प्रशासन का दावा ध्वस्त, 41 सेंटरों पर शुरू नहीं हो सकी खरीद

जेएनएन,बदायूं:कोरोनामहामारीमेंसारेदावेध्वस्तहोगएहैं।कागजोंमेंपहलीअप्रैलसेहीगेहूंखरीदशुरूकीजाचुकीहै,लेकिनधरातलपरस्थितिबेहदखराबहै।121में41सेंटरोंपरअभीखरीदहीशुरूनहींहोसकीहै।अधिकारियोंकेनिरीक्षणकेदौरानसेंटरबंदमिलेथे,सख्तनिर्देशकेबादभीकेंद्रक्रियाशीलनहींकराएजासके।

जिलेके80क्रयकेंद्रोंपरगुरुवारको1689मीट्रिकटनगेहूंकीखरीदहुईहै।अबतक1779किसानोंसे8778एमटीगेहूंकीखरीदकीजाचुकीहै।दावाकियाजारहाहैकिखरीदकेतीनदिनकेभीतरकिसानोंकेखातोंमेंभुगतानकरदियाजारहाहै।अधिकारीपंचायतचुनावकेमतदानमेंव्यस्तरहेऔरअबकोरोनासंक्रमितचलरहेहैं।इनहालातोंमेंगेहूंखरीदमेंमाफियासक्रियहोगएहैं।क्रयकेंद्रोंपरजिम्मेदारोंकीमिलीभगतसेबिचौलियागेहूंतौलकरालेरहेहैं,जबकिसामान्यकिसानपरेशानहोरहेहैं।डिप्टीआरएमओप्रकाशनारायणकाकहनाहैकिसेंटरोंपरपंजीकृतकिसानोंकाहीगेहूंखरीदाजारहाहै।समयसेभुगतानभीकरायाजारहाहै।बिल्सीगेहूंक्रयकेंद्रपरहुई150क्विंटलखरीद

संस,बिल्सी:नगरकेमंडीसमितिस्थितगेहूंक्रयकेंद्रपरगुरुवारको150क्विंटलगेहूंकीतौलहुई।यहांगेहूंकीखरीदठपपड़ीथी।दोदिनोंसेगेंहूखरीदशुरूहोजानेसेकिसानभीराहतकीसांसलेरहेहैं।क्रयकेंद्रप्रभारीविजयदीपनेबतायाकि35किसानटोकनलेकरगएहैं।नियमितखरीदचलेगी,किसानोंकाअधिकसेअधिकगेहूंखरीदाजाएगा।उन्होंनेकहाकिजिनकिसानोंनेपंजीकरणनहींकरायाहैवहपंजीकरणजरूरकरालें।

बिसौलीमें22दिनमेंमहज262क्विंटलखरीद

संस,बिसौली:नगरमें22दिनोंसेखुलेदोसरकारीगेहूंक्रयकेंद्रोंपरसिर्फ262क्विटलगेहूंकीहीखरीदकीगईहै।यहदोनोंकेंद्रमंडीसमितिमेंखुलेहैं।एककेंद्रमंडीसमितिकाहैतोदूसराभटपुरासहकारीसमितिका।जबकिक्षेत्रमेंअधिकांशगेहूंकीकटाईभीहोचुकीहै।यहबातसहीहैकिकिसानअभीतकपंचायतचुनावमेंव्यस्तथा,लेकिनफिरभीइतनीकमतौलहोनागलेनहींउतररहा।उससेबड़ीबाततोयहहैकियहलापरवाहीअधिकारियोंकीनाकतलेहोरहीहै।ऐसेमेंमानककेअनुरूपखरीदहोनाअसंभवदिखाईदेरहीहै।

किसानोंकीबात:

किसानकोअपनीअगलीफसलकेलिएभीधनकीजरूरतहोतीहै।इसलिएवहप्राइवेटदुकानोंपरगेहूंबेचनेकोमजबूरहैं।

-भगवानसरनसरकारभुगतानमेंकाफीदेरलगातीहै।अभीतकधानखरीदकारूपयातककिसानकेखातोंमेंनहींआयाहै।

किसानगरीबहै।जैसेतैसेतोउसकीमेहनतकाफलसामनेआताहै।इसकेबादपहाड़जैसीजरूरतेंपूरीकरनेकेलिएउसेरुपयेकीजरूरतहोतीहै।

किसानकोअपनीउपजकातत्कालनकदमूल्यचाहिए।उसकीजरूरतेंभीपूरीहोनीचाहिए।