प्रदर्शनकारी किसानों ने कहा, हमारे एनआरआई रिश्तेदार आर्थिक सहायता करने के इच्छुक

(कुणालदत्त)नयीदिल्ली,छहदिसंबर(भाषा)नएकृषिकानूनोंकेखिलाफदिल्ली-हरियाणाकीसीमापरविरोध-प्रदर्शनकररहेकिसानोंनेदावाकियाकिवेअपनेआंदोलनकोजारीरखनेकेलिएखुदहीसक्षमहैं।वहीं,कुछप्रदर्शनकारीकिसानोंनेकहाकिविरोधकोजारीरखनेकेलिएउनकेअप्रवासीभारतीय(एनआरआई)रिश्तेदारोंनेभीमददकाभरोसादियाहै।पंजाबकेविभिन्नहिस्सोंसेआएप्रदर्शनकारीकिसानदिल्लीकेसिंघुऔरटीकरीबॉर्डरपरडेराडालेहुएहैंऔरअपनीमांगोंकोमनवानेकेलिएठंडमेंभीरातेंसड़कोंपरगुजाररहेहैं।किसानफल,सब्जियोंऔरअन्यआवश्यकघरेलूसामानोंकोलेकरविरोधस्थलपरपहुंचेहुएहैं।कुछस्थानीयनिवासियोंऔरस्वयंसेवीसंगठनोंकेकार्यकर्ताओंकेअलावासिंघुबॉर्डरकेपासस्थितगुरुद्वारेकेसदस्यप्रदर्शनकारियोंकोराशनसंबंधीवस्तुओंकीपेशकशकररहेहैं।पंजाबकीकिसानसंघर्षसमितिसेजुड़ेनौनिहालसिंहनेकहा,''मेरेपरिवारकेएकसदस्यकनाडामेंरहतेहैंऔरउन्होंनेमुझेकोषसमेतअन्यकिसीभीतरहकीहरसंभवसहायताकेलिएअपनासमर्थनजतानेकेवास्तेफोनकिया।तरनतारनस्थितहमारेगांवकेकईलोगोंकेएनआरआईरिश्तेदारहैंजिन्होंनेअपनासमर्थनजतायाहै।''उन्होंनेकहा‘‘पंजाबकेकिसानभारतमेंखेतीकरतेहैंलेकिनहमारेपरिवारकेसदस्यपूरेविश्वमेंफैलेहुएहैं।''अपनीएसयूवीकारमेंबैठकरमोबाइलफोनचार्जकररहेत्रिलोचनसिंहसफरी(54)नेकहा,''पंजाबनेकिसानकेतौरपरयास्वतंत्रतासेनानीकेतौरपरहमेशाभारतकेलिएसंघर्षकिया।भगतसिंहनेआजादीकेलिएअपनीजानकुर्बानकरदीऔरपंजाबकायुवादेशभरकेसशस्त्रबलोंमेंशामिलहै।कुछलोगहमेंआतंकवादीकीतरहपेशकररहेहैं।क्याइसकेलिएहीहमारेपूर्वजोंनेसंघर्षकिएथे?''उन्होंनेकहाकिपंजाबसेआएबहुतसेप्रदर्शनकारीकिसानसमृद्धहैंलेकिनवेअन्यकिसानोंकेसाथएकजुटतादिखानेकेलिएयहांआएहैं।