग्रवालनेकहा,"सबूतोंकोबादमेंगढ़ागयाहै।पुलिसनेउन्हें(शर्मा)को14सितंबरकोहिरासतमेंलिया,उसीरातउनकेघरकीतलाशीलीगईऔरदोषसाबितकरनेवालाकोईसबूतनहींमिला।उन्हेंझूठेमामलेमेंफंसायाजारहाहै।उन्होंनेकोईअपराधनहींकियाहै।"वकीलनेकहाकिपुलिसगिरफ्तारीकेदिनहीमीडियाकोसूचनादेसकतीथीलेकिनउसनेऐसानहींकिया,क्योंकिउसेकोईसबूतमिलाहीनहीं।उन्होंनेआरोपलगाया,"जबउन्होंने(पुलिसने)विश्लेषणकियाऔरकुछभीआपत्तिजनकनहींमिलातो,उन्होंने(पुलिसने)सबूतोंकोगढ़ा।"अग्रवालनेदावाकिया,"वे(पुलिस)रक्षामंत्रालयकेकिसीअधिकारीसेपूछताछनहींकररहेहैं।उन्हें(शर्माको)यहदस्तावेजकिसीसेमिलेहोंगे।ऐसातोनहींहैकिउन्होंनेदस्तावेजोंकोअपनेघरमेंछापाहोगा।"अग्रवालनेयहभीआरोपलगायाकिशर्माकेपरिवारकोउनसेमिलनेनहींदियाजारहाहै,औरनहीआरोपोंकेसंबंधमेंउन्हेंकोईजानकारीदीगईहै।उन्होंनेकहा,"प्राथमिकीकीकोईप्रतिऑनलाइनअपलोडनहींकीगईहै।कईबारअनुरोधकेबावजूदपुलिसनेप्राथमिकीकीप्रतिनहींदीहै।उन्हेंजबवीडियोकॉन्फ्रेंसकेजरिएन्यायाधीशकेसमक्षपेशकियागयातोउन्हेंवकीलसेतकसेबातनहींकरनेदीगई।"अग्रवालनेइसे"गैरकानूनी"बताया।वकीलनेकहाकिपुलिसकेपाससिर्फएकचीजहैकिशर्माचीनकेएकसमाचारसंस्थानकेलिएकामकररहेथे।उन्होंनेकहा,"हमारेदेशनेचीनकेसाथकारोबाररोकानहींहै।चीनकेबहुतसेलोगयहांकामकररहेहैंऔरबहुतसेभारतीयवहांकामकररहेहैं।इसमेंकुछगलतनहींहै।"शर्माकेवकीलनेदिल्लीकीएकअदालतमेंजमानतकेलिएआवेदनदायरकियाहैजिसपर22सितंबरकोसुनवाईहोनीहै।इसआवेदनमेंवकीलनेकहाहैकि"इसबातकाकोईखतरानहींहैकिवहन्यायकीप्रक्रियासेबचनिकलेंगे।"आवेदनमेंकहागयाहै,"आवेदककीसमाजमेंगहरीजड़ेंहैंऔरवहसम्मानितवरिष्ठपत्रकारहैं।उनकीपत्नीदिल्लीविश्वविद्यालयकेवेकेंटश्वरकॉलेजमेंअसोसिएटप्रोफेसरहैं।"उसमेंकहागयाहै,"किसीगवाहकोप्रभावितकरनेयासबूतोंकेसाथछेड़छाड़करनेकाकोईखतरानहींहै।जांचमेंआवदेककोहिरासतमेंलेकरपूछताछकरनेकीजरूरतनहींहोगी।जबभीनिर्देशितकियाजाएगावहजांचमेंशामिलहोसकतेहैं।"उसमेंकहागयाहैकिआरोपी61वर्षकेहैंऔरसाइनसकीगंभीरपरेशानीसेजूझरहेहैं।उन्हेंनेब्युलाइज़रसेदवालेनेकीजरूरतहोतीहै।जमानतआवेदनमेंकहागयाहै,"उनके(साइनसके)दोऑपरेशनहोचुकेहैं।इसीवजहसेउन्हेंकोविड-19काज्यादाखतराहै।वहउक्तरक्तचापकेभीमरीजहैंऔरवह10सालसेइसकीदवाईलेरहेहैं।"पुलिसनेआरोपलगायाहैकिपत्रकारनेरिपोर्टोंकीशक्लमेंकईदस्तावेजोंकोचीनीखुफियाअधिकारियोंकोभेजाहैऔरबदलेमेंउन्हेंअच्छीरकममिलीहै।