प्रदूषण के जलजले से जंगल ही बचाएंगे

एआरएसआजाद,हाथरस:शनिवारकोविश्ववनदिवसहै।पर्यावरणीयस्थिरताऔरखाद्यसुरक्षामेंवनोंकाबहुतमहत्वहै।विश्ववनदिवसमनानेकामुख्यउद्देश्यवनसंरक्षणकेप्रतिलोगोंकोजागरूककरनेकेसाथवनोंकेस्थाईप्रबंधनवउनकेविकासकोमजबूतबनानेकीआवश्यकताहै।जिसतरहआजपेड़ोंकाकटानहोरहाहै,उसकेदुष्परिणामजल्दहीसामनेहोंगे।ऐसेमेंपौधारोपणकेसहारेसरकारऔरआमजनपर्यावरणकोसंवारनेमेंलगेहुएहैं।

औद्योगिकीकरणकेचलतेजंगलोंकीकटाईव्यापकस्तरपरकटाईकीजारहीहै।इसकेचलतेपेड़-पौधोंऔरजीव-जंतुओंकीदुर्लभप्रजातियांतेजीसेविलुप्तहोरहीहैं।ग्लोबलवाíमंगकेतेजीसेबढ़नेसेपर्यावरणऔरप्रकृतिकासंतुलनभीबिगड़रहाहै।इसकेलिएवनविभागद्वाराप्रतिवर्षपौधारोपणकरपर्यावरणसंतुलनकोबनानेकाप्रयासहोरहाहै।

हाथरसमेंवनक्षेत्रकीस्थिति

जनपदमेंकरीब1615.611हेक्टेयरभूमिवनविभागकेलिएआरक्षितहै।वनोंकेअलावाचरागाह,पशु-पक्षीआश्रयस्थल,जलाशयआदिकेलिएआरक्षितहैं।इसमेंपौधारोपणकेलिएपौधआदितैयारकरनेकेलिएनर्सरीआदिभीबनाईगईहैं।विभिन्नप्रजातिकेपौधारोपणकरऊसरजमीनकोउपजाऊबनानेकाकार्यवनविभागकररहाहै।

तीनसालमेंकिएगएपौधारोपणकीस्थितिवर्ष,वनविभागकेपौधे,अन्यविभागोंसहितकुलपौधे

2017,1,89500,3,701602018,4,04070,10,63725

16.59लाखपौधेरोपनेकालक्ष्य

वनविभागद्वारापौधारोपणकोबढ़ावादेनेकेलिएइससालकरीबनर्सरीमेंलक्ष्यकेअनुरूपपौधतैयारकराईजारहीहै।2020मेंवनविभागद्वाराकरीब292हेक्टेयरभूमिपर5लाख59हजारपौधेरोपितकिएजाएंगे।अन्यविभागवसमाजसेवीसंगठनोंकेद्वाराभी11लाखपौधेलगाएजानेहैं।इसतरहकुल16.59लाखकेकरीबपौधारोपणकालक्ष्यरहेगा।वहींएकपेड़काटनेकेलिएउसकेस्थानपरदसपेड़लगानेकाप्रावधानवनविभागद्वाराकररखाहै।

हरियालीकेएकमुहिम

सादाबादनिवासीअवतारअग्रवालवनोंकोबढ़ावादेनेकेलिएमुहिमछेड़ेहुएहैं।उन्होंनेअपनेघरकेआस-पासवखेतोंपरविभिन्नप्रजातियोंकेपौधेलगाकररखेहैं।इसकेअलावावहलोगोंकोजागरूककरतेहुएकरीबहजारोंपौधोंकारोपणअपनेक्षेत्रमेंकराचुकेहैं।अवताररोपितपौधेकेपेड़बननेतकउसकीदेखभालकेलिएभीलोगोंकोजागरूककरतेहैं।वर्जन

पौधोंकोलगानेकेसाथउनकासंरक्षणभीजरूरीहै।प्राकृतिकसंतुलनबनानेकेलिएवृक्षोंकाहोनाबहुतजरूरीहै।इससेपर्यावरणकेसाथजीवधारियोंकाजीवनभीसुरक्षितरहताहै।पौधोंकापालनअपनेबच्चोंकीतरहकरनाचाहिए।इनकेआस-पासरहनेसेहरियालीकेसाथसुकुनभीमिलताहै।

-मनोजशुक्ला,प्रभागीयवनाधिकारी