प्रतिनियुक्ति से वापस लाए जाएंगे तीन आइएएस अधिकारी

राज्यब्यूरो,शिमला:प्रदेशसरकारनेतीनआइएएसअधिकारियोंकोप्रतिनियुक्तिसेहिमाचलवापसलानेकेलिएकेंद्रीयकार्मिकविभागकोपत्रलिखाहै।तीनोंआइएएसअधिकारियोंकोप्रतिनियुक्तिपरकरीबसातसालहोनेलगेहैं।येअधिकारीवापसआनेकानामनहींलेरहेहैं।

हिमाचलप्रदेशकाडरकीआइएएसअधिकारीमीरामोहंतीप्रधानमंत्रीकार्यालयमेंनिदेशकहैं।सुभाषीशपांडानईदिल्लीस्थितएम्समेंउपनिदेशक(प्रशासनिक)पदपरसेवारतहैं।आरडीनजीमचेन्नईस्थितभारतीयखाद्यनिगममेंकार्यकारीनिदेशक(दक्षिण)पदपरसेवाएंदेरहेहैं।इनतीनोंअधिकारियोंकाप्रतिनियुक्तिविस्तारमार्चमेंखत्महोरहाहै।ऐसालगताहैकिराज्यसेबाहरप्रतिनियुक्तिपरगएसरकारकेभारतीयप्रशासनिकसेवाकेअधिकारियोंकावापसआनेकामननहींहै।सुभाशीषपांडा,मीरामोहंतीवआरडीनजीमकईबारप्रतिनियुक्तिविस्तारप्राप्तकरचुकेहैं।

प्रतिनियुक्तिपरजानेकेलिएपर्यटनविभागकेनिदेशकआइएएसअधिकारीयूनुसवपंचायतीराजएवंग्रामीणविकासविभागकेनिदेशकललितजैननेआवेदनकियाहै।इनअधिकारियोंनेपड़ोसीराज्यपंजाबमेंप्रतिनियुक्तिपरजानेकीइच्छाजाहिरकीहै।मानाजारहाहैकिदोनोंआइएएसअधिकारीकिसीभीसमयप्रतिनियुक्तिपरजासकतेहैं।इसकेअतिरिक्तप्रधानसचिवकेकेपंत,सामान्यप्रशासनविभागकेसचिवदेवेशकुमारभीप्रतिनियुक्तिपरजासकतेहैं।ऐसीजानकारीहैकिइनअधिकारियोंनेभीप्रतिनियुक्तिपरजानेकेलिएआवेदनकियाहै।

---------प्रतिनियुक्तिअवधिपांचसाल

किसीभीआइएएसअधिकारीकेलिएप्रतिनियुक्तिकीअवधिपांचसालहोतीहै।इसकेबादसरकारआइएएसअधिकारीकेप्रतिनियुक्तिविस्तारकेआग्रहकोस्वीकारयाअस्वीकारकरसकतीहै।

-------------येअधिकारीहैंप्रतिनियुक्तिपर

प्रतिनियुक्तिपरनईदिल्लीस्थितकेंद्रसरकारवदेशकेकईराज्योंमेंसेवारतआइएएसअधिकारियोंमेंसुभाषीशपांडा,मीरामोहंती,आरडीनजीम,मनीषगर्गवडॉ.अमनदीपगर्गशामिलहैंजिन्हेंपांचसालयाइससेअधिककाकार्यकालहोचुकाहै।डा.अमनदीपगर्गकैबिनेटसचिवालयमेंसंयुक्तसचिवहैं।वहवर्ष2016सेप्रतिनियुक्तिपरहैं।मनीषगर्गशिक्षामंत्रालयकेस्कूलशिक्षाएवंसाक्षरताविभागमेंसंयुक्तसचिवपदपरसेवाएंदेरहेहैं।वहवर्ष2015सेप्रतिनियुक्तिपरहैं।

नाम,कबसेप्रतिनियुक्तिपर,कहां

सुभाषीशपांडा,2012,एम्सनईदिल्ली

मीरामोहंती,2012,पीएमओनईदिल्ली

आरडीनजीम,2014,एफसीआइचेन्नई

मनीषगर्ग,2015,संयुक्तसचिवभारतसरकारनईदिल्ली

डा.अमनदीपगर्ग,2016,संयुक्तसचिवकैबिनेटसचिवालयनईदिल्ली

-----------नएवित्तवर्षमेंहमेंकुछआइएएसअधिकारीप्रतिनियुक्तिसेवापसमिलसकतेहैं।जिनआइएएसअधिकारियोंकाकार्यकालपूराहोचुकाहै,उन्हेंवापसबुलानेकेलिएसरकारकीओरसेकेंद्रीयकार्मिकविभागकोपत्रलिखागयाहै।

अनिलखाची,मुख्यसचिव