पर्यटक क्षेत्र के रूप में विकसित हो सिकटिया

संवादसहयोगीचितरा:चितराकेग्रामीणइलाकेमेंस्थितअजयबराजसिकटियामेंपर्यटनकीअपारसंभावनाएंहैं।इसेपर्यटकस्थलकेरूपमेंविकसितकरनेकीमांगजोरपकड़नेलगीहै।अजयबराजसिकटियामेंइनदिनोंमेहमानबनकरविदेशीपक्षीआनेलगेहैं।उनकेलिएमौसमअनुकूलरहनेतकयहांकेजलमेंअठखेलियांकरतेनजरआतेहैं।सारठकरमाटांड़सड़कमार्गमेंगुजरनेवालेलोगयहांकेआकर्षकनजारेदेखकरघंटेदोघंटेतकरुकतेहैं।हजारोंलोगयहांप्रतिवर्षनववर्षकेप्रारंभमेंपिकनिककरनेआतेहैं।यहबराजमत्स्यउत्पादनक्षेत्रकेरूपमेंभीविकसितहोरहाहै।कईवर्षपूर्वयहांपर्यटकभवनबनायागया।लेकिनरखरखावनहींहोनेसेयहजर्जरहोनेलगाहै।पर्यटनकीअपारसंभावनाओंकोदेखतेहुएइसेपर्यटकस्थलकेरूपमेंविकसितकरनेकीमांगकईवर्षोंसेकीजारहीहै।दुमकाकेपूर्वसांसदसंप्रतिभाजपाविधायकदलकेनेताबाबूलालमरांडी,तत्कालीनमुख्यमंत्रीअर्जुनमुंडा,उपमुख्यमंत्रीसुदेशमहतो,मंत्रीहरिनारायणरायसमेतकईमंत्रियोंकाआगमनयहांहुआहै।सबकेसमक्षइसेपर्यटनस्थलकेरूपमेंविकसितकरनेकीमांगउठतीरहीहै।रणवीरसिंह,आशुतोषसिंह,बहससिंहसमेतदर्जनोंलोगोंकाकहनाहैकिहेमंतसरकारकोइसस्थानकोपर्यटनस्थलकेरूपमेंविकसितकरनाचाहिए।इससेसैलानियोंकाआगमनहोगा।रोजीरोजगारकेनएअवसरपैदाहोंगे।लेकिनकईबारइसओरध्यानदिलानेकेबादभीसरकारकाध्यानहीनहींहै।लंबेअरसेसेयहमांगकीजारहीहै।ग्रामीणोंकाकहनाहैकिसरकारकायहीउदासीनरवैयारहातोआगेआंदोलनकारुखअख्तियारकियाजाएगा।